ताज़ा खबर
 

टेनिस खिलाड़ी सेरेना विलियम्स बनीं कवि, लिख डाली नारी शक्ति को दर्शाने वाली कविता

दिग्गज टेनिस खिलाड़ी सेरेना विलियम्स ने न्यूयार्क फैशन शो के दौरान नारी शक्ति को दर्शाने वाली कविता पढ़ी जो उन्होंने स्वयं लिखी है।

Author न्यूयार्क | September 13, 2016 14:52 pm
दिग्गज टेनिस खिलाड़ी सेरेना विलियम्स

दिग्गज टेनिस खिलाड़ी सेरेना विलियम्स ने न्यूयार्क फैशन शो के दौरान नारी शक्ति को दर्शाने वाली कविता पढ़ी जो उन्होंने स्वयं लिखी है।
सेरेना ने न्यूयार्क फैशन वीक में एचएसएन के लिए अपने ‘सेरेना विलियम्स सिग्नेचर स्टेटमेंट कलेक्शन’ के दौरान लाउडस्पीकर पर कविता पढ़ी, ‘‘वह अपनी निराशा को जीत में बदलती है। अपने दुख को खुशी में।

खुद को खारिज किए जाने को स्वीकृति में। अगर कोई उस पर विश्वास नहीं करता तो कोई फर्क नहीं पड़ता। वह खुद पर विश्वास करती है। कोई उसे रोक नहीं सकता। कोई उसे हाथ नहीं लगा सकता। वह महिला है।”

सेरेना ने इसके बाद साक्षात्कार के दौरान बताया, “मैंने यह विंबलडन के बाद और ओलंपिक के दौरान लिखी। मैं सिर्फ नारी को सशक्त करना चाहती थी।” इसी साल विंबलडन में उन्होंने अपने करियर का 22वां ग्रैंड स्लैम जीतकर स्टेफी ग्रॉफ के रिकॉर्ड की बराबरी की।”

खुद को खारिज किए जाने को स्वीकृति में। अगर कोई उस पर विश्वास नहीं करता तो कोई फर्क नहीं पड़ता। वह खुद पर विश्वास करती है। कोई उसे रोक नहीं सकता। कोई उसे हाथ नहीं लगा सकता। वह महिला है।’

सेरेना ने इसके बाद साक्षात्कार के दौरान बताया, ‘‘मैंने यह विंबलडन के बाद और ओलंपिक के दौरान लिखी। मैं सिर्फ नारी को सशक्त करना चाहती थी।’’

सेरेना की कविता सेरेना की कविता

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App