scorecardresearch

रोहित शर्मा को भारी पड़ा आरे कॉलोनी के पेड़ काटने का विरोध, यूजर्स बोले- इतना दर्द है तो स्टील के बल्ले से खेलो

रोहित शर्मा ने 8 अक्टूबर को ट्वीट कर मुंबई की आरे कॉलोनी में विकास के नाम पर हो रही पेड़ों की कटाई का विरोध किया था। उसके बाद से ही वे सोशल मीडिया पर यूजर्स के निशाने पर आ गए।

रोहित शर्मा को भारी पड़ा आरे कॉलोनी के पेड़ काटने का विरोध, यूजर्स बोले- इतना दर्द है तो स्टील के बल्ले से खेलो
रोहित शर्मा टेस्ट क्रिकेट में बतौर ओपनर दोनों पारियों में शतक लगाने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज हैं। (फाइल फोटो)

भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा आरे कॉलोनी में पेड़ों के काटने का विरोध करना भारी पड़ गया है। रोहित ने 2 दिन पहले यानी 8 अक्टूबर को ट्वीट कर मुंबई की आरे कॉलोनी में विकास के नाम पर हो रही पेड़ों की कटाई का विरोध किया था। हालांकि, इस ट्वीट के बाद वे सोशल मीडिया पर यूजर्स के निशाने पर आ गए। यूजर्स ने उनसे कहा कि यदि इतना ही दर्द है तो खुद पहले लकड़ी के बैट से खेलना छोड़ा। स्टील के बैट से खेलो।

रोहित ने ट्वीट किया था, ‘इस खबर में भले ही कुछ ज्यादा नहीं हो, लेकिन पेड़ों की कटाई काफी बुरी बात है। मुंबई का यह हिस्सा हरा-भरा रहता है। यहां के तापमान में भी हल्की सी गिरावट रहती है, इसका कारण आरे कॉलोनी है। हम इसे कैसे छीन सकते हैं। इसके अलावा उन हजारों के बारे में मत भूलिए, जिनके पास अब रहने के लिए जगह नहीं होगी।’


इस पर RT 303 अकाउंट वाले यूजर ने लिखा, ‘स्टील का बैट इस्तेमाल करो। तुम्हारे एक बैट के लिए कई पेड़ काटने पड़ते हैं। ऐसा ही स्टम्प के बारे में भी है। चलो लेदर की गेंद की बात करते हैं, तुम्हारी लेदर की गेंद के लिए जानवर मारे जाते हैं… ज्ञान बांटना बंद करो और चुपचाप अपने एसी वाले कमरे में बैठे रहो।’

 

Jugaadu Baba (parody account) के नाम से अकांउट वाले यूजर ने लिखा, ‘मिस्टर रोहित शर्मा, कल से लकड़ी के बैट, स्टम्प्स, लकड़ी के रैम्प, लकड़ी के ड्रेसिंग रूम इंटीरियर्स और अपने कमरे में लगे लकड़ी के फ्लोर का भी इस्तेमाल करना बंद करो। पहले अपने क्रिकेट बैट का बॉयकॉट करो, तब आरेफॉरेस्ट की राजनीति में घुसो।’

vikas नाम के यूजर ने लिखा, ‘भाई… कभी मुंबई लोकल में गया है।’ Main bhi Engineer ने ट्वीट किया, ‘जिस क्रिकेट बैट से तुम खेलते हो उसे तैयार करने के लिए हर साल हजारों जानवर बेघर हो जाते हैं। जिस स्टेडियम में तुम खेलते हो उसके रखरखाव में लाखों गैलन पानी का इस्तेमाल होता है। धरती को बचाना चाहते हो क्रिकेट खेलना छोड़ दो।’

Rantrovert नाम के अकाउंट वाले यूजर ने लिखा, ‘पूरे आरे फॉरेस्ट के 2 फीसदी पेड़ भी नहीं काटे गए हैं। मेट्रो की यह लाइन लोकल ट्रेनों पर पड़ रहे बोझ को कम करेगी और बेचारे किसी रोहित का क्रिकेट किट बैग ट्रेन से नहीं गिरेगा, भीड़ के कारण। पूरा मामला समझ कर कमेंट करो सर, सेलिब्रिटी हो आप।’

पढें खेल (Khel News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 10-10-2019 at 02:36:42 pm
अपडेट