ताज़ा खबर
 

IND vs PAK: 2009 के बाद पाकिस्तान की जीत के बाद सरफराज को है इंटरनेशनल क्रिकेट मैचों की वापसी की उम्मीद

आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी में कमजोर टीम का तमगा पाकिस्तान के साथ था। पहला मैच ही भारत से पड़ा और हार का मुंह नसीब हुआ।

Author लंदन | June 19, 2017 6:48 PM
आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी को हाथ में लिए पाकिस्तान क्रिकेट टीम के कप्तान सरफराज अहमद। (PTI)

आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी में कमजोर टीम का तमगा पाकिस्तान के साथ था। पहला मैच ही भारत से पड़ा और हार का मुंह नसीब हुआ। तब किसी को उम्मीद नहीं थी की यह टीम ग्रुप दौर से आगे जा पाएगी लेकिन इस टीम ने फिर दूसरी टीमों को कायापलट का दौर दिखाया और रविवार को फाइनल में भारत को बुरी तरह हरा दिया। यह पाकिस्तान का पहला आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी का खिताब है। वह पहली बार इस टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची थी और जीती भी, वो भी सभी को हैरान करके।

उस देश में जहां दूसरे देश क्रिकेट खेलने से मना करते हैं, वहां यह जीत ऐतिहासिक है और उम्मीद लेकर आई है कि पाकिस्तानी मैदानों में अंतर्राष्ट्रीय स्तर के क्रिकेट की घरवापसी होगी। दरअसल, 2009 में श्रीलंका पाकिस्तान के दौरे पर थी। लेकिन यह साल पाकिस्तान के लिए काला साबित हुआ। आंतकवादियों ने श्रीलंका के खिलाड़ियों को ले जा रही बस पर हमला कर दिया। यह हमला तीन मार्च को लाहौर में तब हुआ था जब श्रीलंकाई टीम दूसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन का खेल खेलने के लिए मैदान जा रही थी।

छह पुलिस वालों ने अपनी जान गंवाई और सात खिलाड़ी जख्मी हुए। स्टार बल्लेबाज थिलान समरावीरा के पैर में गोली लगी थी। बस, दूसरी टीमें ने पाकिस्तान में क्रिकेट न खेलने का फरमान जारी कर दिया। 2011 में विश्व कप के मैच भारत, श्रीलंका और बांग्लादेश में खेले गए लेकिन पाकिस्तान को विश्व कप की मेजबानी से महरूम रहना पड़ा।

2009 से अब तक आठ साल, पाकिस्तान में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की बहाली के लिए काफी जद्दोजहद की गई लेकिन नतीजा शून्य रहा। अभी तक कोई भी मैच नहीं हो सका है पाकिस्तान में। पाकिस्तान ने तब से संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) को अपना घरेलू मैदान बनाया और खेल जारी रखा।

अब जब सभी को हैरान करते हुए उसने चैम्पियंस ट्रॉफी का खिताब जीता है तो विजेता कप्तान सरफराज अहमद को उम्मीद है कि यह जीत पाकिस्तान में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट मैचों की वापसी कराएगी और दूसरी टीमें यहां आएंगी। बीबीसी ने सरफराज के हवाले से लिखा है, “उम्मीद है कि इस जीत से पाकिस्तानी क्रिकेट का बढ़ावा मिलेगा और दूसरे देश हमारे यहां क्रिकेट खेलने आएंगे। टीम की ऐतिहासिक जीत में भूमिका निभाने वाले कोच मिकी आर्थर को भी अब उम्मीद है कि पाकिस्तानी क्रिकेट का भविष्य अच्छा होगा। उन्होंने कहा, “आज की जीत के बाद पाकिस्तान बेहद खुश होगा। उम्मीद है यह जीत पाकिस्तान में नए युग की शुरुआत करेगी।”
इस जीत के बाद पाकिस्तान में जश्न का माहौल है और विश्व क्रिकेट में चारों तरफ से वह बधाईयां लूट रह है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App