ताज़ा खबर
 

Olympics 2016 पर Zika का असर, खेलगांव में ही रहेंगे खिलाड़ी

गैर ब्राजीली खिलाड़ी तो सामान के साथ ढेर सारे मच्छर मारक (मॉस्किटो रेपेलेंट) लाने, होटल के कमरों में रहने और समुद्र तट से किनारा करने का मन बना चुके हैं।

Author रियो डे जेनेरियो | February 2, 2016 12:02 AM
Rio de Janeiro for the 2016

ब्राजील की महिला पहलवान एलाइन सिल्वा को दो बार डेंगू हो चुका है और रियो ओलंपिक में पदक की दावेदार यह खिलाड़ी जीका वायरस को लेकर कोई कोताही नहीं बरतना चाहती।

सिर्फ सिल्वा ही नहीं बल्कि लगभग सभी खिलाड़ी इसे लेकर चिंतित हैं। गैर ब्राजीली खिलाड़ी तो सामान के साथ ढेर सारे मच्छर मारक (मॉस्किटो रेपेलेंट) लाने, होटल के कमरों में रहने और समुद्र तट से किनारा करने का मन बना चुके हैं।
ब्राजील से ही मच्छर जनित जीका वायरस तेजी से फैला है। इसका असर रियो ओलंपिक पर भी पड़ सकता है और कई खिलाड़ी तथा खेल प्रेमी खेलों के इस महाकुंभ से कन्नी काट सकते हैं।

सिल्वा ने कहा, ‘मैं इसे लेकर बहुत चिंतित हूं। रेपेलेंट के बिना मैं अभ्यास नहीं कर सकती। मुझे दो बार डेंगू हो चुका है और मैं इससे वाकिफ हूं।’ तीन बार की विश्व चैम्पियन और ओलंपिक में गोल्ड मेडल की दावेदार अमेरिकी महिला पहलवान एडेलिन ग्रे ने कहा, ‘यदि मैं गर्भवती होती तो मेरे लिए यह बहुत चिंता की बात होती और फिर मैं रियो ओलंपिक में भाग नहीं लेती।’

उसने कहा कि उनके कोचों ने ब्राजील में तैराकी से भी मना किया है। उसने कहा, ‘हम बाहर ज्यादा समय नहीं बिता पा रहे। लंबी बाजू के कपड़े पहन रहे हैं और कमरों में छिड़काव कर रहे हैं।’
रियो खेलों के प्रवक्ता मारियो आंद्रादा ने कहा कि पांच अगस्त को खेलों के आगाज तक रोज मुआयना होगा। उस समय ब्राजील में सर्दी का मौसम होगा और ठंड की वजह से मच्छर ज्यादा नहीं पनपेंगे।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App