ताज़ा खबर
 

‘भारत फिर विश्व कप जीत सकता है’

भारत के विश्व कप विजेता कोच गैरी कर्स्टन का मानना है कि गत चैम्पियन टीम को चुका हुआ मान लेना जल्दबाजी होगी और महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में भारत फिर विश्व कप जीत सकता है। कर्स्टन ने कहा,‘‘भारतीय टीम बहुत अच्छी है और मैं उसे चुका हुआ नहीं कहूंगा। उनके पास बेहद सफल कप्तान […]

Author February 9, 2015 12:15 PM

भारत के विश्व कप विजेता कोच गैरी कर्स्टन का मानना है कि गत चैम्पियन टीम को चुका हुआ मान लेना जल्दबाजी होगी और महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में भारत फिर विश्व कप जीत सकता है।

कर्स्टन ने कहा,‘‘भारतीय टीम बहुत अच्छी है और मैं उसे चुका हुआ नहीं कहूंगा। उनके पास बेहद सफल कप्तान है और हम धोनी फैक्टर को अनदेखा नहीं कर सकते। उनके जीवन में कई चीजें बदल गई है लेकिन विश्व कप जैसे टूर्नामेंटों में वह सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में होता है।’’

उन्होंने यहां पत्रकारों से कहा,‘‘कई लोग भारत को प्रबल दावेदार नहीं मान रहे हैं लेकिन भारत की बल्लेबाजी काफी मजबूत है। भारत ने ऑस्ट्रेलिया में काफी क्रिकेट खेला है लिहाजा मैं उसे प्रबल दावेदारों में गिनूंगा।’’

उन्होंने कहा,‘‘यह टीम दो साल से साथ में है और चैम्पियंस ट्रॉफी जीती है। उन्हें हलके में नहीं लिया जा सकता।’’

कर्स्टन ने स्वीकार किया कि भारतीय टीम अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं कर रही है लेकिन कहा कि इससे उन्हें नॉकआउट दौर से पहले सर्वश्रेष्ठ 11 के चयन में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा,‘‘अभी वे फॉर्म में नहीं है लेकिन यह अच्छा भी हो सकता है। हमें इस पर ज्यादा तवज्जो नहीं देनी चाहिये। उनके पास सर्वश्रेष्ठ 11 का चयन करने का समय है।’’

उन्होंने यह भी कहा,‘‘यह अच्छा ही है कि भारत को लोग प्रबल दावेदार नहीं मान रहे हैं। इससे उस पर अपेक्षाओं का दबाव नहीं पड़ेगा और वे खुलकर खेल सकेंगे।’’

कर्स्टन ने कहा कि हरफनमौला रविंद्र जडेजा विश्व कप में भारत की कामयाबी की कुंजी होंगे। उन्होंने कहा,‘‘जडेजा टीम के लिये अहम है। यदि वह फिट और फॉर्म में हैं तो सफलता की कुंजी साबित हो सकते हैं।’’

उन्होंने यह भी कहा कि विराट कोहली को तीसरे नंबर पर ही उतरना चाहिये। उन्होंने कहा,‘‘वह चैम्पियन क्रिकेटर है। कुछ समय के लिये खराब फॉर्म में रहने से सीखने को मिलता है। कोच उसके साथ काम कर रहे हैं। वह विश्व कप में असल फैक्टर होगा। उसे तीसरे नंबर पर उतरना चाहिये क्योंकि उसमें बड़ी शतकीय पारियां खेलने की क्षमता है।’’

Next Stories
1 एमएस धोनी ने माना, हमारी बल्लेबाजी में गहराई की कमी
2 टीम इंडिया को झटका, चोटिल ईशांत शर्मा विश्व कप से बाहर
3 दबाव हम पर नहीं, पाकिस्तान पर होगा: रोहित शर्मा
ये पढ़ा क्या?
X