Team India Will Be Strong In Coming Days Michael Hussey - Jansatta
ताज़ा खबर
 

आने वाले वर्षों में बेहद मजबूत होगी यह भारतीय टीम: माइकल हसी

भारत की वर्तमान क्रिकेट टीम को पिछले तीन महीनों में बहुत अधिक तारीफ सुनने को नहीं मिली लेकिन ऑस्ट्रेलिया के पूर्व वामहस्त बल्लेबाज माइकल हसी का मानना है कि यह टीम आने वाले समय में बेहद मजबूत बन जाएगी। हसी ने पीटीआई से खास साक्षात्कार में कहा, ‘‘भारत एक रोमांचक टीम है और मैंने इन […]

Author February 17, 2015 4:18 PM
हसी ने कहा कि अभी से विजेता की भविष्यवाणी करना मुश्किल है लेकिन उनका दिल चाहता है कि ऑस्ट्रेलिया चैंपियन बने। (ऱॉयटर्स फ़ाइल फ़ोटो)

भारत की वर्तमान क्रिकेट टीम को पिछले तीन महीनों में बहुत अधिक तारीफ सुनने को नहीं मिली लेकिन ऑस्ट्रेलिया के पूर्व वामहस्त बल्लेबाज माइकल हसी का मानना है कि यह टीम आने वाले समय में बेहद मजबूत बन जाएगी।

हसी ने पीटीआई से खास साक्षात्कार में कहा, ‘‘भारत एक रोमांचक टीम है और मैंने इन गर्मियों में उसे खेलते हुए देखने का पूरा आनंद लिया। इस टीम में काफी प्रतिभा है और मुझे पूरा विश्वास है कि आने वाले समय में यह बहुत मजबूत टीम होगी।’’

लेकिन जब विश्व कप के सेमीफाइनल में पहुंचने वाली टीमों का जिक्र आता है कि ‘मिस्टर क्रिकेट’ की सूची में महेंद्र सिंह धोनी की टीम शामिल नहीं होती है। ऑस्ट्रेलिया की 2007 की विश्व चैंपियन टीम के सदस्य हसी ने कहा, ‘‘मेरे हिसाब से ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, दक्षिण अफ्रीका और श्रीलंका को सेमीफाइनल में पहुंचना चाहिए।’’

अन्य से उलट हसी का मानना है कि शॉर्ट पिच गेंदों का सामना करना भारतीय बल्लेबाजों की कमजोरी नहीं है। उन्होंने कहा, ‘‘भारतीय टीम के वर्तमान खिलाड़ियों ने शॉर्ट पिच गेंदों से निबटना अच्छी तरह से सीख लिया है। टेस्ट श्रृंखला में मैंने ऐसा देखा।’’

हसी पर्थ के वाका में खेलते हुए बड़े हुए और उनके विचार में भारतीय बल्लेबाजों को अच्छी उछाल वाली इस पिच पर बल्लेबाजी करने में मजा आएगा। भारत को पर्थ में संयुक्त अरब अमीरात और वेस्टइंडीज के खिलाफ मैच खेलने हैं।

हसी ने कहा, ‘‘मैं नहीं चाहूंगा कि वे (भारतीय) अपनी रणनीति में बहुत बदलाव करें। अपने दिमाग को साफ रखें और अपना स्वाभाविक खेल खेलें। एक बार आप पहली 20 गेंद खेल लेते हो तो फिर वाका विश्व में बल्लेबाजी के लिये सबसे अच्छा स्थान है क्योंकि आप तेजी से रन बना सकते हो।’’

हसी से पूछा गया कि ऑस्ट्रेलियाई दौरे के दौरान किस भारतीय खिलाड़ी ने उनका ध्यान खींचा, उन्होंने कहा, ‘‘मैं टेस्ट श्रृंखला में मुरली विजय और अजिंक्य रहाणे के प्रदर्शन से काफी प्रभावित हुआ।’’

अपने करियर में 79 टेस्ट और 185 वनडे खेलने वाले हसी हालांकि विश्व क्रिकेट के दो स्टार खिलाड़ियों स्टीवन स्मिथ और विराट कोहली के बीच तुलना करने को तैयार नहीं थे। उन्होंने कहा, ‘‘मेरे लिये टिप्पणी करना मुश्किल है क्योंकि मैं इनमें से किसी की भी कप्तानी में नहीं खेला। वे दोनों काफी सकारात्मक व्यक्ति लगते हैं।’’

हसी इस बात से सहमत नहीं थे कि अनिवार्य बल्लेबाजी पावरप्ले के दौरान भारत और श्रीलंका जैसी उपमहाद्वीपीय टीमों को ऑस्ट्रेलिया के बड़े मैदानों के कारण नुकसान उठाना पड़ता है। उन्होंने कहा, ‘‘नहीं। मैं इससे अहसमत हूं। अनिवार्य बल्लेबाजी पावरप्ले के दौरान अधिक से अधिक रन बनाने के कई तरीके हैं। मैं इससे सहमत हूं कि लंबे शॉट खेलने वाले बल्लेबाजों से मदद मिलती है लेकिन आपके पास स्मार्ट खिलाड़ी भी होने चाहिए जो खाली स्थानों पर अच्छे शॉट खेल सकें।’’

हसी ने कहा कि अभी से विजेता की भविष्यवाणी करना मुश्किल है लेकिन उनका दिल चाहता है कि ऑस्ट्रेलिया चैंपियन बने। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि ऑस्ट्रेलिया की अच्छी संभावना है लेकिन कई अन्य टीमें हैं जो विश्व कप जीत सकती हैं। अभी भविष्यवाणी करना बहुत जल्दबाजी होगी लेकिन जो टीम क्वार्टर फाइनल चरण में अच्छा प्रदर्शन करेगी और लय में होगी उसे हराना मुश्किल होगा।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App