ताज़ा खबर
 

सचिन तेंदुलकर ने इरफान पठान से मंगाई थी बासी बिरयानी, पीयूष चावला को पड़ी थी भारतीय दिग्गज की मां से डांट

सचिन तेंदुलकर को क्रिकेट मैदान पर चौके-छक्के लगाने के अलावा किचेन में खाना पकाने का भी शौक है। वह लजीज खाने के भी शौकीन हैं। उन्हें बिरयानी, खासतौर पर बासी (एक दिन पुरानी पकी हुई) बहुत पसंद है।

Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: July 19, 2021 10:37 AM
इरफान पठान ने सचिन तेंदुलकर का यह राज क्रिकेट प्रेजेंटेटर विक्रम साठे के यूट्यूब चैनल वॉट द डक पर खोला था। (सोर्स- इंस्टाग्राम/इरफान पठान)

सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) को क्रिकेट के मैदान पर चौके-छक्के लगाने के अलावा किचेन में खाना पकाने का भी शौक है। वह लजीज खाने के भी शौकीन हैं। उन्हें बिरयानी, खासतौर पर बासी (एक दिन पुरानी पकी हुई) बहुत पसंद है। इरफान पठान ने बताया था कि एक बार सीरीज के दौरान सचिन तेंदुलकर ने उनसे खाने के लिए बासी बिरयानी मांगी थी।

इरफान पठान (Irfan Pathan) ने यह राज क्रिकेट प्रेजेंटेटर और स्टैंड-अप कॉमेडियन विक्रम साठे (Vikram Sathaye) के यूट्यूब चैनल वॉट द डक (What The Duck) में खोला था। विक्रम साठे ने इरफान पठान से पूछा था, ‘26 तरह की बिरयानी होती हैं। केरल की होती है, लखनऊ की होती है। तेहरान से दिल्ली सल्तनत आई हुई है पहले, मगर मैंने सुना है कि जो पठान घर की बिरयानी होती है वह इतनी इम्पैक्टफुल है कि लोग शेड्यूल बदलकर आपके घर बिरयानी खाने पहुंच जाते थे।’

इस पर इरफान पठान ने कहा, ‘मेरे घर की बिरयानी (Biryani) सबसे ऊपर है। जो 27वीं बिरयानी है, वह हमारे घर की है।’ इरफान ने कहा, ‘अगर बिरयानी की बात करें तो मुझे याद है हम 2000 में सीरीज खेल रहे थे। बड़ौदा में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच था। पूरी टीम मेरे घर पर आई थी। पाजी थे, भज्जू पा थे, पूरी टीम थी, पूरी इंडियन टीम थी, कोई भी बचा नहीं था, सपोर्ट स्टाफ भी था, सारे लोग आए थे। सब लोगों ने खाना खाया, बिरयानी खाई।’

उन्होंने कहा, ‘पाजी मतलब सचिन तेंदुलकर पाजी ने बिरयानी खाई। मुझे याद है कि भज्जू पा (Harbhajan Singh) की बड़ी सी थाली में कोई जगह बाकी नहीं थी, मतलब अगर थोड़ा भी कुछ और रखते तो वह गिर रहा था। चिकन वगैरह थे। चिकन टिक्के वगैरह जो हाथ से बनाते हैं। वह सब थे। खास यह है कि करीब 25-30 लोगों का खाना मेरी मां ने दूसरों की मदद लेकर सब खुद बनाया था।’

इरफान ने आगे बताया, ‘अगले दिन मैच था। मैच जल्दी खत्म हो गया। तो सचिन पाजी ने दोपहर को मुझसे पूछा- इरफान इधर आ। मैंने कहा- जी पाजी। वह बोले- कल की बिरयानी है तेरे घर पर। घर पर पूछ बची हुई है बिरयानी। मैंने कहा- पाजी कल की तो नहीं है, लेकिन फ्रेश बनवा दूंगा। वह बोले- नहीं, नहीं, नहीं। कल की बिरयानी आज और ज्यादा अच्छी लगेगी। तू मेरे को मंगवा। मैंने कहा- पाजी सारी कल ही खत्म हो गई थी।’

इसके बाद विक्रम साठ ने हाथों से इशारा करते हुए कहा, ‘मैंने सुना है कि आप दोनों (इरफान और यूसुफ पठान) काफी अच्छा खाना खाते हो। मम्मी दिनभर किचेन में ही रहती हैं क्या?’ यह सुनकर इरफान हंसने लगे। उन्होंने कहा, ‘जैसे तुमने बोला कि काफी बहुत ज्यादा तो मेरे दिमाग में सीधा पीयूष चावला (Piyush Chawla) आ गया।’

इरफान ने बताया, ‘एक बार पीयूष चावला मेरे घर पर आया हुआ था। दिलीप ट्रॉफी का बड़ौदा में मैच था। वह मेरे घर खाना खाने आया था। हम लोग खाने बैठे थे, सब साथ में। तभी पीयूष चावला मेरी मां से कहता है, आंटी बुरा न मानें तो एक सवाल पूछूं। मेरी अम्मी समझ गईं कि यह कोई परेशान करने वाली बात बोलेगा। उन्होंने कहा कि हां बोल बेटा, मैं सुन रही हूं।’

इरफान ने बताया, ‘इसके बाद पीयूष चावला ने कहा- आंटी आपके घर में महीने भर का राशन कम से कम ढाई लाख का तो आता ही होगा। इस पर अम्मी ने बोला क्यों? वह बोलता है कि आपके दोनों बेटे जिस तरह से खाते हैं, तो उतने रुपए का राशन तो आपको मंगाना ही पड़ता होगा। इस पर अम्मी ने उससे कहा, चुपचाप खाना खा और घर जा कल प्रैक्टिस करने है तुझको।’

Next Stories
1 इशान किशन 20 साल में छक्का लगा वनडे डेब्यू करने वाले पहले बल्लेबाज, बतौर विकेटकीपर भी बनाया रिकॉर्ड
2 फैशन मॉडल हैं इशान किशन की गर्लफ्रेंड अदिति हुंडिया, रामदेव से जुड़े सवाल पर मलाइका अरोड़ा को दिया था यह जवाब
3 इशान किशन वनडे और टी20 इंटरनेशनल डेब्यू में पचासा ठोकने वाले दूसरे क्रिकेटर बने, शिखर धवन ने भी रचा इतिहास
ये पढ़ा क्या?
X