ताज़ा खबर
 

महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली से ये बातें सीखना चाहती हैं पीवी सिंधू

पीवी सिंधू ने कहा, ''आप धोनी और कोहली से बहुत कुछ सीख सकते हैं। अलग खेल में होने के बावजूद उनसे बहुत कुछ सीखने को मिलता है। आक्रामकता, खेलने का अंदाज, धोनी और कोहली में देखने को बहुत कुछ है।''

पीवी सिंधू ने कहा कि अगर उन्‍हें डबल्‍स के लिए पार्टनर चुनना होगा तो वे धोनी या विराट में से एक को चुनेंगी। (Photos: PTI)

भारत की बैडमिंटन स्‍टार पीवी सिंधू को अगर मौका मिले तो वे भरतीय क्रिकेट टीम के कप्‍तान विराट कोहली और पूर्व कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी को डबल्‍स में अपना पार्टनर बनाना चाहेंगी। इंडियन प्रीमियर लीग 2018 में लीग चरण में सनराइजर्स हैदराबाद के आखिरी घरेलू मुकाबले में सिंधू ने यह बात कही। कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ 19 मई को हुए मुकाबले को देखने सिंधू हैदराबाद के राजीव गांधी अंतरराष्‍ट्रीय स्‍टेडियम पहुंची थीं। यहां पर टेलीविजन प्रजेंटर से बातचीत में सिंधू ने कहा कि भले ही कोहली और धोनी अलग खेल खेलते हैं, मगर वह उनसे बहुत कुछ सीखना चाहती हैं।

सिंधू ने कहा, ”मैं भारतीय क्रिकेट टीम के बेस्‍ट खिलाड़‍ियों में से एक को डबल्‍स का पार्टलर चुनूंगी। मैं नहीं जानती कि वे सब कैसा खेलते हैं। आप धोनी और कोहली से बहुत कुछ सीख सकते हैं। अलग खेल में होने के बावजूद उनसे बहुत कुछ सीखने को मिलता है। आक्रामकता, खेलने का अंदाज, धोनी और कोहली में देखने को बहुत कुछ है।”

सिंधू ने बताया कि जब वह हैदराबाद में होती हैं तो सनराइजर्स का समर्थन करने आती हैं। उन्‍होंने कहा, ”जब मैं बैडमिंटन नहीं खेल रही होती और हैदराबाद में होती हूं तो मैच देखने जरूर आती हूं। पिछली बार भी मैं यहां थी और इस बार भी। और चूंकि आज शनिवार है, इसलिए मैं यहां एंज्‍वॉय करने आई हूं।”

हालांकि सिंधू को निराश होकर घर लौटना पड़ा क्‍योंकि कोलकाता ने सनराइजर्स पर 5 विकेट से जीत दर्ज कर टूर्नामेंट के प्‍ले-ऑफ में जगह बना ली। हैदराबाद ने पहले बल्लेबाजी करते हुए शिखर धवन (50) के अर्धशतक के दम पर कोलकाता के सामने 173 रनों की चुनौती रखी जिसे मेहमान टीम ने दो गेंद शेष रहते हुए पांच विकेट खोकर हासिल कर लिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App