Syed Mushtaq Ali Trophy: रोहित शर्मा के साथी रहे बल्लेबाज ने 400 के स्ट्राइक रेट से ठोके रन; महाराष्ट्र का टूटा सपना, क्वार्टर फाइनल में पहुंचा विदर्भ

सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी 2021-22 के पहले प्री-क्वार्टर फाइनल मुकाबले में विदर्भ की शुरुआत खराब हुई थी। उसने मैच की तीसरी ही गेंद पर ओपनर सिद्धेश वाठ का विकेट गंवा दिया था। उस समय टीम का खाता भी नहीं खुला था।

Syed Mushtaq Ali Trophy Maharashtra vs Vidarbha Pre Quarter Final Arun Jaitley Stadium Delhi Jitesh Sharma Rohit Sharma
जितेश शर्मा सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी 2021-22 के पहले खेले गए मुकाबलों में भी 31 गेंद पर 71 और 20 गेंद में 54 रन की पारी खेल चुके हैं। (ट्विटर)

महाराष्ट्र का सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी 2021-22 के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने का सपना टूट गया। दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में 16 नवंबर को खेले गए प्री-क्वार्टर फाइनल मैच में विदर्भ ने महाराष्ट्र के खिलाफ 7 विकेट से जीत हासिल की।

अब 18 नवंबर को होने वाले क्वार्टर फाइनल में विदर्भ का मुकाबला राजस्थान से होगा। विदर्भ की इस जीत में गेंदबाज यश ठाकुर, दोनों हाथ से गेंदबाजी करने वाले स्पिनर अक्षय कर्णवार, ओपनर अथर्व ताडे, कप्तान अक्षय वाडकर के अलावा जितेश शर्मा ने अहम भूमिका निभाई। जितेश 400 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए और अपनी टीम को 13 गेंद पहले जीत दिला दी।

जितेश सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी 2015-16 में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में तीसरे नंबर पर रहे थे। उन्होंने एक शतक और दो अर्द्धशतक के साथ 143.51 के स्ट्राइक रेट से 343 रन बनाए थे। शीर्ष क्रम पर उनके आक्रामक रवैए ने मुंबई इंडियंस का ध्यान खींचा था। रोहित शर्मा की अगुआई वाली मुंबई इंडियंस ने जितेश शर्मा को आईपीएल 2016 की नीलामी में 10 लाख रुपए में खरीदा था।

इस मैच में विदर्भ ने टॉस जीता और गेंदबाजी का फैसला किया। महाराष्ट्र ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 8 विकेट पर 157 रन बनाए। लक्ष्य का पीछा करने उतरी विदर्भ की टीम ने 17.5 ओवर में 3 विकेट पर 160 रन बना मैच अपने नाम कर लिया।

विदर्भ की शुरुआत खराब हुई थी। उसने मैच की तीसरी ही गेंद पर ओपनर सिद्धेश वाठ का विकेट गंवा दिया था। उस समय टीम का खाता भी नहीं खुला था। इसके बाद अथर्व और अक्षय ने दूसरे विकेट के लिए 96 रन की साझेदारी की। बारहवें ओवर की आखिरी गेंद पर अथर्व 6 चौके और एक छक्के की मदद से 38 गेंद में 56 रन बनाकर आउट हुए।

उनकी जगह आए शुभम दुबे 12 गेंद में 18 रन ठोक पवेलियन लौट गए। 15.5 ओवर में टीम का स्कोर 3 विकेट पर 128 रन था। उसे जीत के लिए 4.1 ओवर में 29 रन बनाने थे। शिवम की जगह जितेश बल्लेबाजी के लिए आए।

उन्होंने आते ही बल्ला भांजना शुरू कर दिया और 7 गेंद में 2 चौके और 3 छक्के की मदद से नाबाद 28 रन ठोक दिए। महाराष्ट्र की ओर से मुकेश चौधरी, आशय पालकर और आजिम काजी ने एक-एक विकेट चटकाए।

इससे पहले महाराष्ट्र की शुरुआत भी खराब हुई। उसने 13 रन के स्कोर पर ओपनर नौशाद शेख (शून्य) का विकेट गंवा दिया था। इसके बाद राहुल त्रिपाठी और यश नाहर ने दूसरे विकेट के लिए 64 रन की साझेदारी की।

यश 25 गेंद में 29 रन बनाकर आउट हुए। उनकी जगह आए केदार जाधव 6 रन ही बना पाए। राहुल ने आजिम के साथ मिलकर चौथे विकेट के लिए 30 रन की साझेदारी की। 16वें ओवर की पहली गेंद पर राहुल त्रिपाठी आउट हुए।

उन्होंने 5 चौके और 3 छक्के की मदद से 45 गेंद में 66 रन बनाए। आजिम काजी 15 रन बनाकर नाबाद रहे। नौवें नंबर पर बल्लेबाजी के लिए आए सत्यजीत बच्चव 4 गेंद में 10 रन बनाकर नाबाद रहे। इसके अलावा महाराष्ट्र का कोई भी बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा नहीं छू पाया।

विदर्भ की ओर से यश ठाकुर ने 4 ओवर में 17 रन देकर 3 विकेट लिए। वहीं, अक्षय कर्णवार 4 ओवर में 25 रन देकर 2 विकेट लेने में सफल रहे। वह सबसे ज्यादा विकेट लेने वालों की सूची में चौथे नंबर पर पहुंच गए। उनके इस टूर्नामेंट में 6 मैच में 12 विकेट हो गए हैं।

पढें खेल समाचार (Khel News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट