ताज़ा खबर
 

ओलंपिक के लिए भारतीय महिला और पुरुष हॉकी टीम रियो पहुंची

भारतीय महिला टीम 36 वर्षों में पहली बार ओलंपिक में हिस्सा ले रही है।

Author रियो डि जिनेरियो | July 29, 2016 11:39 PM
Olympic Games Rio 2016, Rio Olympics 2016, indian Hockey Mens Team, indian womens Hockey Team, Hockey in Rioभारतीय पुरुष हॉकी टीम के सदस्य रियो जाने से पहले। (फाइल फोटो)

ओलंपिक में अपनी खोयी प्रतिष्ठा हासिल करने को बेताब भारत की पुरुष और महिला टीम स्थानीय समयानुसार शुक्रवार (29 जुलाई) सुबह यहां पहुंची। गोलकीपर पी आर श्रीजेश की अगुवाई में पुरुष टीम मैड्रिड शहर से यहां पहुंची है जहां उसने स्पेन की राष्ट्रीय टीम के खिलाफ दो अभ्यास मैच खेले थे। महिला टीम फिलाडेल्फिया से यहां पहुंची जहां उसने कनाडा के खिलाफ दो और अमेरिका के खिलाफ एक मैच में जीत दर्ज की। भारतीय महिला टीम 36 वर्षों में पहली बार ओलंपिक में हिस्सा ले रही है।

भारतीय पुरुष टीम ने लंदन में एफआईएच चैंपियन्स ट्रॉफी में अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन यहां आने से पहले स्पेन के हाथों उसे दोनों अभ्यास मैचों में हार का सामना करना पड़ा। कप्तान श्रीजेश ने हालांकि कहा कि उनकी पहली प्राथमिकता कुछ चोटी की टीमों को हराना है। श्रीजेश ने कहा, ‘हमारी पहली प्राथमिकता अपने पूल में जर्मनी, अर्जेंटीना और नीदरलैंड जैसी शीर्ष टीमों को हराना है। हम भले ही पूर्व में इन टीमों को हरा चुके हैं और हाल में चैंपियन्स ट्रॉफी में जर्मनी को हराने के करीब पहुंच गये थे लेकिन ओलंपिक खेल पूरी तरह से अलग तरह के खेल होते हैं और हमें बेजोड़ प्रदर्शन करना होगा।’

उन्होंने कहा कि प्रत्येक मैच महत्वपूर्ण है लेकिन उनका पहला लक्ष्य क्वार्टर फाइनल में जगह बनाना है। श्रीजेश ने कहा, ‘निश्चित तौर पर हम यहां पदक जीतने के लिये आए हैं। इसके लिये हमें मैच दर मैच आगे बढ़ना होगा। चाहे आयरलैंड हो या कनाडा या फिर मौजूदा ओलंपिक चैंपियन जर्मनी हम किसी भी मैच को हल्के से नहीं ले सकते हैं। हम प्रत्येक मैच को अपना आखिरी मैच समझकर खेलेंगे।’

भारतीय टीम पूल बी में नीदरलैंड, अर्जेंटीना, जर्मनी, आयरलैंड और कनाडा से भिड़ना है। उसे क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने के लिये अपने पूल में शीर्ष चार में जगह बनानी होगी। दूसरी तरफ भारतीय महिला टीम को अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ग्रेट ब्रिटेन, अमेरिका और जापान के साथ पूल बी में रखा गया है। कप्तान सुशीला चानू को उम्मीद है कि अमेरिका में मिली सफलता का टीम को रियो में फायदा मिलेगा।

चानू ने कहा, ‘इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में हार के बाद ओलंपिक खेलों से पहले अमेरिका में मिली जीत से हमारा आत्मविश्वास बढ़ा है। हम पहली बार ओलंपिक में खेल रही हैं और जानती हैं कि हमारे अच्छे प्रदर्शन से देश में महिला हॉकी को बढ़ावा मिलेगा। हम अच्छा प्रदर्शन करने के लिये प्रतिबद्ध हैं और हमारा पहला लक्ष्य क्वार्टर फाइनल में पहुंचना है।’ भारतीय पुरुष टीम का पहला छह अगस्त को आयरलैंड से होगा। यह मैच भारतीय समयानुसार शाम सात बजकर 30 मिनट से खेला जाएगा। महिला टीम इसके एक दिन बाद सात अगस्त को जापान के खिलाफ अपने अभियान की शुरुआत करेगी। यह मैच भी सात बजकर 30 मिनट से शुरू होगा। सभी मैचों का स्टार स्पोर्ट्स और डीडी नेशनल पर सीधा प्रसारण किया जाएगा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ओलंपिक गांव में दो अगस्त को होगा भारतीय टीम का स्वागत
2 ‘रन फॉर रियो’ के लिए तैयारियां जोर शोर से
3 ओलंपिक फर्राटा दौड़ में स्वर्ण पदकों की हैट्रिक लगाना चाहते हैं बोल्ट
ये पढ़ा क्या?
X