ताज़ा खबर
 

आखिरी गेंद पर छक्के से जीत दिलाने में रोहित शर्मा हैं नंबर वन, जानिए और किन बल्लेबाजों के नाम है यह उपलब्धि

रोहित शर्मा ही वह खिलाड़ी हैं जिन्होंने आईपीएल में पहली बार मैच की आखिरी गेंद पर छक्का लगाकर टीम को जीत दिलाई थी। आईपीएल के इतिहास में पहली बार हुआ कि जब दूसरी पारी में बल्लेबाजी कर रही टीम महज 2 विकेट गंवाने के बावजूद आखिरी गेंद पर मैच जीत पाई।

Author नई दिल्ली | Updated: October 16, 2020 1:49 PM
Rohit Sharma Captain Mumbai Indians IPL 2020

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2020 में 15 अक्टूबर की रात किंग्स इलेवन पंजाब ने आखिरी गेंद पर छक्का लगाकर जीत अपने नाम की। आईपीएल के इतिहास में यह नौवीं बार है, जब किसी टीम ने आखिरी गेंद पर छक्का लगाकर जीत हासिल की हो। आखिरी गेंद पर छक्का लगाकर टीम को जीत दिलाने के मामले में रोहित शर्मा टॉप पर हैं। वह पिछले 13 साल में अब तक तीन बार ऐसा कारनामा कर चुके हैं। रोहित शर्मा ही वह इंसान हैं जिन्होंने आईपीएल में पहली बार मैच की आखिरी गेंद पर छक्का लगाकर अपनी टीम को जीत दिलाई थी।

रोहित शर्मा ने 2009 में कोलकाता नाइटराइडर्स के खिलाफ यह उपलब्धि हासिल की थी। उसके बाद उन्होंने 2011 में पुणे वॉरियर्स और 2012 में दिल्ली कैपिटल्स (तत्कालीन दिल्ली डेयरडेविल्स) ऐसा किया था। साल 2012 में सबसे ज्यादा 3 बार ऐसा हुआ, यानी मैच की आखिरी गेंद पर छक्का लगाकर टीम ने जीत हासिल की। मुंबई के ही सौरभ तिवारी ने 2012 में पुणे वॉरियर्स के खिलाफ मैच की आखिरी गेंद पर छक्का लगाकर जीत दिलाई थी। उसी साल ड्वेन ब्रावो ने कोलकाता के खिलाफ मैच की आखिरी गेंद पर छक्का लगाकर अपनी टीम को जीत दिलाई थी।

मैच की आखिरी गेंद पर छक्का लगाकर अपनी टीम को जीत दिलाने वाले खिलाड़ियों की सूची

खिलाड़ी किसके खिलाफ साल
रोहित शर्मा कोलकाता नाइटराइडर्स 2009
रोहित शर्मा पुणे वॉरियर्स 2011
जेम्स फ्रैंकलिन कोलकाता नाइटराइडर्स 2011
रोहित शर्मा दिल्ली कैपिटल्स 2012
सौरभ तिवारी पुणे वॉरियर्स 2012
ड्वेन ब्रावो कोलकाता नाइटराइडर्स 2012
महेंद्र सिंह धोनी किंग्स इलेवन पंजाब 2016
मिशेल सैंटनर राजस्थान रॉयल्स 2019
निकोलस पूरन रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर 2020

 

हालांकि, पंजाब-बंगलौर के मैच में एक और खास बात हुई। आईपीएल के इतिहास में पहली बार हुआ कि जब दूसरी पारी में बल्लेबाजी कर रही टीम महज 2 विकेट गंवाने के बावजूद आखिरी गेंद पर मैच जीत पाई। इससे पहले चार बार ऐसा हुआ है, जब दूसरी पारी में बल्लेबाजी कर रही टीम के सिर्फ 3 विकेट गिरे थे और उन्हें आखिरी गेंद में जीत नसीब हुई।

इसके अलावा क्रिस गेल ने भी इस मैच से शानदार वापसी की। गेल ने रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर के खिलाफ मैच से पहला अपना आखिरी मुकाबला 15 जनवरी 2020 को मीरपुर में बांग्लादेश प्रीमियर लीग में खेला था। उस मैच में गेल ने चिटगांव चैलेंजर्स की ओर से खेलते हुए 250 के स्ट्राइक रेट से 24 गेंद में 60 रन बनाए थे। उन्होंने अपनी पारी के दौरान 6 चौके और 5 छक्के लगाए थे। गेल ने बंगलौर के खिलाफ मैच में भी 5 छक्के लगाए।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 फिल्म इंडस्ट्री ही नहीं, दिग्गज क्रिकेटर की भी ‘ड्रीम गर्ल’ थीं हेमा मालिनी, सार्वजनिक रूप से किया था प्यार का इजहार
2 रोमांचक हुई टॉप-4 में पहुंचने की होड़, जानिए पर्पल और ऑरेंज कैप की रेस में कौन आगे
3 RCB vs KXIP: विराट कोहली ने तोड़ा महेंद्र सिंह धोनी का रिकॉर्ड, मोहम्मद शमी भी बने स्पेशल क्लब के मेंबर
यह पढ़ा क्या?
X