ताज़ा खबर
 

दोनों हाथ से गेंदबाजी करके फिर बल्लेबाजों को किया परेशान, देखें VIDEO

विदर्भ क्रिकेट टीम के फिरकी गेंदबाज अक्षय कर्णेवार ने इस मैच में दोनों हाथों से गेंदबाजी कर सब को दांग कर दिया। अक्षय की गेंदबाजी का विडियो भारतीय क्रिकेट कंट्रोल (बीसीसीआई) ने अपने ऑफिशल वेबसाइट पर शेयर किया है।

Irani Trophy: Ambidextrous Akshay Karnewar’s proverbial googly

विदर्भ क्रिकेट संघ मैदान पर शेष भारत एकादश और रणजी चैम्पियन विदर्भ के बीच खेले जा रहे ईरानी कप मुकाबले में एक गेंदबाज ने अपने करिश्माई प्रदर्शन से सब को हैरान कर दिया है। विदर्भ क्रिकेट टीम के फिरकी गेंदबाज अक्षय कर्णेवार ने इस मैच में दोनों हाथों से गेंदबाजी कर सब को दांग कर दिया। अक्षय की गेंदबाजी का विडियो भारतीय क्रिकेट कंट्रोल (बीसीसीआई) ने अपने ऑफिशल वेबसाइट पर शेयर किया है।

बीसीसीआई द्वारा शेयर किए गए वीडियो में अक्षय दोनों हाथों से गेंदबाजी करते नज़र आ रहे हैं। हालांकि पहली पारी में अक्षय के हाथों एक ही सफलता लगी लेकिन अभी इस मैच की दूसरी पारी बाकी है। दोनों हाथों से गेंदबाजी करने पर अक्षय ने कहा ” वैसे तो सामान्य रूप से मैं ऑफ स्पिनर हूं। गेंदबाजी के अलावा अन्य काम भी मैं दोनों हाथों से कर लेता हूं। मेरे कोच ने ही मुझे बाएं हाथ से गेंदबाजी के लिए कहा। टीम में बाएं हाथ के फिरकी गेंदबाज की कमी के कारण मैंने जमकर प्रैक्टिस की और सफल रहा। अब मैं दोनों हाथों से आराम से गेंदबाजी कर लेता हूं।

बता दें मंगलवार को शुरू हुए इस मुकाबले में शेष भारत की कमान अजिंक्य रहाणे के हाथों में है जबकि फैज फजल विदर्भ के कप्तान हैं। विदर्भ ने इस साल रणजी ट्राफी फाइनल में सौराष्ट्र को हराकर लगातार दूसरी बार यह खिताब जीता है। विदर्भ ने बीते साल भी यह खिताब जीता था। उस साल शेष भारत के साथ उसका ईरानी कप मुकाबला बेनतीजा समाप्त हुआ था। ईरानी कप का आयोजन 1959-60 सीजन से हो रहा है। रणजी ट्राफी के आयोजन के 25 साल पूरे होने पर इसकी शुरुआत हुई थी। घरेलू सीजन के अंत में होने वाले इस मुकाबले में मौजूदा रणजी चैम्पियन टीम को शेष भारत एकादश टीम का सामना करना होता है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के पूर्व पदाधिकारी जेआर ईरानी के नाम पर आयोजित होने वाले इस टूनार्मेंट का नाम ईरानी ट्रॉफी हुआ करता था लेकिन अब इसका नाम बदलकर ईरानी कप कर दिया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App