sunil gavaskar target shikhar dhawan performence in first test against england - सुनील गावस्‍कर ने इस स्‍टार बल्‍लेबाज पर उठाए सवाल, बोले- खेल में बदलाव नहीं करना चाहते - Jansatta
ताज़ा खबर
 

सुनील गावस्‍कर ने इस स्‍टार बल्‍लेबाज पर उठाए सवाल, बोले- खेल में बदलाव नहीं करना चाहते

गावस्कर ने आगे कहा कि "खिलाड़ी जब तक मानसिक रुप से बदलाव नहीं करता, तब तक खिलाड़ी विदेशों में लाल गेंद के खिलाफ उसे जूझना होगा।"

सुनील गावस्कर ने शिखर धवन की बल्लेबाजी पर जतायी हैरानी। (file photo)

इंग्लैंड के खिलाफ एजबेस्टन टेस्ट में मिली हार के बाद महान बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने टीम इंडिया की तैयारियों पर सवाल उठा दिए हैं। गावस्कर ने खासकर भारतीय टीम के ओपनर और स्टार बल्लेबाज शिखर धवन के खेल पर हैरानी जताई है। सुनील गावस्कर ने कहा कि “शिखर अपने खेल में बिल्कुल भी बदलाव नहीं करना चाहते, उनका विश्वास उसी तरह से खेलने में है, जिसने उन्हें अब तक सफलता दिलायी है। आप वनडे क्रिकेट में ऐसे शॉट खेलने के बावजूद बच सकते हैं क्योंकि काफी स्लिप नहीं होतीं और बल्ले का किनारा लेकर गेंद स्लिफ क्षेत्र से बाउंड्री तक जा सकती है। लेकिन टेस्ट में इस तरह के शॉट का नतीजा सिर्फ विकेट गंवाना होगा।” गावस्कर ने आगे कहा कि “खिलाड़ी जब तक मानसिक रुप से बदलाव नहीं करता, तब तक खिलाड़ी विदेशों में लाल गेंद के खिलाफ उसे जूझना होगा।”

बता दें कि पहले टेस्ट मैच में शिखर धवन बुरी तरह से फ्लॉप रहे और मैच में 26 और 13 रनों की पारियां ही खेल सकें। बेहतर शुरुआत ना मिलने का खामियाजा आखिरकार टीम को हार के रुप में चुकाना पड़ा। इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए पहले टेस्ट मैच में भारत मजबूत स्थिति में था, लेकिन अपनी खराब बल्लेबाजी के कारण भारत को इस मैच में नजदीकी हार का सामना करना पड़ा। 5 मैंचों की सीरीज में भारत 0-1 से पिछड़ रहा है और लॉर्ड्स में होने वाले अगले टेस्ट के लिए गावस्कर एक अतिरिक्त बल्लेबाज को खिलाने के पक्ष में हैं। गावस्कर का कहना है कि “मैं चेतेश्वर पुजारा के रुप में लॉर्ड्स में एक अतिरिक्त बल्लेबाज को खिलाना पसंद करूंगा। उसके पास टेस्ट मैच के लिए जरुरी तकनीक और धैर्य है। वह किसकी जगह लेगा, यह पिच पर निर्भर करेगा। अगर विकेट पर घास नहीं हो तो मैं उसे उमेश यादव की जगह चुनूंगा और हार्दिक पंड्या को टीम में बरकरार रखूंगा।”

इससे पहले टेस्ट मैच के बाद हुए एक टीवी कार्यक्रम में सुनील गावस्कर ने कहा था कि भारतीय खिलाड़ियों ने स्विंग होती गेंदों के खिलाफ गंभीरता से प्रैक्टिस नहीं की इसलिए टीम को हार मिली। गावस्कर ने नाराजगी जताते हुए कहा कि वनडे सीरीज में हार के बाद भारतीय टीम को पांच दिन का आराम मिला, जिसे खिलाड़ियों ने यूरोप में घूमकर बिता दिया। इंडिया टुडे चैनल के साथ बातचीत में गावस्कर ने तीन दिन के प्रैक्टिस मैच की ओर इशारा करते हुए कहा कि ‘वह कोई तैयारी नहीं थी। मैं समझ सकता हूं कि एक सीरीज खत्म होने के बाद आराम की जरुरत होती है, लेकिन एक ही बार में पांच दिनों का आराम नहीं दिया जा सकता। यह दो मैचों के बीच में तीन-तीन दिनों का भी हो सकता है।’ बता दें कि भारत और इंग्लैंड के बीच दूसरा टेस्ट मैच लॉर्ड्स में 9 अगस्त से खेला जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App