ताज़ा खबर
 

भारतीय टीम में नहीं मिली जगह, अब यहां अपने बल्ले से दम दिखाएंगे सुरेश रैना

एशिया कप के लिए टीम का ऐलान कुछ दिन पहले ही किया गया है। रैना की जगह केदार जाधव की वनडे टीम में वापसी हुई है। इंग्लैंड दौरे पर वनडे और टी-20 में सुरेश रैना का प्रदर्शन औसत से भी कम रहा था। साल 2019 वर्ल्ड कप खेलने के लिए रैना को एक बार फिर अपनी काबिलियत का परिचय देना होगा।

सुरेश रैना।

लखनऊ के क्रिकेटर अक्षदीप नाथ को उत्तर प्रदेश की रणजी टीम का नया कप्तान बनाया गया है जो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर और पूर्व कप्तान सुरेश रैना की जगह लेंगे। उत्तर प्रदेश की वनडे टीम की कप्तानी रैना ही करते रहेंगे। इंग्लैंड के खिलाफ भारतीय वनडे टीम के सदस्य रहे सुरेश रैना को एशिया कप से बाहर कर दिया गया। एशिया कप के लिए टीम का ऐलान कुछ दिन पहले ही किया गया है। रैना की जगह केदार जाधव की वनडे टीम में वापसी हुई है। इंग्लैंड दौरे पर वनडे और टी-20 में सुरेश रैना का प्रदर्शन औसत से भी कम रहा था। साल 2019 वर्ल्ड कप खेलने के लिए रैना को एक बार फिर अपनी काबिलियत का परिचय देना होगा। रैना उत्तर प्रदेश की ओर से रन बनाकर चयनकर्ताओं का ध्यान अपनी ओर खींच सकते हैं। रैन की कोशिश रणजी और विजय हजारे ट्रॉफी में बेहतर प्रदर्शन कर टीम में वापसी करने की होगी। उत्तर प्रदेश क्रिकेट संघ (यूपीसीए) के मीडिया प्रभारी ए.ए. खान तालिब ने बताया कि लखनऊ के अक्षदीप नाथ को रणजी ट्रॉफी में यूपी टीम की कप्तानी सौंपी गई है।

india v/s england first one day match (image source-Facebook)

वहीं विजय हजारे ट्रॉफी (एक दिवसीय) की कमान सुरेश रैना के हवाले की गई है। इसी के साथ टीम का कोच मंसूर अली को और बल्लेबाजी कोच पविंदर सिंह को बनाया गया है। सीनियर टीम का शिविर कानपुर में 10 सितंबर से लगने जा रहा है। अक्षदीप ने 13 प्रथम श्रेणी मैचों में 38.76 के औसत से रन बनाए हैं। वह किंग्स इलेवन पंजाब, गुजरात लॉयंस की ओर से आईपीएल में भी खेल चुके हैं।

अक्शदीप ने कहा कि उत्तर प्रदेश टीम की कप्तानी मिलना गर्व की बात है। अक्शदीप ने 2005 में पहली बार बीसीसीआई की जूनियर ट्रोफी में यूपी की तरफ से हिस्सा लिया। इसके बाद से वह विजय हजारे, मुश्ताक अली टी20, रणजी ट्रोफी, दलीप ट्रोफी खेल रहे हैं। (एजेंसी इनपुट के साथ)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App