ताज़ा खबर
 

‘सूर्या के लिए मुझे अपना विकेट कुर्बान करना चाहिए था,’ बोले रोहित शर्मा; सोशल मीडिया पर हो रही सूर्यकुमार की टीम भावना की तारीफ

रोहित ने कहा, ‘वह जिस फॉर्म में था, मुझे अपना विकेट बलिदान कर देना चाहिए। था। उसने पूरे टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन किया और अविश्वसनीय शॉट लगाए।’ सूर्यकुमार यादव ने कहा, मुझे यकीन था कि रोहित टीम को जीत तक ले जाएंगे। मुझे अपना विकेट गंवाने का कोई दुख नहीं है।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: November 11, 2020 1:52 PM
Rohit Sharma Surya Kumar Yadavरोहित शर्मा ने पारी के बीच में असंभव सा एक रन लेने के लिए सूर्यकुमार यादव को कॉल किया। सूर्यकुमार मना करते रहे, लेकिन रोहित तब तक दूसरे छोर पर आ पहुंच चुके थे। लिहाजा सूर्यकुमार ने कप्तान के लिए अपना विकेट कुर्बान कर दिया।

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2020 के फाइनल में खुद की गलती के कारण सूर्यकुमार यादव के रन आउट होने पर रोहित शर्मा ने खेद जताया है। मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने कहा, ‘मुझे उसके लिए अपना विकेट गंवा देना चाहिए था।’ रोहित शर्मा ने फाइनल मुकाबले में दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ 51 गेंद में 68 रन बनाए। उनकी इस शानदार पारी की मदद से मुंबई इंडियंस ने दिल्ली कैपिटल्स को पांच विकेट से हराकर आईपीएल 2020 की ट्रॉफी जीती।

रोहित शर्मा ने पारी के बीच में असंभव सा एक रन लेने के लिए सूर्यकुमार यादव को कॉल किया। सूर्यकुमार मना करते रहे, लेकिन रोहित तब तक दूसरे छोर पर आ पहुंच चुके थे। सूर्यकुमार ने जब देखा कि कप्तान दौड़ते चले आ रहे हैं तो उन्होंने अपनी क्रीज छोड़ दी और रोहित से आगे निकल गए। मतलब सूर्यकुमार ने कप्तान के लिए अपना विकेट कुर्बान कर दिया। दरअसल फील्डर प्रवीण दुबे ने गेंद को विकेटकीपर ऋषभ पंत के दस्तानों में फेंका। ऋषभ पंत ने बिना देर किए गिल्लियां बिखेर दीं। चूंकि सूर्यकुमार यादव रोहित को क्रॉस कर चुके थे, इसलिए वह आउट हो गए। सूर्यकुमार के आउट होने के बाद रोहित भी निराशा में बैठ गए। शायद उन्हें समझ में आ गया था कि वह गलती कर बैठे हैं। वहीं सूर्यकुमार शायद रोहित से यह कहकर जा रहे हों कि कप्तान तुम संभालो। तुम हाफ सेंचुरी पूरी करने वाले हो।

इस तरह से अपना विकेट कुर्बान करने पर सूर्यकुमार की सोशल मीडिया पर काफी तारीफ हो रही है। हर कोई उन्हें पफेक्ट टीम मैन करार दे रहा है।

रोहित ने कहा, ‘वह जिस फॉर्म में था, मुझे अपना विकेट बलिदान कर देना चाहिए। था। उसने पूरे टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन किया और अविश्वसनीय शॉट लगाए।’ दूसरी ओर सूर्यकुमार यादव ने कहा, मुझे यकीन था कि रोहित टीम को जीत तक ले जाएंगे। मुझे अपना विकेट गंवाने का कोई दुख नहीं है। उन्होंने कहा, ‘वह अच्छे फार्म में थे और पारी के सूत्रधार की भूमिका निभा रहे थे लिहाजा मुझे अपना विकेट गंवाने का दुख नहीं है।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘रोहित शर्मा को व्हाइट बॉल की कप्तानी नहीं मिलना शर्म की बात,’ गौतम गंभीर बोले- यह उनका नहीं भारत का दुर्भाग्य
2 IPL: रोहित शर्मा 2 रन से डेविड वॉर्नर का रिकॉर्ड तोड़ने से चूके, 4 साल बाद Final में दोनों कप्तान ने जड़ी फिफ्टी
3 मुंबई को मिले 20 करोड़; दिल्ली के हिस्से आए 12.5 करोड़, यह राशि विराट कोहली की फीस से भी 4.5 करोड़ कम
यह पढ़ा क्या?
X