These were the reason why team india lost pune test-इन कारणों से अॉस्ट्रेलिया के आगे पुणे टेस्ट में पस्त हो गई टीम इंडिया - Jansatta
ताज़ा खबर
 

इन कारणों से अॉस्ट्रेलिया के आगे पुणे टेस्ट में पस्त हो गई टीम इंडिया

साल 2012 के बाद यह पहला मौका है जब भारत घर में कोई टेस्ट मैच हारा हो।

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली।

पुणे टेस्ट में अॉस्ट्रेलिया ने भारत को 333 रनों से शिकस्त दी। भारत को जीत के लिए 441 रनों का विशाल लक्ष्य मिला था, जिसके जवाब में पूरी भारतीय टीम 107 पर अॉलआउट हो गई। साल 2012 के बाद यह पहला मौका है जब भारत घर में कोई टेस्ट मैच हारा हो। इससे पहले जब अॉस्ट्रेलिया ने भारत का दौरा किया था, तो उसे 4-0 से शिकस्त झेलनी पड़ी थी। आपको बताते हैं वो कारण जिनके कारण भारत को पुणे टेस्ट में हार नसीब हुई।

ज्यादा आत्मविश्वास: भारत ने लगातार 6 टेस्ट सीरीज जीती और कई बड़ी टीमों को मात दी। अॉस्ट्रेलिया ने अपने इरादे साफ कर दिए थे। लेकिन शायद टीम इंडिया ने उन्हें ज्यादा गंभीरता से नहीं लिया। रणनीति को लेकर भी कुछ साफ नहीं दिखा। अॉस्ट्रेलिया की फिरकी में भारती बल्लेबाज बहुत आसानी से फंस गए। मैच से पहले स्लेजिंग और कई अन्य बातें कहकर अॉस्ट्रेलियाई टीम के सदस्यों ने भारतीय टीम को फंसाए रखा।

नहीं चले बल्लेबाज: भारतीय बल्लेबाजों ने इस मैच में बदतर प्रदर्शन किया। स्पिन खेलने में महारथी माने जाने वाले भारतीय बल्लेबाज कीफी और लॉयन का सामना नहीं कर पाए। 7 बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू सके। पूरे मैच में भारत की तरफ से सिर्फ केएल राहुल ने ही अर्धशतक लगाया। भारत की बल्लेबाजी शुरुआत से ही ताश के पत्तों की तरह ढहती चली गई। किसी भी बल्लेबाज ने टिककर अॉस्ट्रेलियाई गेंदबाजों का सामना नहीं किया।

भारत- ऑस्ट्रेलिया के बीच 5 टॉप स्लेजिंग मोमेंट्स:

कीफी-लायन की शानदार गेंदबाजी: पिच से स्पिनर्स को भरपूर मदद मिल रही थी। इसका पूरा फायदा अॉस्ट्रेलियाई गेंदबाज ओ कीफी और नाथन लायन ने उठाया। जबकि भारतीय गेंदबाज सही समय पर अॉस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों का आउट करने में नाकाम रहे। कीफी ने पहली और दूसरी पारी में 6-6 विकेट झटके। दूसरी पारी में भारत की तरफ से सर्वाधिक 31 रन चेतेश्नवर पुजारा के बल्ले से आए।

यहां पढे़ं India vs Australia 1st Test, Live Cricket Score Updates

विराट कोहली के बारे में 10 ऐसी दिलचस्प बातें जो आप नहीं जानते होंगे, देखें वीडियो ः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App