ताज़ा खबर
 

दक्षिण अफ्रीकी दौराः टीम इंडिया की बढ़ेंगी मुश्किलें? मोर्ने मॉर्कल-वर्नन फिलैंडर हुए फिट

दोनों ही टीमों के बीच पांच जनवरी से मुकाबले शुरू हो जाएंगे, जिसमें तीन टेस्ट, छह वनडे और तीन टी-20 मैच शामिल हैं।

दक्षिणी अफ्रीकी क्रिकेट टीम की मेडिकल कमेटी ने तेज गेंदबाज मोर्ने मॉर्कल और वर्नन फिलैंडर के पूरी तरह से फिट होने के बारे में पुष्टि की है। (फोटोः ईएसपीएन)

दक्षिण अफ्रीकी दौरे से पहले भारतीय क्रिकेट टीम की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं। प्रोटियाज टीम के तेज गेंदबाज मोर्ने मॉर्कल और वर्नन फिलैंडर मैचों में खेलने के लिए फिट माने जा रहे हैं। क्रिकेट साउथ अफ्रीका की मेडिकल कमेटी ने इस बाबत पुष्टि की है। दोनों ही टीमें के बीच पांच जनवरी से मुकाबले शुरू हो जाएंगे, जिसमें तीन टेस्ट, छह वनडे और तीन टी-20 मैच शामिल हैं। दोनों ही टीमें इन मैचों के लिए अभी से कमर कस रही हैं। दोनों ही दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी बीते दिनों चोटों से जूझ रहे थे। फिटनेस के चलते उनके भारतीय टीम के साथ मुकाबलों में खेलने को लेकर लगातार सवाल उठ रहे थे। ऐसे में मॉर्कल और फिलैंडर का टीम स्कवॉड में वापसी करना और भारत के खिलाफ प्रोटियाज फैंस और टीम के लिए अच्छी खबर मानी जा रही है। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो तेज गेंदबाज डेल स्टेन भी भारतीय सीरीज में खेल सकते हैं। लड़खड़ाए हुए फॉर्म के कारण अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से वह तकरीबन एक साल से बाहर चल रहे हैं। अब तक उन्हें वापसी का कोई खास मौका नहीं मिला है। ऐसे में भारतीय टीम के साथ होने वाले मुकाबले उन्हें वापसी का बेहतरीन मौका दे सकते हैं।

क्रिकेट साउथ अफ्रीका (सीएसए) की मेडिकल कमेटी ने दोनों खिलाड़ियों के फिट होने को लेकर हामी भरी है। संस्था के अध्यक्ष डॉक्टर शोएब मांजरा के हवाले से ‘स्पोर्ट्स्टार’ ने इस बारे कहा, “मोर्ने वापसी कर चुके हैं और वह खेलने के लिए फिट हैं। वह अच्छा कर रहे हैं और उम्मीद है कि वह जिम्बाब्वे के खिलाफ भी खेलेंगे। यहां तक कि वर्नन और क्रिस मॉरिस भी गेंदबाजी के लिए तैयार हैं। टीम में तेज गेंदबाजों की चोटों को लेकर किसी तरह की चिंता नहीं है।”

डॉ. मांजरा ने आगे बताया, “चयनकर्ता जल्द ही भारतीय टीम के साथ मुकाबले को लेकर अगले हफ्ते तक दक्षिण अफ्रीकी टीम स्कवॉड का ऐलान करेंगे।” बता दें कि दक्षिण अफ्रीका के साथ होने वाले मैच विराट कोहली की कप्तानी में पहला बड़ा मुकाबला होगा। खास तब, जब ये सभी मुकाबले दक्षिण अफ्रीकी धरती पर होने हैं। चूंकि अभी तक प्रोटियाज टीम भारत से घरेलू मैदानों पर हारी नहीं है। ऐसे में कोहली के शेर इतिहास रच सकते हैं।

मॉर्कल और फिलैंडर के अलावा डेल स्टेन और क्रिस मॉरिस भी भारतीय सीरीज में प्रोटियाज टीम में वापसी कर सकते हैं। ऐसे में टीम इंडिया की मुश्किलें दोगुनी हो सकती हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App