ताज़ा खबर
 

अगर RCB को प्‍ले-ऑफ में बनानी है जगह तो विराट कोहली को इस बार भी लगानी होगी ये तरकीब

आरसीबी की स्थिति ऐसी है कि उसे अपने बाकी बचे 6 मुकाबलों में से चार में जीत दर्ज करनी ही होगी। यदि ऐसा नहीं होता है तो आरसीबी किसी कीमत पर अंतिम चार में स्थान नहीं बना सकेगी।

Author नई दिल्ली | April 26, 2017 6:54 PM
आरसीबी को अब आईपीएल में 6 और मैच खेलने हैं। उसे प्लेआॅफ में स्थान बनाने के लिए सभी मुकाबलों में जीत दर्ज करनी होगी।(Photo: IPLT20.com)

आईपीएल का दसवां संस्करण अपना आधा सफर पूरा कर चुका है। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूरु टीम की प्लेआॅफ में जगह बनाने की उम्मीद टूर्नामेंट में अब तक के उसके सफर को देख कर काफी धुमिल नज़र आ रही हैं। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूरु ने आईपीएल के आठ मुकाबलों में 5 में हार का सामना किया है, दो मुकाबलों में उसे जीत मिली है और हैदराबाद के खिलाफ उसका मुकाबला बारिश की भेंट चढ़ चुका है। आठ मुकाबलों में 5 अंक लेकर आरसीबी अंकतालिका में 6ठे स्थान पर है। हालांकि, सनराइजर्स के खिलाफ रद्द हुए मैच में आरसीबी को एक प्वाइंट जरूर मिला, जिससे उसका नेट रन रेट कुछ हद तक सुधरा है। आरसीबी का रन रेट सभी टीमों में सबसे कम -1.210 का है। यदि रन रेट को छोड़ दें, तब भी रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूरु को अब प्लेआॅफ में स्थान बनाने के लिए टूर्नामेंट में बचे अपने सभी 6 मौचों में जीत दर्ज करनी होगी।

अगर आरसीबी अपने बचे हुए सभी मुकाबले जीत जाती है तो उसके 17 अंक हो जाएंगे और प्लेआॅफ में आसानी से स्थान पक्का हो जाएगा। यदि आरसीबी 6 में से पांच मुकाबले ही जीतती है तो उसके 15 अंक होंगे। पिछले साल पहले चार स्थानों पर रहने वाली टीमों के 16 अंक थे। अगर इस बार भी ऐसी स्थिति उत्पन्न होती है, तो आरसीबी प्लेआॅफ में स्थान बनाने से चूक जाएगी। यानी आरसीबी को या तो अपने सभी मैच जीतने होंगे या एक मैच में हार भी मिलती है और बाकी 5 मुकाबले वह जीत लेती है, तो उसे दूसरी टीमों के मुकाबलों पर निर्भर रहना पड़ेगा। इसमें भाग्य भी अहम भूमिका निभाएगा। टूर्नामेंट में मुंबई इंडियंस और केकेआर की टीम अपना वर्चस्व कायम रखते हुए दूसरी टीमों को हराती चली जाती हैं, तो आरसीबी का चांस बन सकता है।

आरसीबी की स्थिति ऐसी है कि उसे अपने बाकी बचे 6 मुकाबलों में से चार में जीत दर्ज करनी ही होगी। यदि ऐसा नहीं होता है तो आरसीबी किसी कीमत पर अंतिम चार में स्थान नहीं बना सकेगी। अगर आरसीबी ​को अपना चांस बनाए रखना है तो उसे बाकी बचे 6 मैचों में से 5 में जीत दर्ज करनी ही होगी। ऐसा नहीं है कि आईपीएल में इससे पहले टीमों ने शुरुआती असफलताओं से उबरते हुए प्लेआॅफ में जगह नहीं बनाया है। आरसीबी ने खुद पिछले साल अपने आखिरी 7 मुकाबलों में से 6 में जीत दर्ज कर अंकतालिका में दूसरा स्थान कब्जाया था। इस साल आरसीबी ने अपने पहले सात मुकाबलों में से सिर्फ 2 में जीत दर्ज की थी। बाद के सात मैचों में टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए अंकतालिका में दूसरे स्थान पर कब्जा जमाया था।

वीडियो: IPL के 8 टीमों के कप्तानों पर एक नज़र

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App