ताज़ा खबर
 

Covid-19: सचिन तेंदुलकर ने कोरोना से लड़ाई के लिए दान किए 50 लाख, इंग्लिश क्रिकेटरों ने PUB को ग्रॉसरी स्टोर में बदला

Covid-19: सचिन के अलावा इरफान पठान और यूसुफ पठान ने बड़ौदा पुलिस और हेल्थ डिपार्टमेंट को 4000 फेस मास्क दिए हैं। वहीं, पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने भी पुणे के एक एनजीओ को 1 लाख रुपए दिए हैं।

सचिन तेंदुलकर इस वायरस के खिलाफ लड़ाई में सबसे ज्यादा रकम देने वाले खिलाड़ी हैं। (सोर्स- सोशल मीडिया)

महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर सामाजिक कार्यों के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई में भी आगे बढ़ते हुए बड़ी मदद की घोषणा की है। सचिन ने 50 लाख रुपए दान किए हैं। इससे पहले वे ऑस्ट्रेलिया में लगे आग से पीड़ितों की मदद के लिए चैरेटी मैच में नजर आए थे। कोरोनावायरस से अब तक भारत में 700 से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं। इससे 17 लोगों की जान भी जा चुकी है। इस वायरस के खिलाफ लड़ाई में अभी तक किसी भी भारतीय खिलाड़ी द्वारा दी गई यह सबसे बड़ी रकम है।

पूर्व दिग्गज बल्लेबाज के करीबी ने सूत्रों ने बताया, ‘‘सचिन ने प्रधानमंत्री राहत कोष और मुख्यमंत्री राहत कोष में 25-25 लाख रुपए देने का फैसला किया है। यह उनका फैसला था कि वह दोनों फंड में सहयोग करना चाहते थे।’’ सचिन के अलावा इरफान पठान और यूसुफ पठान ने बड़ौदा पुलिस और हेल्थ डिपार्टमेंट को 4000 फेस मास्क दिए हैं। वहीं, पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने भी पुणे के एक एनजीओ को 1 लाख रुपए दिए हैं।

Coronavirus in India LIVE Updates: नमाज के लिए एकत्र होने पर इमाम और 27 अन्य के खिलाफ मामला दर्ज

Coronavirus in India Latest LIVE Updates: कोविड 19 के खिलाफ जंग में फर्राटा धाविका हिमा दास ने एक महीने की तनख्वाह दी

दूसरी ओर, इंग्लैंड के कुछ क्लबों ने अपने स्टेडियम नेशनल हेल्थ सर्विस (एनएचएस) के लिए खोल दिए हैं। साथ ही कुछ क्रिकेटरों ने अपने पब को रेस्तरां और ग्रॉसरी स्टोर में बदल दिया है। ये क्रिकेटर 70 साल से ज्यादा उम्र के लोगों और हेल्थ सेक्टर से जुड़े लोगों को फ्री-डिलिवरी सर्विस भी दे रहे हैं। ब्रॉड ने अपर ब्रॉटन और हैरी गर्ने ने मेल्टन मोब्रे में अपने पब को ग्रॉसरी स्टोर में बदल दिया है। उन्होंने पब का रेस्तरां भी खोल दिया है, जहां से लोग खाना ले जा सकते हैं।

इंग्लिश प्रीमियर लीग की सफल टीमों में शामिल चेल्सी ने अपने मिलेनियम होटल में हॉस्पिटल स्टाफ को रहने की सुविधा उपलब्ध कराई है। दूसरी ओर, वेटफोर्ट क्लब के स्टेडियम में हेल्थ सर्विस से जुड़े लोग रह सकते हैं। क्लब ने चाइल्डकेयर सुविधाएं भी दी हैं। चीन के बाद यूरोप ही कोरोनावायरस का केंद्र बना था। स्पेन और इटली में बड़ी संख्या में लोगों की जान गई है। वहीं, इंग्लैंड में यह तेजी से फैल रहा है।
Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें:
कोरोना वायरस से बचना है तो इन 5 फूड्स से तुरंत कर लें तौबा
जानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिए
इन तरीकों से संक्रमण से बचाएं
क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस?

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Covid19: नरसिंह यादव के लिए वरदान बना ओलंपिक टलना, बैन हटने के बाद मिलेगा रेसलर को क्वालिफाई का मौका
2 Coronavirus: क्रिस्टियानो रोनाल्डो को क्वारेंटाइन के समय मौज-मस्ती पड़ी भारी, पूर्व चीफ ने लगाई फटकार
3 Coronavirus: 500+ विकेट ले चुके पूर्व कीवी क्रिकेटर घर लौटने के लिए मांग रहे पैसा, कहा- बीवी की जान खतरे में