ताज़ा खबर
 

MS Dhoni को शतक से रोकने को शोएब अख्तर ने जानबूझकर मारी थी बीमर, 14 साल बाद किया खुलासा, कहा- अब तक है पछतावा

पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने कहा, ‘जिस तेजी से मैं गेंदबाजी कर रहा था, महेंद्र सिंह धोनी उतनी ही तेजी से शॉट लगा रहे थे। मुझे लगता है कि मैं हतोत्साहित हो गया था।’

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: August 8, 2020 8:58 PM
Shoaib Akhtar MS Dhoni2006 में फैसलाबाद टेस्ट मैच के दौरान महेंद्र सिंह धोनी ने शतक जमाया था। उन्होंने अख्तर की गेंदों की काफी पिटाई भी की थी।

पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने खुलासा किया है कि उन्होंने 2006 में फैसलाबाद में खेले गए टेस्ट मैच में महेंद्र सिंह धोनी को आउट करने और शतक से रोकने के लिए जानबूझकर बीमर मारी थी। यह बात अख्तर ने भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व ओपनर आकाश चोपड़ा से उनके यूट्यूब चैनल पर स्वीकार की। मैच के दौरान धोनी ने शतक जमाया था। उन्होंने अख्तर की गेंदों की काफी पिटाई की थी। मैच में धोनी ने 148 रनों की पारी खेली थी, जिसमें उन्होंने 19 चौके और 4 छक्के लगाए थे।

अख्तर ने बताया, ‘जब भारत पाकिस्तान आया था, तो मुझे पैर में कुछ चोट लगी थी। फिर भी मैंने रोजाना इंजेक्शन लेकर मैच खेलने का सला किया। डॉक्टर आते थे और मेरे पैर में इंजेक्शन लगा देते थे। फैसलाबाद में पिच बहुत धीमी और धोनी ने शतक बना दिया।’ तेज गेंदबाज ने कहा, ‘मुझे लगता है कि मैंने फैसलाबाद में 8-9 ओवर का एक स्पेल किया था। उसी स्पेल में धोनी ने शतक बनाया। मैंने जानबूझकर धोनी को एक बीमर फेंकी। हालांकि, बाद में उनसे माफी मांगी।’ अख्तर ने बताया कि यह पहली बार था जब उन्होंने जानबूझकर किसी को बीमर फेंकी थी।

अख्तर ने बताया, ‘वह मेरे जीवन में पहली बार था जब मैंने किसी को जानबूझकर बीमर फेंकी थी। मुझे ऐसा नहीं करना चाहिए था। मुझे इस पर अब तक बहुत पछतावा है। वह इतना अच्छा खेल रहे थे और विकेट बहुत धीमा था। हालांकि, जिस तेजी से मैं गेंदबाजी कर रहा था, वह उतनी ही तेजी से शॉट लगा रहे थे। मुझे लगता है कि मैं फ्रस्ट्रैटड (हतोत्साहित) हो गया था।’ फैसलाबाद टेस्ट में, भारत ने पहली पारी में पाकिस्तान के 588 रनों के जवाब में 603 रन बनाए थे।

इसके बाद मेजबान टीम ने 490/8 पर अपनी पारी घोषित की। भारत को जीत के लिए 476 रनों का लक्ष्य मिला। राहुल द्रविड़ की अगुआई वाली टीम ने अंतिम पारी में बिना कोई विकेट गंवाए 21 रन बनाए और मैच ड्रॉ रहा। अख्तर ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पाकिस्तान के लिए 224 मैच खेले। उन्होंने सभी फॉर्मेट में 444 विकेट लिए। रावलपिंडी एक्सप्रेस के नाम से मशहूर अख्तर ने आखिरी बार 2011 में एकदिवसीय मैच खेला था। वह तब वनडे वर्ल्ड कप में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले थे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 श्रीराम मंदिर भूमिपूजन की बधाई देने पर हसीन जहां को मिली जान से मारने की धमकी, पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह से लगाई मदद की गुहार
2 कोरोना के बीच युजवेंद्र चहल ने मिस्ट्री गर्ल से की सगाई, सोशल मीडिया पर लगा बधाइयों का तांता
3 इंग्लैंड 3 विकेट से जीता, 10 साल बाद पहली पारी में बढ़त लेने के बावजूद पाकिस्तान हारा
ये पढ़ा क्या?
X