ताज़ा खबर
 

इन 5 वजहों से चौथे वनडे में डूब गई टीम इंडिया की लुटिया, सीरीज फतह के लिए जीतना होगा पांचवा मैच

भारत सीरीज के 2 और वेस्टइंडीज ने एक मैच जीता है। अगर भारत अगला वनडे जीतता है तो सीरीज फतह कर लेगा। लेकिन वेस्टइंडीज जीत गया तो सीरीज ड्रॉ हो जाएगी।

भारत को हराने के बाद जश्न मनाती वेस्टइंडीज टीम।

चौथे वनडे में वेस्टइंडीज ने भारत को 11 रनों से मात देकर सबको चौंका दिया। भारतीय टीम 190 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए 178 रनों पर ही ढेर हो गई। ओपनर अजिंक्य रहाणे और विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी ने अर्धशतक जरूर लगाया, लेकिन वह टीम को जीत नहीं दिला सके। विंडीज के कप्तान जेसन होल्डर शानदार प्रदर्शन करते हुए 27 रन देकर पांच भारतीय खिलाड़ियों को पवेलियन भेजा। केसरिक विलियम्स, देवेंद्र बीशू और एशले नर्स को 1-1 विकेट मिला। वहीं अलजारी जोसफ ने 2 विकेट चटकाए। अब अगर भारत को यह सीरीज जीतनी है तो उसे पांचवा वनडे जीतना होगा। पहला मैच बारिश के कारण रद्द हो गया था। लेकिन पिछले दो मैचों में शानदार प्रदर्शन करने वाली टीम इंडिया आखिर ढेर क्यों हो गई। आइए आपको बताते हैं भारतीय टीम की हार के 5 कारण:

बल्लेबाजों का लचर प्रदर्शन : मैच में रहाणे ने 91 गेंदों पर 60 रन बनाए। वहीं महेंद्र सिंह धोनी 114 गेंदों पर 54 रनों की पारी खेलकर विलियम्स का शिकर बने। उनके अलावा कोई और बल्लेबाज इस मैच में टिककर रन नहीं बना सका। युवराज सिंह की जगह इस मैच में दिनेश कार्तिक को मौका दिया गया था, जो महज 2 रन बनाकर आउट हो गए।

फेल रहे कप्तान कोहली: इस सीरीज में कप्तान विराट कोहली का प्रदर्शन मिला-जुला रहा है। पहले मैच में उन्होंने 32, दूसरे में 87 रन बनाए थे। लेकिन तीसरे वनडे में वह महज 11 रन बनाकर चलते बने थे। अगर अंतिम ओवरों में महेंद्र सिंह धोनी और केदार जाधव शानदार बल्लेबाजी न करते तो भारत 251 का टारगेट वेस्टइंडीज के लिए खड़ा नहीं कर पाता। वहीं चौथे वनडे में भी कोहली 3 रन ही बना सके।

देखें मैच के हाइलाइट्स:

जेसन की धारधार गेंदबाजी: इस मैच में विंडीज टीम के कप्तान जेसन होल्डर घातक साबित हुए। उन्होंने पांच भारतीय बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा। कप्तान कोहली का विकेट भी उन्होंने ही लिया। इसके अलावा पंड्या, जाडेजा, उमेश यादव और मोहम्मद शमी भी उनके ही शिकार बने।

मिडिल अॉर्डर का ढहना: इस वक्त टीम इंडिया के मिडिल अॉर्डर में जगह बनाने के लिए कई खिलाड़ी जद्दोजहद कर रहे हैं। युवराज सिंह अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पा रहे हैं। टीम मैनेजमेंट युवा प्रतिभाओं को मौका देना चाहता है। महेंद्र सिंह धोनी तो रन बना रहे हैं, लेकिन चौथे नंबर पर कौन जगह पक्की कर पाएगा। यह देखना अहम होगा। चौथे वनडे में दिनेश कार्तिक को मौका दिया गया था, लेकिन वह फ्लॉप रहे।

ऋषभ को मौका कब?: इस सीरीज में भारत ने अब तक ऋषभ पंत को मौका नहीं दिया है। इस युवा खिलाड़ी ने आईपीएल में शानदार प्रदर्शन किया था, लिहाजा उन्हें भविष्य के लिए टीम में मौका देना जरूरी है। इस दौरे पर कई बार वह सीनियर खिलाड़ियों से टिप्स लेते देखे गए हैं।

देखें वीडियो ः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App