ताज़ा खबर
 

CWC 2015: टीम इंडिया में भुवनेश्वर की फिटनेस को लेकर चिंता

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ रविवार को होने वाले विश्व कप के दूसरे पूल मैच से पहले भुवनेश्वर कुमार की फिटनेस भारतीय क्रिकेट टीम की चिंता का सबब बनी हुई है क्योंकि यहां आज नेट अभ्यास के दौरान यह तेज गेंदबाज सहज नजर नहीं आया। भुवनेश्वर को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला की शुरुआत से पहले […]

Author February 18, 2015 4:16 PM
अब तक 12 टेस्ट, 44 वनडे और नौ टी20 खेल चुके भुवनेश्वर पहली बार फिटनेस समस्या से जूझ रहे हैं। (फ़ोटो-एपी)

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ रविवार को होने वाले विश्व कप के दूसरे पूल मैच से पहले भुवनेश्वर कुमार की फिटनेस भारतीय क्रिकेट टीम की चिंता का सबब बनी हुई है क्योंकि यहां आज नेट अभ्यास के दौरान यह तेज गेंदबाज सहज नजर नहीं आया।

भुवनेश्वर को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला की शुरुआत से पहले टखने में चोट लगी थी। वह सिर्फ सिडनी में आखिरी टेस्ट खेल सके लेकिन लय हासिल करने के लिये जूझते नजर आये।

धवल कुलकर्णी को टीम के अतिरिक्त सदस्य के रूप में रखा गया है। अभ्यास के दौरान उमेश यादव, मोहम्मद शमी और मोहित शर्मा ने तेजी से रनअप लिया लेकिन भुवनेश्वर असहज लग रहे थे। गेंदबाजी करते समय भी वह महेंद्र सिंह धोनी और अंबाती रायुडू को परेशान नहीं कर सके।

मैदान पर बीचोबीच एक पिच थी और एक कॉर्नर पर चार नेट्स आसपास थे। खिलाड़ियों ने पहले कॉर्नर पर अभ्यास किया और फिर बीच में आये। भुवनेश्वर पहले कॉर्नर नेट पर गए और कुछ देर बल्लेबाजी की। उन्होंने यादव का सामना किया और 25 मिनट नेट पर बिताने के बाद उन्होंने शॉर्ट रनअप के साथ गेंदबाजी की।

उमेश, शमी और मोहित ने मुख्य नेट पर गेंदबाजी की लेकिन भुवनेश्वर एक कॉर्नर पर खड़े रहे। वह अपने साथी गेंदबाजों को अभ्यास करते देखते रहे और लग रहा था कि वह गेंदबाजी नहीं करेंगे। उन्होंने हालांकि रायुडू, धोनी और अश्विन को गेंदबाजी की। रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली और सुरेश रैना को बाकियों ने गेंदबाजी की।

यादव ने नेट पर जहां धोनी और कोहली को अपनी रफ्तार से परेशान किया वहीं शमी ने कुछ शॉर्ट गेंदें डाली। भुवनेश्वर सही लैंग्थ हासिल नहीं कर सके और उनकी गेंद एक गज पीछे पड़ रही थी। धोनी से लेकर अश्विन तक सभी ने उनकी गेंद पर पूल शॉट खेले।

रायुडू ने उन्हें स्क्वेयर लेग पर शॉट लगाया। सबसे निराशाजनक बात यह थी कि भुवनेश्वर के पास वह रफ्तार भी नजर नहीं आई जो एक साल पहले हुआ करती थी। उसने करीब 50 गेंद डाली लेकिन बल्लेबाज को परेशान नहीं कर सके।

अब तक 12 टेस्ट, 44 वनडे और नौ टी20 खेल चुके भुवनेश्वर पहली बार फिटनेस समस्या से जूझ रहे हैं। उनके सीनियर रहे पूर्व तेज गेंदबाज प्रवीण कुमार ने उन्हें सलाह दी थी,‘‘चूंकि भुवी तीनों प्रारूप खेलता है तो उसे फिटनेस पर ज्यादा मेहनत करनी होगी। वरना उसे परेशानी हो सकती है।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App