ताज़ा खबर
 

बेटे अरबाज खान को फंसता देख बोले पापा सलीम खान- क्रिकेट में लीगल हो सट्टेबाजी

अरबाज का नाम सबसे पहले जालान से हिरासत में पूछताछ के दौरान सामने आया था और जालान ने एक डायरी में अरबाज का नाम और आईपीएल सट्टेबाजी में संलिप्त उसके व अन्य लोगों के साथ फोटो भी दिखाई थी, जिसके बाद पुलिस ने अरबाज को समन जारी किया था।

सोनू जालान के साथ अरबाज खान। (Photo Courtesy: Twitter)

बॉलीवुड अभिनेता-निर्माता अरबाज खान ने शनिवार को आईपीएल में सट्टेबाजी की बात को कबूला। अरबाज ने न केवल यह स्वीकार किया कि इंडियन प्रीमियर लीग में उन्होंने सट्टा लगाया था, बल्कि हाल ही में समाप्त हुए इस सीरीज में एक बड़ी राशि भी गंवाई और इस आदत ने मलाइका के साथ उसके वैवाहिक जीवन को भी प्रभावित किया था। दोनों के बीच हालांकि तलाक हो चुका है। हालांकि उनके पिता सलीम खान ने तलाक की बात को खारिज किया है लेकिन क्रिकेट में सट्टेबाजी को लीगल करने की बात भी कह दी है।

स्पॉटबॉय डॉट कॉम में छपी रिपोर्ट के मुताबिक सलीम खान ने कहा “मामले में गिरफ्तार सटोरिए सोनू जालान के लिंक अफगानिस्तान, पाकिस्तान, सऊदी अरब और साउथ अफ्रीका से जुड़े हुए हैं, तो सिर्फ मेरे बेटे का नाम ही क्यों सामने आ रहा है? क्या इस सोनू जालान की डायरी में सिर्फ अरबाज का नाम ही है? क्या एक आदमी पर उसकी दुकान चल रही है? क्लब और जिमखाना में जुआ चलता है… घोड़े की रेस की अनुमति है… लॉटरी ठीक है लेकिन हमारे देश में क्रिकेट पर सट्टेबाजी ठीक नहीं। फिर भी इसमें कई लोग शामिल हैं। क्रिकेट सट्टेबाजी को लीगल क्यों नहीं कर दिया जाता? क्या इसके बदले में मोटा टैक्स जमा नहीं होगा?”

बता दें कि ठाणे एईसी की टीम अरबों रुपये की सट्टेबाजी से जुड़े मामले में पिछले पांच-छह वर्षो से जांच कर रही है। अरबाज को इससे पहले एईसी ने समन जारी किया था और शनिवार को जांच के दौरान उन्हें सटोरिए सोनू जालान उर्फ सोनू बाटला से आमना-सामना करवाया गया। जालान को ठाणे से पांच दिन पहले गिरफ्तार किया गया था। इससे पहले चार अन्य सटोरियों को मई में गिरफ्तार किया गया था।

अधिकारी हालांकि खुलकर कुछ भी बोलने के लिए तैयार नहीं हैं, लेकिन सूत्रों का कहना है कि अरबाज ने कथित रूप से हालिया आईपीएल सीरीज में काफी पैसा लगाने और इससे भी ज्यादा पैसा सट्टेबाजी में हारने की बात कबूल कर ली है, जिसके बाद कथित रूप से जालान ने अरबाज से पैसे वसूलने के लिए उसे परेशान किया और धमकी दी।

अरबाज का नाम सबसे पहले जालान से हिरासत में पूछताछ के दौरान सामने आया था और जालान ने एक डायरी में अरबाज का नाम और आईपीएल सट्टेबाजी में संलिप्त उसके व अन्य लोगों के साथ फोटो भी दिखाई थी, जिसके बाद पुलिस ने अरबाज को समन जारी किया था। अरबाज ने कहा है कि वह पिछले पांच-छह वर्षो से जालान को जानते हैं, वहीं जालान से प्राप्त डायरी और अन्य कागजात से सट्टेबाजी करने वाले कुछ जाने-माने लोगों के नाम भी सामने आए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App