ताज़ा खबर
 

Rio Olympics 2016: मनु-सुमित भी हारे, भारत का बैडमिंटन युगल में अभियान समाप्त

भारत की विश्व में 21वें नंबर की जोड़ी को बियाओ और वेई के हाथों 35 मिनट तक चले मैच में 13-21, 15-21 से हार का सामना करना पड़ा।

Author रियो डि जेनेरियो | August 13, 2016 2:54 PM
ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने वाली भारत की पहली बैडमिंटन पुरुष जोड़ी मनु अत्री और बी सुमीत रेड्डी। (फाइल फोटो)

मनु अत्री और बी सुमित रेड्डी की चीन के चाइ बियाओ और होंग वेई के हाथों ग्रुप डी के दूसरे मैच में हारने के साथ ही भारत को रियो ओलंपिक में बैडमिंटन युगल में अभियान भी समाप्त हो गया। अपने पहले ओलंपिक में खेल रही भारत की विश्व में 21वें नंबर की जोड़ी को बियाओ और वेई के हाथों 35 मिनट तक चले मैच में 13-21, 15-21 से हार का सामना करना पड़ा। मनु और सुमित गुरुवार (11 अगस्त) को ग्रुप में अपने पहले मैच में इंडोनेशिया के मोहम्मद अहसन और हेंद्रा सेतियावान से हार गए थे। उन्हें अब जापान के हिरोयुकी इंडो और केनिची हयाकावा से मैच खेलना है। जापानी टीम पहले ही नॉकआउट चरण में पहुंच चुकी है। इंडोनेशिया और चीनी जोड़ी के बीच मैच खेला जाएगा जिसमें जीत दर्ज करने वाली टीम क्वालीफाई करेगी।

इससे पहले ज्वाला गुट्टा और अश्विनी पोनप्पा की अनुभवी भारतीय जोड़ी ग्रुप ए में लगातार दूसरी हार के बाद ओलंपिक महिला युगल स्पर्धा से बाहर हो गयीं। हालैंड की इफजे मुस्केन्स और सेलेना पिएक की जोड़ी के खिलाफ ज्वाला-अश्विनी 48 मिनट के अंदर 16-21 21-16 17-21 से हार गयी। ग्रुप तालिका में यह भारतीय जोड़ी नीचे से दूसरे स्थान पर थी। अब यह जोड़ी ग्रुप का अंतिम मैच में इंडोनेशिया की पुतिता सुपाजिराकुल और सपसिरी ताइरातानाचाई से भिड़ेंगी जो अभी तक एक भी मैच नहीं जीत पायी और ग्रुप तालिका में निचले स्थान पर है।

इससे पहले गुरुवार (11 अगस्त) को विश्व के 11 वें नंबर के खिलाड़ी किदाम्बी श्रीकांत ने पुरुष एकल के अपने पहले मैच के दूसरे गेम में मैक्सिको के लिनो मुनोज से मिली कड़ी चुनौती से उबरते हुए सीधे गेम में जीत दर्ज की। ग्रुप एच के मैच में श्रीकांत ने विश्व के 85 वें नंबर के खिलाड़ी मुनोज को 41 मिनट चले मुकाबले में 21-11, 21-17 से हराया। इससे पहले साइना नेहवाल और पी वी सिंधू ने भी महिला एकल में अपने पहले मैच जीत लिए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App