ताज़ा खबर
 

3rd T-20 में 15 रनों से हारी भारतीय महिला क्रिकेट टीम

पहले ही श्रृंखला जीत चुकी भारतीय महिला क्रिकेट टीम यहां क्लीन स्वीप से महरूम रही और उसे तीसरे और अंतिम टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में बल्लेबाजी क्रम के ध्वस्त होने के कारण 15 रन से शिकस्त का सामना करना पड़ा।

Author सिडनी | February 1, 2016 12:15 AM
भारतीय महिला क्रिकेट टीम (Pic Agency)

पहले ही श्रृंखला जीत चुकी भारतीय महिला क्रिकेट टीम यहां क्लीन स्वीप से महरूम रही और उसे तीसरे और अंतिम टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में बल्लेबाजी क्रम के ध्वस्त होने के कारण 15 रन से शिकस्त का सामना करना पड़ा। आस्ट्रेलिया के 137 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम एक समय 13.3 ओवर में तीन विकेट पर 94 रन बनाकर अच्छी स्थिति में थी लेकिन मध्य क्रम के ध्वस्त होने के कारण टीम एससीजी पर आठ विकेट पर 121 रन ही बना सकी।

भारत ने अंतिम 6.3 ओवर में सिर्फ 27 रन बनाए और इस दौरान पांच विकेट भी गंवाए जिससे आस्ट्रेलिया ने सांत्वना भरी जीत दर्ज की। भारत ने हालांकि श्रृंखला 2-1 से जीती। भारत की ओर से सलामी बल्लेबाज वेलास्वामी वनिता ने 25 गेंद में सर्वाधिक 28 रन बनाए। उन्होंने अपनी पारी में तीन चौके और एक छक्का लगाया। हरमनप्रीत कौर ने भी 24 रन की पारी खेली। वनिता और कप्तान मिताली राज (12) ने पहले विकेट के लिए 4 . 4 ओवर में 33 रन जोड़कर टीम को अच्छी शुरूआत दिलाई। भारत ने इसके बाद दो विकेट जल्दी गंवाए लेकिन इसके बाद टीम 14वें ओवर में स्कोर तीन विकेट पर 94 रन तक पहुंचाने में सफल रही। उस समय टीम को जीत के लिए लगभग हर गेंद पर एक रन की जरूरत थी।

इसके बाद भारत ने हरमनप्रीत, अनुजा पाटिल (03) और श्रृंखला की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी झूलन गोस्वामी (01) के विकेट 2.3 ओवर के भीतर सिर्फ 10 रन जोड़कर गंवाए जिससे टीम राह से भटक गई। भारत ने 16वें ओवर में दो विकेट गंवाए जो टर्निंग प्वाइंट साबित हुआ। भारत को इसके बाद अंतिम दो ओवर में 27 और अंतिम ओवर में 23 रन की जरूरत थी लेकिन टीम इस लक्ष्य तक नहीं पहुंच सकी। आस्ट्रेलिया की ओर से एलिस पैरी ने नाबाद 55 रन बनाने के बाद 12 रन देकर चार विकेट चटकाते हुए भारत को क्लीनस्वीप से वंचित किया। आस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पांच विकेट पर 136 रन बनाए थे। राजेश्वरी गायकवाड़ ने भारत की ओर से 36 रन देकर दो विकेट चटकाए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App