ताज़ा खबर
 

जिंदगी में सबसे ज्यादा इस चीज से डरते हैं पाकिस्तानी कप्तान सरफराज, इंटरव्यू में किया खुलासा

मैदान पर बहादुरी से खेलने वाले पाकिस्तान क्रिकेट टीम के कप्तान सरफराज अहमद कुछ चीजों से बहुत डरते हैं। इसका खुलासा उन्होंने हाल में एक अखबार को दिए इंटरव्यू में किया है।

Author नई दिल्ली | March 14, 2018 13:05 pm
पाकिस्तानी टीम के कप्तान सरफराज अहमद।

मैदान पर बहादुरी से खेलने वाले पाकिस्तान क्रिकेट टीम के कप्तान सरफराज अहमद कुछ चीजों से बहुत डरते हैं। इसका खुलासा उन्होंने हाल में एक अखबार को दिए इंटरव्यू में किया है। सरफराज अहमद ने कमान संभालने के बाद से पाकिस्तानी टीम में जान फूंकने का काम किया। टीम को आक्रामक तेवर दिए और मैदान में आखिरी सांस तक लड़ने का जोश भरने में सफल रहे। शायद यही वजह रही कि उनकी कप्तानी में पाकिस्तानी टीम ने नई उंचाइयां छूने में कामयाब रही। सरफराज के नेतृत्व में ही पिछले साल इंग्लैंड में आयोजित चैंपियंस ट्राफी में पाकिस्तान ने चिर प्रतिद्वंदी भारत को हराकर चैंपियंस ट्राफी पर कब्जा किया। वहीं न्यूजीलैंड में टी-20 सीरीज भी उनकी अगुवाई में टीम ने जीती।मगर हाल में पाकिस्तानी कप्तान सरफराज ने अपनी जिंदगी के सबसे बड़े डर का खुलासा किया है।
क्या है डरः सरफराज अहमद ने हाल में एक इंटरव्यू दिया। जिसमें उन्होंने अपने डर का खुलासा किाया है। मगर यह डर फील्ड से बाहर का है। उन्होंने बताया कि वह डरावनी फिल्में देखना नहीं पसंद करते। क्योंकि इससे वह डर जाते हैं। बिजनेस रिकॉर्डर को दिए इंटरव्यू में उन्होंने यह बात कही। इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि टीम के मेंटर विवियन रिचर्ड्स के साथ ड्रेसिंग रूम शेयर करने में उन्हें सुखद अहसास होता है। शाहिद अफरीदी, युनिस खान और मिसबाह उल हक जैसे खिलाड़ियों के साथ खेलने को वो सम्मान समझते हैं।

sarfraaz ahmed सरफराज अहमद। (फोटो सोर्स- क्रिकइंफो)

अपनी बुरी आदत के बारे में चर्चा करते हुए कहा कि जब टेबल पर खाने-पीने की अच्छी चीजें रखी होती हैं तो वह खुद को काबू में नहीं कर पाते। बता दें कि सरफराज की कप्तानी में अप्रैल में वेस्टइंडीज के साथ तीन टी020 मैचों की सीरीज होनी है।पाकिस्तानी सुपरलीग के तीसरे संस्करण में वह क्वेटा ग्लैडिएटर्स का नेतृत्व कर रहे हैं। पिछले दो सुपर लीग में उनकी टीम रनर्स अप रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App