ताज़ा खबर
 

Syed Mushtaq Ali Trophy: इन अनजान चेहरों ने टूर्नामेंट में किया कमाल, IPL नीलामी में लग सकती है करोड़ों की बोली

19 मई 1986 को बिहार के गया में जन्में आशुतोष अमन 2018-19 रणजी ट्रॉफी टूर्नामेंट में 50 विकेट लेने वाले पहले गेंदबाज बने थे। उन्होंने उस सीजन भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान बिशन सिंह बेदी का 44 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा था।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: January 23, 2021 1:32 PM
Ashutosh Aman Avi Barot Gahlaut Rahul Singh Chetan Sakariya Lukman Meriwala Kedar Devdhar Syed Mushtaq Ali Trophyसैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में आशुतोष अमन, अवि बरोट, गहलौत राहुल सिंह, चेतन सकारिया, लुकमान मेरीवाला, केदार देवधर (बाएं से दाएं) का प्रदर्शन शानदार रहा है।

सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी (Syed Mushtaq Ali Trophy) टी20 टूर्नामेंट 2021 के ग्रुप चरण में कुछ अनजान खिलाड़ियों ने भी शानदार प्रदर्शन किया है। अवि बरोट, राहुल सिंह गहलोत, केदार देवधर, आशुतोष अमन, चेतन सकारिया और लुकमान मेरीवाला ये वे खिलाड़ी हैं, सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के इस सीजन में सबसे ज्यादा रन बनाने या सबसे ज्यादा विकेट लेने वालों की सूची में शीर्ष -10 में शामिल हैं।

खबर है कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2021 के लिए 18 फरवरी को नीलामी हो सकती है। जाहिर है इन खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर नीलामी में हिस्सा लेने वाली फ्रैंचाइजीस की भी निगाहें रही होंगी। ऐसे में संभव है कि नीलामी के दौरान इन खिलाड़ियों पर वे करोड़ों का दांव खेल जाएं। सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के लीग चरण में सबसे ज्यादा रन बनाने वालों की सूची में अवि बरोट दूसरे नंबर पर हैं। उन्होंने 5 मैच में 56.60 के औसत से 283 रन बनाए हैं। उनका स्ट्राइक रेट 184.97 का रहा था। उन्होंने इस दौरान 32 चौके और 12 छक्के लगाए।

राहुल सिंह गहलोत छठे नंबर पर हैं। राहुल सिंह ने 5 मैच में 81.33 के औसत से 244 रन बनाए हैं। इस दौरान उनके बल्ले से 22 चौके और 12 छक्के निकले। राहुल सिंह का स्ट्राइक रेट 176.81 रहा। क्रुणाल पंड्या की जगह बड़ौदा टीम की कमान संभाल रहे केदार देवधर ने भी अपनी बल्लेबाजी से प्रभावित किया है। केदार ने 5 मैच की पांच पारियों में 113 के औसत से 226 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने 26 चौके और 6 छक्के लगाए और उनका स्ट्राइक रेट 108.65 का रहा था।

टूर्नामेंट के शीर्ष गेंदबाजों की बात करें तो आशुतोष अमन पहले नंबर पर हैं। उन्होंने 5 मैच में 120 गेंदें फेंकी और 6.5 के औसत से कुल 91 रन देते हुए 14 विकेट चटकाए। उन्होंने दो मैच में 4-4 विकेट भी लिए। चेतन सकारिया चौथे नंबर पर हैं। उन्होंने 5 मैच में 8.17 के औसत से 98 रन देते हुए कुल 12 विकेट अपने नाम किए। उन्होंने एक मैच में 5 विकेट भी लिए थे। लुकमान मेरीवाला पांचवें नंबर पर हैं। उन्होंने 5 मैच में 18.3 ओवर गेंदबाजी की और 10.55 के औसत से 111 रन देते हुए 11 विकेट चटकाए। उन्होंने भी एक मैच में पांच विकेट लिए। ऐसे प्रदर्शन को देख मिनी ऑक्शन में फ्रैंचाइजीस इन खिलाड़ियों पर बड़ा दांव लगा सकती हैं।

राहुल सिंह गहलोत पश्चिम बंगाल के मानिकताला में जन्में हैं। हालांकि, वह सर्विसेज की ओर से खेलते हैं। अवि बरोट और चेतन सकारिया सौराष्ट्र, जबकि लुकमान मेरीवाला और केदार देवधर बड़ौदा से खेलते हैं।

34 साल के आशुतोष अमन पर रहेंगी निगाहें: 19 मई 1986 को बिहार के गया में जन्में आशुतोष अमन ने टी20 में डेब्यू फरवरी 2019 में सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी से ही किया था। बाएं हाथ के इस गेंदबाज का फर्स्ट क्लास डेब्यू एक नवंबर 2018 को रणजी ट्रॉफी में उत्तराखंड के खिलाफ मैच से हुआ था। दिसंबर 2018 में वह 2018-19 रणजी ट्रॉफी टूर्नामेंट (Ranji Trophy tournament) में 50 विकेट लेने वाले पहले गेंदबाज बने। उन्होंने उस सीजन टूर्नामेंट में कुल 68 विकेट लिए थे। उन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान बिशन सिंह बेदी का 64 विकेट लेने का 44 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा था।

Next Stories
1 रवि शास्त्री ने दी थी ऑस्ट्रेलिया दौरे का बहिष्कार करने की धमकी, अश्विन और आर श्रीधर की बातचीत में हुआ खुलासा
2 भारत की ऐतिहासिक टेस्ट सीरीज जीत का 28 साल पहले हुई एशेज से भी है खास रिश्ता, जानिए तब इंग्लैंड में क्या किया था कंगारुओं ने
3 IND vs ENG: सीरीज के पहले दो टेस्ट में दर्शकों की No Entry, एक ही होटल में ठहरेंगी दोनों टीमें
ये पढ़ा क्या?
X