टी20 वर्ल्ड कप में एमएस धोनी के आड़े आ सकता है IPL, टीम इंडिया के मेंटोर बनने के लिए छोड़ना पड़ेगा CSK का साथ?

टी20 वर्ल्ड कप के लिए एमएस धोनी को टीम इंडिया का मेंटोर नियुक्त किया गया है। वहीं एमपीसीए के पूर्व सदस्य ने धोनी के खिलाफ हितों के टकराव का मामला उठाते हुए बीसीसीआई की शीर्ष परिषद को शिकायती पत्र भेजा है।

t20-world-cup-team-india-mentor-ms-dhoni-gets-into-conflict-of-interest-controversy-after-mpca-former-member-complaint
टी20 वर्ल्ड कप के लिए एमएस धोनी को टीम इंडिया के मेंटर बनाने पर उठा हितों के टकराव का मामला (Source: Indian Express)

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) द्वारा बुधवार को टी20 वर्ल्ड कप की टीम का चयन किया गया है। पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को आईसीसी इवेंट के लिए भारतीय टीम का मेंटर भी बनाया गया है। वहीं अब बोर्ड के इस फैसले पर विवाद खड़ा होता दिख रहा है। मध्य प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन (एमपीसीए) के पूर्व सदस्य संजीव गुप्ता ने बीसीसीआई की अपेक्स काउंसिल से इस मामले की शिकायत करते हुए हितों के टकराव का मामला उठाया है।

एमएस धोनी की नियुक्ति के खिलाफ बीसीसीआई से संजीव गुप्ता द्वारा शिकायत की गई है। इस शिकायत में लोढा समिति की सिफारिशों के अनुसार हितों के टकराव के नियमों का हवाला भी दिया गया है।

एमपीसीए के पूर्व सदस्य संजीव गुप्ता ने बीसीसीआई की शीर्ष परिषद के सदस्यों को एक पत्र भेजा है कि धोनी की नियुक्ति हितों के टकराव के नियमों का उल्लघंन है जिसमें एक व्यक्ति दो पदों पर काबिज नहीं हो सकता। गुप्ता पहले भी खिलाड़ियों और प्रशासकों के खिलाफ हितों के टकराव की कई शिकायतें दर्ज करा चुके हैं। आपको बता दें धोनी इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) फ्रेंचाइजी चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के कप्तान भी हैं।

बीसीसीआई के एक अधिकारी ने पीटीआई से कहा है कि, “हां, गुप्ता ने शीर्ष परिषद के सदस्यों को एक पत्र भेजा है जिसमें सौरव गांगुली और जय शाह शामिल हैं। उन्होंने बीसीसीआई के संविधान की धारा 38 (4) का हवाला दिया है जिसके अनुसार एक व्यक्ति दो अलग अलग पदों पर काम नहीं कर सकता। शीर्ष परिषद को इसके प्रभावों की जांच के लिए अपनी कानूनी टीम से परामर्श की जरूरत होगी।”

अधिकारी ने आगे ये भी कहा कि,”आईपीएल के बाद वर्ल्ड कप खेला जाएगा और किसी को नहीं पता कि धोनी अगले आईपीएल सीजन में खेलेंगे या नहीं। इसलिए इस शिकायत के पीछे कोई लॉजिक नहीं है। वहीं किसी मेंटोर का कभी टीम सिलेक्शन आदि में दखल नहीं होता है। मेंटोर का काम सिर्फ मैच के दौरान खिलाड़ियों को गाइड करना होता है।”

गौरतलब है कि बुधवार को बीसीसीआई सचिव जय शाह ने टी20 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम की घोषणा की थी और धोनी को इस आईसीसी टूर्नामेंट के लिए टीम का मेंटोर नियुक्त किया था।

आपको ये भी बता दें कि एमएस धोनी इस समय अपनी आईपीएल टीम चेन्नई सुपर किंग्स के साथ हैं और यूएई में 19 सितंबर से बहाल होने वाले आईपीएल 2021 की तैयारियों में जुटे हैं।

पढें खेल समाचार (Khel News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट