Ind vs SA: ऋषभ पंत ने एमएस धोनी का रिकॉर्ड तोड़ा, एशिया के बाहर 3 देशों में शतक लगाने वाले पहले भारतीय विकेटकीपर बने

ऋषभ पंत इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय विकेटकीपर हैं। ऑस्ट्रेलिया में वह टेस्ट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले एशियाई विकेटकीपर भी हैं। ऋषभ पंत इंग्लैंड में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले दूसरे एशियाई विकेटकीपर हैं।

Rishabh Pant India vs South Africa Rishabh Pant Records Cricket Records
ऋषभ पंत टेस्ट क्रिकेट में साउथ अफ्रीका में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले एशियाई विकेटकीपर बने। (सोर्स- ट्विटर/बीसीसीआई)

साउथ अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट में ऋषभ पंत ने दूसरी पारी में शतक लगाया। उनके शतक ने जहां भारत को साउथ अफ्रीका के खिलाफ 200 से ज्यादा रन की लीड हासिल करने में मदद मिली। वहीं, भारतीय विकेटकीपर ने अपने नाम कई रिकॉर्ड भी दर्ज किए। उन्होंने महेंद्र सिंह धोनी का रिकॉर्ड भी तोड़ा।

ऋषभ पंत एशिया के बाहर सबसे ज्यादा शथक लगाने वाले भारतीय विकेटकीपर हैं। ऋषभ पंत का टेस्ट क्रिकेट में यह चौथा शतक है। चारों शतक उन्होंने अलग-अलग देशों में बनाए हैं। साउथ अफ्रीका से पहले उन्होंने इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और घरेलू मैदान पर शतक लगाया था। ऋषभ पंत SENA (साउथ अफ्रीका, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया) देशों में 3 टीमों के खिलाफ शतक लगाने वाले इकलौते भारतीय विकेटकीपर हैं।

ऋषभ पंत साउथ अफ्रीका में टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले एशियाई विकेटकीपर भी बने। उनसे पहले यह रिकॉर्ड महेंद्र सिंह धोनी के नाम था। महेंद्र सिंह धोनी ने 2010 में सेंचूरियन में 90 रन की पारी खेली थी।

ऋषभ पंत इंग्लैंड (114) और ऑस्ट्रेलिया (नाबाद 159) में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय विकेटकीपर भी हैं। ऑस्ट्रेलिया में वह टेस्ट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले एशियाई विकेटकीपर भी हैं। ऋषभ पंत इंग्लैंड में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले दूसरे एशियाई विकेटकीपर हैं। सैयद किरमानी (78) न्यूजीलैंड में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय विकेटकीपर हैं।

टेस्ट क्रिकेट में ऐसा पहली बार हुआ है, जब किसी भारतीय ने शतक लगाया है और टीम इंडिया की पारी 200 रन के भीतर सिमट गई है। इस मामले में इससे पहले टीम इंडिया का न्यूनतम स्कोर 208 रन था, जो उसने 1998/99 में न्यूजीलैंड के खिलाफ वेलिंगटन में बनाया था। तब मोहम्मद अजहरुद्दीन 103 रन बनाकर नाबाद रहे थे।

साउथ अफ्रीका में न्यूनतम स्कोर 215 रन था, जो 1992/93 में पोर्ट एलिजाबेथ में बनाया था। तब कपिल देव ने 129 रन बनाए थे। इंग्लैंड में इस मामले में भारत का न्यूनतम स्कोर 219 रन है। साल 1996 में एजबस्टन में खेले गए टेस्ट मैच में टीम इंडिया 219 रन पर ऑलआउट हो गई थी। उस मैच में सचिन तेंदुलकर ने 122 रन बनाए थे।

विनोद कांबली ने बांधे ऋषभ पंत की तारीफों के पुल

टेस्ट क्रिकेट में यह पहली बार है, जब किसी टीम के सभी 20 विकेट कैच आउट हुए। इससे पहले 5 मौके ऐसे आए थे, जब किसी टीम के 19-19 बल्लेबाज कैच आउट हुए थे। ऐसा पहली बार 1982/83 में ब्रिसबेन में इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए मैच में हुआ था।

उसके बाद 2009/10 में सिडनी में पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया, 2010/11 में डरबन में भारत और साउथ अफ्रीका, 2013/14 में ब्रिसेबन में इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया और 2019/20 में केप टाउन में साउथ अफ्रीका और इंग्लैंड के बीच मैच में हुआ था।

पढें खेल समाचार (Khel News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।