अपने ही गेंदबाज साकिब महमूद को आतंकी समझता है इंग्लैंड, पाकिस्तान में पैदा होने की मिली सजा

साकिब महमूद ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 16 मैच खेलकर 42 विकेट चटकाए है। उनका सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन 48 रन देकर चार विकेट है। साकिब ने काउंटी क्रिकेट में जबरदस्त प्रदर्शन किया है और इसी के चलते उन्हें टीम में शामिल भी किया गया है।

इस युवा गेंदबाज को इंग्लैंड ने समझा आतंकी

कहते हैं कि खेल के मैदान पर धर्म और मजहब के लिए कोई स्थान नहीं होता। हर खिलाड़ी को उसके प्रदर्शन के आधार पर जज किया जाता है और खेल तमाम सीमाओं को तोड़ देता है। लेकिन समय-समय पर कुछ ऐसे वाकये देखने को मिलते हैं जो खेल के इस अनूठेपन पर धब्बा लगाते हैं। ऐसा ही एक मामला इन दिनों सामने आया है जब एक खिलाड़ी को उसी के देश के लोगों ने आतंकवादी करार दिया है। इसके पीछे जो वजह है वो और भी शर्मनाक है।

दरअसल इंग्लैंड क्रिकेट टीम 1 नवंबर से न्यूजीलैंड के दौरे पर रवाना होने जा रही है। जहां दोनों टीमों को 5 टी-20 और दो टेस्ट मैचों की सीरीज खेलनी है। इस दौरे के लिए इंग्लैंड ने अपनी टीम में युवा गेंदबाज साकिब महमूद को शमिल किया है। हालांकि इस दौरे पर रवाना होने से पहले साकिब ने एक खुलासा किया है जिसे सुनकर आप हैरान रह जाएंगे।

साकिब मूल रूप से पाकिस्तानी हैं। कुछ दिनों पहले वो वीजा संबंधी दिक्कतों के चलते भारत के दौरे पर नहीं आ सके थे। इसके बाद इंग्लैंड के लोगों ने जिनके लिए वो खेलते हैं उन्होंने ही साकिब को आतंकवादी कहना शुरू कर दिया था। बीबीसी से बातचीत करते हुए इस युवा गेंदबाज का दर्द छलका और उन्होंने बताया कि मैने कभी कुछ गलत नहीं किया लेकिन लोग सोचते हैं कि मैं क्रिकेट टूर पर जाने के बहाने साजिश रचता हूं।

साकिब महमूद ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 16 मैच खेलकर 42 विकेट चटकाए है। उनका सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन 48 रन देकर चार विकेट है। साकिब ने काउंटी क्रिकेट में जबरदस्त प्रदर्शन किया है और इसी के चलते उन्हें टीम में शामिल भी किया गया है।

पढें खेल समाचार (Khel News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।