ताज़ा खबर
 

श्रीलंका के खिलाफ ‘करो या मरो’ की स्थिति, विराट ने कहा: ‘टीम की जीत के लिए बनाऊंगा रन’

श्रीलंका के खिलाफ करो या मरो के दूसरे टेस्ट से पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि उनके लिए निजी उपलब्धि से अधिक टीम की सफलता है और वह गुरुवार से शुरू हो रहे टेस्ट में इसी लक्ष्य के साथ रन बनाएंगे।

Author August 20, 2015 1:57 PM
विराट ने कोलंबो में गुरुवार से शुरू होने वाले दूसरे टेस्ट की पूर्व संध्या पर कहा कि एक बल्लेबाज के तौर पर रन बनाने के बावजूद टीम की असफलता ज्यादा परेशान करने वाली है इसलिए मेरा ध्यान निजी उपलब्धियों से ज्यादा टीम के लिए अच्छे परिणाम हासिल करने पर रहेगा। (फोटो: रॉयटर्स)

श्रीलंका के खिलाफ करो या मरो के दूसरे टेस्ट से पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि उनके लिए निजी उपलब्धि से अधिक टीम की सफलता है और वह गुरुवार से शुरू हो रहे टेस्ट में इसी लक्ष्य के साथ रन बनाएंगे।

विराट ने कोलंबो में गुरुवार से शुरू होने वाले दूसरे टेस्ट की पूर्व संध्या पर कहा कि एक बल्लेबाज के तौर पर रन बनाने के बावजूद टीम की असफलता ज्यादा परेशान करने वाली है इसलिए मेरा ध्यान निजी उपलब्धियों से ज्यादा टीम के लिए अच्छे परिणाम हासिल करने पर रहेगा। यदि आप रन बनायें तो अच्छा लगता है लेकिन जरूरी है कि टीम जीते।

26 वर्षीय कप्तान ने कहा कि मैं हमेशा हर स्थिति को भुनाने और टीम को मजबूत बनाने की कोशिश करता हूं। हर बल्लेबाज ऐसा ही सोचता है। चार मैचों में चार शतक लगाने के बावजूद मैच हारने का कोई फायदा नहीं है। इसलिए मेरा प्रयास और ध्यान इसी बात पर है कि मैं जीत की दिशा में टीम को मोड़ सकूं।

गाले टेस्ट के बारे में विराट ने कहा कि पिछले मैच में हमारी बल्लेबाजी दूसरी पारी में काफी खराब रही। लेकिन फिलहाल मैं मैच में किसी एक विभाग को लेकर चिंतित नहीं हूं। हमारे खिलाड़ियों को विश्वास है कि वे अगले मैच में अच्छा प्रदर्शन कर सकेंगे। इस बात को बताना कठिन होता है कि इतने करीब पहुंचकर हम क्यों हार गये। लेकिन अगले मैच को लेकर हमें खुद पर विश्वास है और हम पूरी आक्रामकता के साथ खेलेंगे।

श्रीलंका के खिलाफ बेहद अहम इस मुकाबले से पहले टीम इंडिया के लिए उसका ओपनिंग क्रम भी चिंता का विषय है। शिखर धवन हेयरलाइन फ्रैक्चर के कारण शेष सीरीज से बाहर हो गये हैं जबकि मुरली विजय अभी पूरी तरह फिट नहीं है। विजय की उपलब्धता को लेकर कप्तान ने कहा कि हमारी टीम अभ्यास सत्र के बाद विजय के बारे में अंतिम निर्णय लेगी।

उन्होंने कहा कि विजय के लिए मैच से पहले होने वाला अभ्यास सत्र बेहद अहम है इसके बाद ही यह साफ होगा कि वह मैच के लिए फिट हैं या नहीं। विजय को अभी थोड़ी परेशानी है लेकिन वह इसके बावजूद मैच में हर हाल में खेलना चाहते हैं। लेकिन टीम प्रशासन उनकी फिटनेस पर कड़ी नजर बनाए हुए हैं और मैच से पहले यह साफ होगा कि वह खेलेंगे या नहीं।

विराट ने ऑलराउंड स्टुअर्ट बिन्नी का भी समर्थन किया। टीम में 16वें खिलाड़ी के तौर पर शामिल किए गए बिन्नी को लेकर उन्होंने कहा कि बिन्नी एक बल्लेबाज के तौर पर काफी परिपक्व हुए हैं और समय के साथ उनके खेल में काफी सुधार आया है। हमें यकीन है कि वह भविष्य में टीम को अच्छा संतुलन दे पाएंगे।

कप्तान ने कहा कि एक बल्लेबाज के तौर पर उनमें आत्मविश्वास बढ़ा है जबकि एक गेंदबाज के तौर पर भी उनके काफी सुधार आया है। जैसे जैसे वह और मैच खेलेंगे उनका खेल और बेहतर होगा। लय में आने के बाद वह टीम के मजबूत बल्लेबाज साबित हो सकते हैं। मौजूदा समय में वह उभरते हुए ऑलराउंडर है।

भारतीय बल्लेबाज ने साथ ही कहा कि टीम को साहसी बनकर मैच विजेता की भूमिका निभानी होगी। उन्होंने कहा कि टीम के खिलाड़ियों को साहसी बनना होगा और व्यक्तिगत तौर पर सकारात्मकता के साथ आगे बढ़कर मैच विजेता की भूमिका निभानी होगी।

इस बीच विराट ने पी सारा ओवल की पिच के बारे में कहा कि यहां की पिच काफी सख्त और अलग है। उन्होंने कहा कि पिछले पांच वर्ष पहले हमने यहां जैसा खेला था उससे यह पिच काफी अलग है और मैच में हम इसी हिसाब से अपनी रणनीति तय करेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App