ताज़ा खबर
 

विराट कोहली के दोहरे शतक ने याद दिला दी सचिन तेंदुलकर की यह डबल सेंचुरी

साल 2000 के सचिन के दोहरे शतक और विराट कोहली की श्रीलंका के खिलाफ लगाई गई डबल सेंचुरी में कुछ ऐसी समानताएं हैं, जो आपके लिए जानना बेहद जरूरी है।

Author Published on: November 26, 2017 6:14 PM
सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली (फाइल फोटो)

भारत और श्रीलंका के बीच खेली जा रही तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के दूसरे मैच के तीसरे दिन इंडियन क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने धुंआधार पारी खेलते हुए दोहरा शतक लगाया। नागपुर में खेले जा रहे इस मैच में कोहली की आक्रामक पारी के दम पर टीम इंडिया ने श्रीलंका के सामने बड़ी मुश्किल खड़ी कर दी है। कप्तान कोहली अपने आक्रामक प्रदर्शन के दम पर एक के बाद एक कई नए रिकॉर्ड्स बना रहे हैं। रविवार को वीसीए स्टेडियम में खेले गए इस मैच में भी उन्होंने 213 रन बनाकर बेहद ही शानदार रिकॉर्ड अपने नाम पर दर्ज कर लिया है। कोहली ने वेस्टइंडीज के पूर्व क्रिकेटर ब्रायन लारा के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है। दरअसल, कप्तान के तौर पर ब्रायन लारा ने अपने करियर में पांच बार दोहरा शतक लगाया है और अब यही रिकॉर्ड कोहली के नाम पर भी दर्ज हो गया है। लारा के बाद डॉन ब्रेडमैन के नाम बतौर कप्तान 4 दोहरा शतक शामिल है। वहीं भारतीय खिलाड़ी की बात करें तो 6 दोहरा शतक जमाने का रिकॉर्ड सचिन के नाम हैं। इसके अलावा सहवाग ने 6 दोहरा शतक अपने टेस्ट करियर में जमाए हैं।

रविवार के दिन विराट कोहली के द्वारा बनाए गए दोहरे शतक और सचिन तेंदुलकर की तरफ से नागपुर में साल 2000 में बनाए गए दोहरे शतक में काफी समानताएं हैं। बहुत सी बातें दोनों की पारियों में काफी मिलती हैं। अब आप सोच रहे होंगे कि ऐसी कौन सी बातें हैं जो सचिन और कोहली की पारियों में एक जैसी हैं, इसका जवाब हम आपको देंगे। इसके लिए आपको 17 साल पीछे यानी साल 2000 में जाना होगा, जब भारत और जिम्बाव्बे के बीच नागपुर में ही टेस्ट मैच खेला गया था। crictracker.com के मुताबिक सचिन तेंदुलकर इस मैच में नंबर 4 पर बल्लेबाजी करने उतरे थे, वहीं कोहली ने भी आज के मैच में नंबर चार पर ही बल्लेबाजी की है। जिम्बाब्वे के साथ खेले गए इस टेस्ट मैच में तेंदुलकर ने टेस्ट क्रिकेट के इतिहास का 200वां दोहरा शतक जड़ा था। इस बार की तरह 2000 का मैच भी नवंबर में ही खेला गया था। श्रीलंका के खिलाफ अभी खेला जा रहा टेस्ट मैच भी सीरीज का दूसरा मैच है तो वहीं जिम्बाब्वे के खिलाफ खेला गया मैच, जिसमें सचिन ने दोहरा शतक जड़ा था वह भी टेस्ट सीरीज का दूसरा मैच था।

17 सालों पहले सचिन तेंदुलकर की आक्रामक बल्लेबाजी के दम पर उन्होंने जिम्बाब्वे के लिए मुश्किलें खड़ी की थी, तो वहीं अब कोहली इस मैच में श्रीलंका के खिलाफ ऐसा कर रहे हैं। फिलहाल क्रिकेटर चेतेश्वर पुजारा को टेस्ट मैच में मध्यक्रम की रीढ़ की हड्डी कहा जा रहा है वहीं 17 साल पहले राहुल द्रविड़ को रीढ़ की हड्डी कहा जाता था। जहां द्रविड़ नंबर 3 पर बल्लेबाजी करने उतरते थे तो वहीं अब पुजारा भी नंबर तीन पर ही खेल रहे हैं। बता दें कि भारत ने नागपुर के विदर्भ क्रिकेट संघ (वीसीए) स्टेडियम में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच में श्रीलंका पर अपना शिकंजा कस लिया है। भारत ने श्रीलंका पर पहली पारी के आधार पर 405 रनों की बढ़त लेने के बाद तीसरे दिन रविवार का खेल खत्म होने तक श्रीलंका का 21 रनों पर एक विकेट गिरा दिया है। दिन का खेल खत्म होने तक दिमुथ कुरुणारत्ने 11 और लाहिरू थिरिमाने नौ रन बनाकर खेल रहे हैं। मेहमान टीम अभी भी मेजबानों से 384 रन पीछे है।

Pro Kabaddi League 2019
  • pro kabaddi league stats 2019, pro kabaddi 2019 stats
  • pro kabaddi 2019, pro kabaddi 2019 teams
  • pro kabaddi 2019 points table, pro kabaddi points table 2019
  • pro kabaddi 2019 schedule, pro kabaddi schedule 2019

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories