ताज़ा खबर
 

सचिन तेंदुलकर ने किताब पढ़ते शेयर की बचपन की PIC, लिखा – इस फील्ड में कभी भी अच्छा स्कोरर नहीं था…

भारत की ओर से 463 वनडे खेलने वाले तेंदुलकर ने इस फॉर्मेट में 86.23 की स्ट्राइक के साथ 18,426 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने 49 शतक समेत 96 अर्धशतक भी जमाए।

बचपने में किताब के साथ पोज देते सचिन तेंदुलकर। (Photo Courtesy : Twitter)

विश्व के महानतम बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने हाल ही में अपने बचपन की एक अनदेखी तस्वीर ट्वीट की है, जिसमें नन्हे सचिन अपने हाथों में किताब लिए हुए पोज दे रहे हैं। ये तस्वीर तेजी से वायरल भी हो रही है, जिसपर 24 घंटों के अंदर 1,000 से ज्यादा कमेंट, 2200 से अधिक रीट्वीट और 23 हजार से ज्यादा लाइक्स आ चुके हैं। सचिन ने इसके कैप्शन में लिखा है, ‘इस फील्ड में मैं कभी भी अच्छा स्कोरर नहीं था…’

ये बात सभी फैंस जानते हैं कि क्रिकेट के भगवान नाम से मशहूर सचिन तेंदुलकर ने महज 14 साल की कम उम्र से ही खेलना शुरू कर दिया था, इसलिए उन्हें ज्यादा पढ़ाई का मौका नहीं मिला। सचिन ने बड़ी मुश्किल से 10वीं तक पढ़ाई पूरी की।

बता दें कि भारत की ओर से 463 वनडे खेलने वाले तेंदुलकर ने इस फॉर्मेट में 86.23 की स्ट्राइक के साथ 18,426 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने 49 शतक समेत 96 अर्धशतक भी जमाए। वहीं बात अगर टेस्ट की करें तो 200 मैचों में इस खिलाड़ी ने 51 शतक और 68 अर्धशतक की मदद से 15,921 रन बनाए। टेस्ट क्रिकेट में सचिन 2 हजार से ज्यादा चौके लगाने वाले इकलौते खिलाड़ी हैं। उन्होंने टेस्ट मैचों में 2058 चौके जड़े हैं।

1989 में डेब्यू करने से पहले सचिन को दो लोगों ने गाइड और सपोर्ट किया था। पहले थे उनके बड़े भाई अजीत और दूसरे कोच आचरेकर। बचपन में सचिन बहुत शरारती हुआ करते थे और यही दो लोग उन्हें वापस पटरी पर लाया करते थे। टीचर्स डे (5 सितंबर) के मौके पर ट्विटर पर आचरेकर को नमन करते हुए सचिन ने एक वीडियो पोस्ट किया था, जिसमें उन्होंने बताया था कि कैसे कोच रमाकांत आचरेकर की डांट ने उनकी जिंदगी बदल डाली थी…

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App