ताज़ा खबर
 

IPL-9 के कप्तान ने कहा- धोनी को हेलीकाप्टर शाट खेलने से रोकना बड़ी चुनौती

आइपीएल की नई टीम गुजरात लायंस के कप्तान चुने गए सुरेश रैना ने कहा है कि इस टी20 टूर्नामेंट के नए सत्र में महेंद्र सिंह धोनी के खिलाफ खेलना और विशेषकर उनके ‘हेलीकाप्टर शाट’ पर लगाम लगाना चुनौती होगी।

Author February 3, 2016 12:19 AM
महेंद्र सिंह धोनी (फाइल फोटो)

आइपीएल की नई टीम गुजरात लायंस के कप्तान चुने गए सुरेश रैना ने कहा है कि इस टी20 टूर्नामेंट के नए सत्र में महेंद्र सिंह धोनी के खिलाफ खेलना और विशेषकर उनके ‘हेलीकाप्टर शाट’ पर लगाम लगाना चुनौती होगी। रैना और धोनी ने अब तक अपने करियर में केवल चार मैच एक दूसरे के खिलाफ खेले हैं। इनमें से आखिरी मैच अक्तूबर 2006 में खेला गया था। रैना भारतीय टीम के अलावा आइपीएल में भी पिछले आठ सत्र में चेन्नई सुपरकिंग्स में धोनी की अगुवाई में खेलते रहे थे।

आइपीएल में अब अपनी फ्रेंचाइजी के लिए सभी मैच खेलने वाले रैना ने मंगलवार को यहां टीम के नाम, लोगो, कप्तान और कोच की घोषणा के अवसर पर संवाददाताओं से कहा, ‘मैंने और धोनी ने आॅस्ट्रेलिया में बात की हम दोनों अलग अलग टीमों में कैसे रहेंगे। लेकिन यह रोमांचक होगा। जरा सोचिए कि धोनी के आउट होने पर जडेजा जश्न मनाएगा। मैंने और धोनी ने कुछ फाइनल्स साथ में खेले हैं। धोनी को हेलीकाप्टर शाट खेलने से रोकना चुनौतीपूर्ण होगा।’

बाए हाथ के इस बल्लेबाज ने हालांकि कहा कि वह कप्तान के तौर पर नई चुनौती के लिए पूरी तरह से तैयार हैं और अब वह परिपक्व खिलाड़ी बन गए हैं, हालांकि उन्होंने करियर में अपने विकास का कुछ श्रेय धोनी को भी दिया। आइपीएल में सर्वाधिक 3699 रन बनाने वाले रैना ने कहा, ‘मैं आठ साल तक चेन्नई सुपरकिंग्स में एक महानतम कप्तान के साथ खेला हूं और अब बेहतर और परिपक्व खिलाड़ी बन गया हूं। लेकिन अब मेरे सामने अलग तरह की चुनौती होगी। निश्चित तौर पर यह काफी रोमांचक और चुनौतीपूर्ण होगा।’ रैना को विश्वास है कि उनकी टीम बेहद संतुलित होगी।

राजकोट फ्रेंचाइजी ने अभी तक रैना के अलावा न्यूजीलैंड के ब्रैंडन मैकुलम, वेस्टइंडीज ड्वेन ब्रावो, आॅस्ट्रेलिया के जेम्स फाकनर और स्थानीय खिलाड़ी व भारतीय आलराउंडर रविंद्र जडेजा को अपनी टीम से जोड़ा है। उन्होंने कहा, ‘अभी नीलामी होनी है। मैं इसको लेकर काफी उत्साहित हूं। हमारा टीम प्रबंधन, कोच वहां मौजूद रहेंगे और हम मिलकर टीम के बारे में तय करेंगे। भारत और विदेशों में प्रतिभाशाली खिलाड़ियों की कमी नहीं है। मुझे पूरा विश्वास है कि यह बहुत अच्छी टीम होगी। अब 2008 की तुलना में स्थिति भिन्न है। कई युवा खिलाड़ी आ रहे हैं।’ रैना ने कहा, ‘हमारे पास अभी कुछ अच्छे खिलाड़ी हैं।

मैकुलम और फाकनर के आने से टीम को मजबूती मिलेगी।’ इस बल्लेबाज ने कहा कि उन्हें अगले चार महीने में काफी अनुशासित होकर रहना होगा। उन्होंने कहा, ‘टी20 के लिए आपको बेहद अनुशासित जिंदगी जीनी पड़ती है। हम पूरी रणनीति के साथ उतरते हैं। खिलाड़ियों पर प्रदर्शन करने का दबाव रहता है। मेहनत करने से ही आप सफल हो सकते हो।’ टीम के मालिक केशव बंसल ने कहा कि उनका प्रयास संतुलित टीम का चयन करना होगा। उन्होंने कहा, ‘हमारे पास रैना, मैकुलम जैसे अनुभवी खिलाड़ी हैं। हम अनुभव और युवा का संतुलन बनाने की कोशिश करेंगे।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App