रोहित शर्मा ने बताया कैसे कानपुर वनडे में बनाए 147 रन, इस चीज से मिली मदद - Rohit Sharma reveals how he scored 147 in Kanpur One day - Jansatta
ताज़ा खबर
 

रोहित शर्मा ने बताया कैसे कानपुर वनडे में बनाए 147 रन, इस चीज से मिली मदद

कानपुर में रोहित का यह लगातार दूसरा शतक था। इससे पहले उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2015-16 में इस मैदान पर शतक जमाया था।

रोहित शर्मा ने न्‍यूजीलैंड के खिलाफ अपना पहला शतक लगाया। यह एकदिवसीय क्रिकेट में उनका 15वां शतक है। इस मैच में उन्‍होंने 147 रन बनाए। कोहली के साथ चौथे विकेट के लिए उनकी 230 रनों की साझेदारी एकदिवसीय क्रिकेट के इतिहास में सबसे बड़ी है।

न्यूजीलैंड के खिलाफ रविवार को निर्णायक मुकाबले में 147 रनों की शतकीय पारी खेलने वाले भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा का कहना है कि आप जितनी जल्दी अपनी गलती को सुधारते हो उतनी जल्दी बेहतर होते हो। रोहित को शानदार शतकीय पारी के लिए मैन ऑफ द मैच मिला। भारत ने तीसरे और आखिरी वनडे मैच में न्यूजीलैंड को छह रनों से मात देते हुए सीरीज 2-1 से अपने नाम की। मैच के बाद रोहित ने कहा, “मैं पिछले मैच का विश्लेषण देख रहा था जहां वो कह रहे थे कि मेरा सिर नीचे सही जगह नहीं आ रहा। मैंने इस पर कुछ काम किया। इससे मुझे मदद मिली। मेरा सिर निचे जा रहा था और गेंद की लाइन में नहीं आ रहा था। आप जितनी जल्दी अपनी गलती से सीखते हैं उतना बेहतर होते हैं।” रोहित ने कहा, “टीम जब जीतती और आप उसमें सहयोग करते हैं तो अच्छा लगता है। हम सीरीज में जिस तरह से खेले उससे खुश हूं। न्यूजीलैंड ने अच्छी चुनौती पेश की। उनके खिलाफ जीत हासिल करना आसान नहीं था।”

कानपुर में रोहित का यह लगातार दूसरा शतक था। इससे पहले उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2015-16 में इस मैदान पर शतक जमाया था। उप-कप्तान रोहित ने कहा, “कानपुर में खेलना मुझे पसंद है। व्यक्तिगत तौर पर मेरी इस शहर से अच्छी यादें जुड़ी हुई हैं।”

भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए किवी टीम के सामने 338 रनों का विशाल लक्ष्य रखा था। मेहमान टीम 50 ओवरों में सात विकेट के नुकसान पर 331 रन ही बना सकी। उसके लिए कोलिन मुनरो ने सबसे ज्यादा 75 रन बनाए। केन विलियमसन ने 64 और टॉम लाथम ने 65 रनों की पारियां खेलीं। भारत के लिए जसप्रीत बुमराह ने तीन, युजवेंद्र चहल ने दो और भुवनेश्वर कुमार ने एक विकेट लिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App