scorecardresearch

रोजर फेडरर ने किया संन्यास का ऐलान, 24 साल में खेले 1500 से ज्यादा मैच; जीते 20 ग्रैंडस्लैम

रोजर फेडरर ने 41 साल की उम्र में टेनिस को अलविदा कहने का फैसला किया। 20 ग्रैंडस्लैम खिताब जीत चुके फेडरर जुलाई 2021 में विम्बलडन में खेलने के बाद कोर्ट पर नहीं उतरे हैं।

रोजर फेडरर ने किया संन्यास का ऐलान, 24 साल में खेले 1500 से ज्यादा मैच; जीते 20 ग्रैंडस्लैम
रोजर फेडरर ने ट्विटर पर एक भावुक नोट लिखकर संन्यास की घोषणा की। (फोटो – रोजर फेडरर फेसबुक)

स्विट्जरलैंड के टेनिस स्टार रोजर फेडरर ने गुरुवार को पेशेवर टेनिस से संन्यास लेने की घोषणा की और कहा कि अगले हफ्ते लंदन में लीवर कप उनका ‘विदाई टूर्नामेंट’ होगा। यह खबर अमेरिकी ओपन के समाप्त होने के बाद आयी है जिसे 23 बार की मेजर चैम्पियन सेरेना विलियम्स के करियर का अंतिम टूर्नामेंट माना जा रहा है। अपने समय के दो सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों के एक साथ खेल को अलविदा कहने से टेनिस में एक युग का समापन हो जायेगा। फेडरर ने अपने ट्विटर पोस्ट में बताया कि उन्होंने 24 साल के करियर में 1500 से अधिक मैच खेले।

फेडरर ने गुरुवार को अपने सोशल मीडिया हैंडल के जरिये कहा, ‘‘ आप में से बहुत से लोग जानते हैं कि पिछले तीन वर्षों में मैंने  चोट और सर्जरी के रूप में कई चुनौतियों का सामना किया है। मैंने पूर्ण रूप से खेल में लौटने के लिए कड़ी मेहनत की है।  मैं हालांकि अपने शरीर की क्षमता और सीमा को भी जानता हूं। इसका स्पष्ट संदेश मुझे हाल ही में मिला।’’   

फेडरर ने 41 साल की उम्र में टेनिस को अलविदा कहने का फैसला किया। 20 ग्रैंड स्लैम खिताब जीत चुके फेडरर जुलाई 2021 में विम्बलडन में खेलने के बाद कोर्ट पर नहीं उतरे हैं। इसके बाद उनके घुटने की कई सर्जरी हुई, इसे देखते हुए यह खबर हैरान करने वाली नहीं है। फेडरर इस  साल जुलाई में आल इंग्लैंड क्लब में सेंटर कोर्ट के 100 साल पूरे होने पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए थे और तब उन्होंने कहा था कि उन्हें एक और बार वहां खेलने की उम्मीद है। उन्होंने यह भी कहा था कि वह अक्टूबर में स्विस इंडोर में टूर्नामेंट में खेलेंगे।

फेडरर ने ट्विटर पर पोस्ट किया कि अगले हफ्ते लंदन में लीवर कप उनका अंतिम पेशेवर टूर्नामेंट होगा। यह एक टीम स्पर्धा है जिसे उनकी प्रबंधन कंपनी आयोजित करती है। फेडरर का अंतिम मैच सात जुलाई 2021 में था, जब वह सेंटर कोर्ट पर विम्बलडन क्वार्टरफाइनल में हुबर्ट हुर्काज से हार गये थे। इसके तुरंत बाद फेडरर के दाहिने घुटने की सर्जरी हुई जो डेढ़ साल में उनके घुटने का तीसरा ऑपरेशन था।

फेडरर की पत्नी मिर्का भी टेनिस खिलाड़ी रही है। दोनों पहली बार ओलंपिक में थे। इनके दो जुड़वां (चार) बच्चे है। दुनिया के महानतम खिलाड़ियों में से एक फेडरर ने टूर स्तर के 103 खिताब जीते है। एकल मैचों में 1,251 जीत के साथ वह 1968 में शुरू हुए ओपन युग में जिमी कॉनर्स के बाद दूसरे स्थान पर हैं। फेडरर के रिकॉर्ड की लंबी फेहरिस्त में सबसे अधिक उम्र में एटीपी रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंचना शामिल है। उन्होंने 2018 में 36 साल की उम्र में पहले स्थान पर वापसी की थी।

फेडरर ने 2003 में विम्बलडन के तौर पर जब अपना पहला ग्रैंड स्लैम जीता था तब पुरुषों में सबसे ज्यादा एकल ग्रैंड स्लैम का रिकॉर्ड पीट सैम्प्रास का था। उन्होंने 14 ऐसे खिताब जीते थे। फेडरर ने उनके रिकॉर्ड को पीछे छोड़ते हुए कुल 20 मेजर खिताब जीते। उन्होंने विंबलडन में आठ चैंपियनशिप, ऑस्ट्रेलियन ओपन में छह, अमेरिकी ओपन में पांच और फ्रेंच ओपन में एक चैंपियनशिप जीती। फ्रेंच ओपन में 2009 की जीत के साथ उन्होंने करियर ग्रैंड स्लैम को पूरा किया। फेडरर को उनके शानदार ‘फोरहैंड सर्विस’, ‘फुटवर्क’ और आक्रामक खेल के लिए जाना जाता है।

उन्होंने अपने से कम उम्र के शीर्ष खिलाड़ियों को भी कई बार कड़ी टक्कर दी। इसमें 36 वर्षीय नडाल और 35 वर्षीय जोकोविच के खिलाफ उन्होंने कई यादगार मैच खेले। इन दोनों खिलाड़ियों ने ग्रैंड स्लैम खिताब के मामले में हालांकि फेडरर को पीछे छोड़ दिया। नडाल 22 ग्रैंड स्लैम के साथ शीर्ष पर है जबकि जोकोविच के नाम 21 ऐसे खिताब है। फेडरर ने गुरुवार को कहा, ‘‘ मैं  इतने सारे अविस्मरणीय मैच खेलने को लेकर खुद को भाग्यशाली समझता हूं। ’’ उन्होंने किसी प्रतिद्वंद्वी का नाम लिए बगैर कहा, ‘‘ हमने एक-दूसरे को खेल में और जोर लगाने के लिए प्रेरित किया और हम टेनिस को नये स्तर पर आगे ले गये।’’

पढें खेल (Khel News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट