ताज़ा खबर
 

विदेशी दौरे से पहले बदमाशों ने की इस क्रिकेटर के पिता की गोली मारकर हत्या, टीम से वापस लिया नाम

धनंजय के टीम में नहीं होने से टीम को काफी नुकसान पहुंच सकता है। श्रीलंका के लिए 13 टेस्ट मैच खेल चुके धनंजय ने पिछले साल भारत के खिलाफ श्रीलंकन राष्ट्रीय टीम में वापसी की थी। दिल्ली में खेले गए अंतिम टेस्ट मैच में धनंजय ने अहम पारी खेलकर मैच को ड्रॉ कराया था।

श्रीलंका क्रिकेट टीम के बल्लेबाज धनंजय डी सिल्वा।

श्रीलंका क्रिकेट टीम के बल्लेबाज धनंजय डी सिल्वा के पिता की गोली मारकर हत्या कर दी गई। ऐसे में धनंजय वेस्टइंडीज दौरे के लिए टीम में शामिल नहीं हो पाएंगे। वेबसाइट ‘ईएसपीएनक्रिक इन्फो डॉट कॉम’ की रिपोर्ट के अनुसार, गुरुवार रात को किसी अज्ञात शख्स ने धनंजय के पिता की गोली मारकर हत्या कर दी। श्रीलंका की पुलिस ने इस मामले की पुष्टि करते हुए कहा कि धनंजय के पिता रंजन डी सिल्वा को कोलंबो के दक्षिण में स्थित राथमलाना क्षेत्र में गोली मारी गई। इस घटना के बारे में जानकार टीम के कई साथी खिलाड़ी गुरुवार रात को कालुबोलिया अस्पताल पहुंचे। इस घटना के कारण हालांकि, श्रीलंका टीम के वेस्टइंडीज दौरे पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा है लेकिन योजनाओं में बदलाव संभव माना जा रहा है। धनंजय की प्रबंधन टीम ने शुक्रवार सुबह उनकी ओर से एक संदेश साझा करते हुए कहा, “मैं आप सबको यह बताते हुए हैरान और दुखी हूं कि पिछली रात (गुरुवार) को मेरे पिता की हत्या हो गई। यह सब एक बेहद महत्वपूर्ण टेस्ट सीरीज और एक अहम वेस्टइंडीज दौरे से पहले हुआ।”

श्रीलंका क्रिकेट (एसएलसी) के अध्यक्ष थिलंगा सुमाथिपाला ने धनंजय को सांत्वना संदेश में कहा, “इस मुश्किल घड़ी में श्रीलंका क्रिकेट धनंजय के समर्थन के लिए हर प्रयास करेगी। आशा है कि वह इस सदमे से उबर पाएं।”धनंजय के टीम में नहीं होने से टीम को काफी नुकसान पहुंच सकता है। श्रीलंका के लिए 13 टेस्ट मैच खेल चुके धनंजय ने पिछले साल भारत के खिलाफ श्रीलंकन राष्ट्रीय टीम में वापसी की थी। दिल्ली में खेले गए अंतिम टेस्ट मैच में धनंजय ने अहम पारी खेलकर मैच को ड्रॉ कराया था।

भारत में शानदार प्रदर्शन करने के बाद बांग्लादेश के खिलाफ भी धनंजय ने जमकर रन बनाए। चटगांव टेस्ट में शतक लगाने के बाद वह श्रीलंकन टीम के विश्वसनीय खिलाड़ी के रूप में सामने आए। वेस्टइंडीज दौरे पर भी धनंजय से टीम को काफी उम्मीदें थी, लेकिन पिता की मौत की वजह से उन्होंने टीम से अपना नाम वापस ले लिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App