scorecardresearch

सचिन तेंदुलकर को गाली बक रहे थे शाहिद अफरीदी, वीरेंद्र सहवाग ने 2003 वर्ल्ड कप को लेकर किया खुलासा

सचिन तेंदुलकर ने पारी के पहले ओवर में शोएब अख्तर को 18 रन जड़ दिए थे। इसके बाद अख्तर को आक्रमण से हटा दिया गया। उन्होंने अपनी ठोस बल्लेबाजी जारी रखी, लेकिन क्रैंप के कारण वीरेंद्र सहवाग को बौतर रनर बुलाना पड़ा। 19 साल बाद सहवाग ने बताया है कि पाकिस्तान के ऑलराउंडर शाहिद अफरीदी लगातार तेंदुलकर को गाली दे रहे थे।

सचिन तेंदुलकर को गाली बक रहे थे शाहिद अफरीदी, वीरेंद्र सहवाग ने 2003 वर्ल्ड कप को लेकर किया खुलासा
साल 2003 वर्ल्ड कप में सचिन तेंदुलकर पाकिस्तान के खिलाफ मैच में दो रन से शतक से चूक गए थे। (फोटो – रायटर्स)

भारत और पाकिस्तान के बीच 28 अगस्त को एशिया कप 2022 में भिड़ंत होगी। दोनों टीमें पिछले साल टी 20 विश्व कप के बाद पहली बार एक दूसरे के आमने-सामने होंगी। बाबर आजम की टीम ने 10 विकेट से जीत हासिल की थी। भारत-पाकिस्तान मैच में हमेशा ही गहमागहमी देखने को मिलती है। 2003 वर्ल्ड कप में भी नजारा कुछ ऐसा ही था। महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने मैच में शानदार प्रदर्शन करते हुए 75 गेंदों में 98 रन बनाए और भारत ने 274 रन के लक्ष्य को छह विकेट शेष रहते हासिल कर लिया।

तेंदुलकर ने पारी के पहले ओवर में शोएब अख्तर को 18 रन जड़ दिए थे। इसके बाद अख्तर को आक्रमण से हटा दिया गया था। उन्होंने अपनी ठोस बल्लेबाजी जारी रखी, लेकिन क्रैंप के कारण वीरेंद्र सहवाग को बौतर रनर बुलाना पड़ा। 19 साल बाद सहवाग ने इस मैच को लेकर बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने बताया है कि पाकिस्तान के ऑलराउंडर शाहिद अफरीदी लगातार तेंदुलकर को गाली दे रहे थे।

स्टार स्पोर्ट्स की ओर शेयर किए गए वीडियो में सहवाग ने कहा, “हम जानते थे कि यह एक महत्वपूर्ण मैच है। तेंदुलकर काफी अनुभवी थे। उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ काफी मैच खेले थे.. उन्हें पता था कि उन्हें इसके लिए तैयार रहने की जरूरत है। मेरे हिसाब विश्व कप में उनकी पारियों में यह उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन था। मैं भी मैच के दौरान उनके लिए दौड़ने आया था। उन्हें क्रैंप आ रहे थे।

सहवाग ने आगे कहा, “पाकिस्तान के शाहिद अफरीदी उन्हें खूब गालियां दे रहे थे, कुछ न कुछ कहते रहते थे, लेकिन उनका ध्यान नहीं भटका। उन्हें पता था कि उनके लिए क्रीज पर बने रहना जरूरी है। वह आमतौर पर रनर नहीं लेता थे, लेकिन वह जानते थे कि अगर मैं आऊंगा, तो मैं उनकी तरह ही दौड़ूंगा। कोई गलतफहमी नहीं होगी। “

दोनों टीमों के बीच प्रतिद्वंद्विता के बारे में बात करते हुए सहवाग ने कहा, ” इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि यह आईसीसी टूर्नामेंट या द्विपक्षीय सीरीज है। भारत और पाकिस्तान के बीच मैच हमेशा तनावपूर्ण होते हैं। हम हमेशा देखेंगे कि दोनों देशों के खिलाड़ियों के बीच लड़ाई या टकराव जैसी घटनाएं होती रहती हैं। मुझे शोएब अख्तर का एक बयान याद है। उन्होंने कहा था कि वह शीर्ष क्रम को पूरी तरह से तहस नहस कर देंगे। मैंने न तो बयान पढ़ा, न सचिन ने, लेकिन सचिन ने हमारी पारी के पहले ओवर में इसका जोरदार जवाब दिया। उन्होंने उस ओवर में 18 रन बनाए।

पढें खेल (Khel News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट