ताज़ा खबर
 

तेंदुलकर, द्रविड़, गांगुली ढूंढेंगे भारत का नया कोच

पूर्व महान खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और राहुल द्रविड़ को उस समिति का हिस्सा बनाया गया है जो भारतीय क्रिकेट टीम के नये कोच और सहयोगी स्टाफ को ढूंढेगी...

Author April 27, 2015 13:15 pm
बीसीसीआई ने विज्ञप्ति में कहा, ‘‘सीनियर राष्ट्रीय टीम के लिए कोच और सहयोगी स्टाफ की पहचान की प्रक्रिया का हिस्सा मानद अध्यक्ष और मानद सचिव होंगे।’’ (एक्सप्रेस आर्काइव फ़ोटो)

पूर्व महान खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और राहुल द्रविड़ को उस समिति का हिस्सा बनाया गया है जो भारतीय क्रिकेट टीम के नये कोच और सहयोगी स्टाफ को ढूंढेगी।

सूत्रों के मुताबिक यह तिकड़ी बीसीसीआई अध्यक्ष जगमोहन डालमिया और सचिव अनुराग ठाकुर को जानकारी मुहैया कराएगी जिन्हें बोर्ड की कार्य समिति की बैठक में नये कोच के चयन की जिम्मेदारी सौंपी गई।

बीसीसीआई ने विज्ञप्ति में कहा, ‘‘सीनियर राष्ट्रीय टीम के लिए कोच और सहयोगी स्टाफ की पहचान की प्रक्रिया का हिस्सा मानद अध्यक्ष और मानद सचिव होंगे।’’

जिंबाब्वे के कोच डंकन फ्लेचर का अनुबंध विश्व कप के बाद खत्म हो गया जबकि पूर्व भारतीय क्रिकेटर रवि शास्त्री टीम के साथ टीम निदेशक के रूप में जुड़े हुए थे। उम्मीद है कि सहायक कोचों संजय बांगड़, भरत अरुण और आर श्रीधर को बरकरार रखा जा सकता है।

कार्य समिति के एक सदस्य ने स्पष्ट किया है कि गांगुली कोच पद के लिए दौड़ में शामिल नहीं हैं। इससे पहले इस तरह की अटकलें थी कि पूर्व भारतीय क्रिकेटर गांगुली और शास्त्री इस पद के लिए प्रबल दावेदार हैं।

सदस्य ने कहा, ‘‘क्योंकि सौरव समिति का हिस्सा है इसलिए वह तकनीकी तौर पर इस काम के लिए पात्र नहीं है।’’

कार्य समिति ने साथ ही अध्यक्ष डालमिया को अधिकार दिया कि वह प्रतिष्ठित क्रिकेटरों की मौजूदगी वाली क्रिकेट सलाहकार समिति का गठन करेंगे जो खेल के संपूर्ण संचालन और विकास पर अपनी सिफारिशें साझा करेगी।

कार्यसमिति ने वर्ष 2015 के अर्जुन पुरस्कार के लिए बल्लेबाज रोहित शर्मा के नाम की सिफारिश करने का फैसला किया। कार्य समिति ने बंगाल के दिवंगत युवा क्रिकेटर अंकित केसरी, झारखंड के गौरव कुमार और नेपाल और भारत में आए भूकंप में मारे गए लोगों को भी श्रद्धांजलि दी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App