शादी से पहले प्रियंका ने रखी थी बड़ी शर्त, 45 घंटे की फ्लाइट लेकर मिलने पहुंचे थे सुरेश रैना; कपिल शर्मा के शो पर सुनाई थी कहानी

शादी से पहले प्रियंका नीदरलैंड में बैंकिंग सेक्टर में काम करती थीं। इंजीनियरिंग करने के बाद उन्होंने आईटी प्रोफेशनल के रूप में अपना करियर बनाया। उनकी सैलरी लाखों में थी, लेकिन रैना के साथ भारत में रहने के लिए उन्होंने नौकरी को छोड़ दिया।

Suresh Raina, Priyanka, Priyanka Chaudhary, Valentines Day, love story
सुरेश रैना ने प्रियंका चौधरी से 3 अप्रैल 2015 को शादी की थी। (सोर्स – SONY LIV)

टीम इंडिया और चेन्नई सुपरकिंग्स के स्टार बल्लेबाज सुरेश रैना ने प्रियंका चौधरी से 3 अप्रैल 2015 को शादी की थी। प्रियंका इंजनीयरिंग कर चुकी हैं। शादी से पहले उन्होंने रैना के सामने ऐसी शर्त रख दी थी, जिसे सुनकर भारतीय बल्लेबाज हैरान हो गया था। उन्हें 45 घंटे की फ्लाइट लेनी पड़ी थी। इसके बाद वे प्रियंका से मिल सके थे। दोनों कुछ दिन पहले मशहूर कॉमेडियन कपिल शर्मा के शो पर गए थे। वहां, प्रियंका ने इस वाकये का खुलासा किया था।

प्रियंका ने शादी से पहले की कहानी सुनाते हुए शो पर कहा था, ‘‘शादी जब होने वाली थी तो उससे पहले ये (रैना) ऑस्ट्रेलिया में थे। हम एक-दूसरे को 8 साल से नहीं देख पाए थे। जब शादी की बात आई और इन्होंने कहा कि शादी कर लेते हैं तो मैंने सोचा कि एक बार देख लूं कि ये क्या कर रहे हैं। मैं क्रिकेट भी नहीं देख रही थी और भारत में भी नहीं थी। गूगल पर देखा तो हरभजन सिंह के साथ इनकी तस्वीर सामने आ गई। फिर मुझे लगा कि अब तो मिलना पड़ेगा। मैंने जबरदस्ती करते हुए कहा कि शादी से पहले मुझे एक बार तो मिलना ही है।’’

प्रियंका ने आगे कहा, ‘‘मैंने कहा कि आप कैसे भी करके आओ। फिर इसके बाद ऑस्ट्रेलिया से लंदन आए थे।’’ सुरेश रैना ने इसके बाद सुनाया, ‘‘45 घंटे की फ्लाइट थी। उस समय 2015 वर्ल्ड कप चल रहा था। उससे पहले हम मुंबई एयरपोर्ट पर मिले थे। एक-दूसरे का नंबर था। न्यू ईयर का टाइम था। हमारा ऑस्ट्रेलिया का लंबा दौरा था। दो महीने का वर्ल्ड कप था। ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और भारत के बीच सीरीज थी। इस बीच में एक सप्ताह खाली समय था। मेरे पास डच वीजा (नीदरलैंड) का वीजा नहीं था, यूके का वीजा था। इनके (प्रियंका) के पास भी यूके वीजा था। फिर हम लंदन में मिले थे। जाते समय बी मोहब्बत थी और आते समय भी मोहब्बत थी।’’

शादी से पहले प्रियंका नीदरलैंड में बैंकिंग सेक्टर में काम करती थीं। इंजीनियरिंग करने के बाद उन्होंने आईटी प्रोफेशनल के रूप में अपना करियर बनाया। उनकी सैलरी लाखों में थी, लेकिन रैना के साथ भारत में रहने के लिए उन्होंने नौकरी को छोड़ दिया। रैना और प्रियंका ने भारत में बेटी ग्रेसिया के नाम पर एक चैरिटी फाउंडेशन बनाया। यह गरीब माओं और बच्चों की शारीरिक और मानसिक समस्या को दूर करने में यह मदद करता है। प्रियंका महिलाओं को प्रेगनेंसी के समय खान-पान के बारे में जागरूक करने का भी काम करती हैं।

पढें खेल समाचार (Khel News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
फिरोजशाह कोटला पर खास रहा शतक बनानाः रहाणे