ताज़ा खबर
 

IPL-8: दिल्ली पर भारी पड़े गेल, गेंदबाजों के कमाल से जीता बंगलूर

दिल्ली डेयरडेविल्स जीत के सिलसिले को आगे नहीं बढ़ा पाई और फीरोज शाह कोटला पर जेपी डुमिनी की अगुआई वाली यह टीम फिसड्डी साबित हुई। न तो बल्लेबाज चले और न ही गेंदबाज...

Author April 27, 2015 10:23 AM
डेयरडेविल्स की यह आरसीबी के हाथों लगातार आठवीं हार है। आरसीबी ने दूसरी बार किसी टीम को दस विकेट से हराया है। (फ़ोटो-पीटीआई)

फ़ज़ल इमाम मल्लिक

दिल्ली डेयरडेविल्स जीत के सिलसिले को आगे नहीं बढ़ा पाई और फीरोज शाह कोटला पर जेपी डुमिनी की अगुआई वाली यह टीम फिसड्डी साबित हुई। न तो बल्लेबाज चले और न ही गेंदबाज। रविवार को फीरोज शाह कोटला पर उसे इस सत्र की सबसे बुरी हार से रूबरू होना पड़ा। दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए रविवार को कुछ भी ठीक नहीं रहा।

पहले दिल्ली ने टॉस गंवाया और फिर मैच। फीरोज शाह कोटला के इस विकेट पर पहले बल्लेबाजी को जोखिम न तो दिल्ली उठाना चाहती थी और न ही बंगलूर। इसलिए बंगलूर के कप्तान विराट कोहली ने अपने इस ‘घरेलू’ मैदान पर टॉस जीता तो बिना किसी हीला-हवाले के पहले गेंदबाजी का चयन किया। दिल्ली के कप्तान जेपी डुमिनी अगर टॉस जीतते तो वे भी पहले गेंदबाजी का फैसला ही करते क्योंकि मौसम में थोड़ी नमी थी और तेज हवाएं तेज गेंदबाजों को मदद पहुंचाने वाली थी। फिर मिशल स्टार्क जैसा तेज गेंदबाज हो तो कोहली को गेंदबाजी का फैसला करने में किसी तरह की परेशानी नहीं हुई। उन्होंने सिक्का के उछाल को भी सही पढ़ा और विकेट को भी। नतीजा टॉस जीतते ही उन्होंने बिना देर किए फीलडिंग का फैसला किया।

HOT DEALS
  • Samsung Galaxy J6 2018 32GB Gold
    ₹ 12990 MRP ₹ 14990 -13%
    ₹0 Cashback
  • Honor 8 32GB Pearl White
    ₹ 12999 MRP ₹ 30999 -58%
    ₹1500 Cashback

पर दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए इसके बाद कुछ भी ठीक नहीं रहा। बल्लेबाज आते रहे और जाते रहे। पहले ओवर में ही उसके फार्म में चल रहे ओपनर श्रेयस अय्यर को स्टार्क ने चलता कर दिया। स्टार्क की पांचवीं गेंद पर श्रेयस अय्यर गच्चा खा गए और विकटों के सामने पकड़े गए। इस झटके से फिर दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम उबर नहीं पाई। स्टार्क, वरुण अरोन, डेविड वीज और हर्षल पटेल ने सधी हुई तेज गेंदबाजी की तो बाएं हाथ के स्पिनर इकबाल अब्दुल्ला ने भी बेहतरीन गेंदबाजी कर दिल्ली टीम को कभी भी खुल कर खेलने नहीं दिया।

दिल्ली की टीम पहले तेरह ओवर में ही मैच से बाहर हो चुकी थी। तब उसकी आधी पैवेलियन लौट गई थी और स्कोर बोर्ड पर महज 67 रन टंगे थे। इसके बाद दिल्ली की टीम के लिए ज्यादा कुछ करने को भी नहीं था क्योंकि तब दिल्ली की ऊपरी क्रम पूरी तरह चरमरा गया था और मयंक अग्रवाल, श्रेयस अय्यर, जेपी डुमिनी, युवराज सिंह और एंजिलो मैथ्यूज की पैवेलियन वापसी हो गई थी। इसके बाद दिल्ली से बड़े स्कोर की उम्मीद की भी नहीं जा सकती थी।

श्रेयस के पहले ओवर में ही आउट होने के बाद हालांकि डुमिनी और मयंक ने टीम की पारी को संवारने की कोशिश की लेकिन टीम का ऊपरी क्रम अचानक लड़खड़ा गया। सात गेंदों के अंदर तीन विकेट निकल जाने से दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम पूरी तरह दबाव में आ गई। पहले डुमिनी गए। वीज ने विकेट के पीछे दिनेश कातिर्क के हाथों उन्हें झुलवा कर उनकी पारी का अंत किया। तब दिल्ली का स्कोर था 36।

टीम के स्कोर में चार रन और जुड़े थे कि दिल्ली डेयरडेविल्स के सबसे महंगे खिलाड़ी युवराज सिंह भी चलते बने। युवराज फिर दो रन बना कर आउट हुए। सोलह करोड़ की रकम इस खिलाड़ी पर दिल्ली ने लगाई थी लेकिन युवराज सात मैचों में महज एक हाफ सेंचुरी ही बना सके हैं और उनकी वजह से टीम प्रबंधन कई युवा खिलाड़ियों को मौके नहीं दे रहा है।

कप्तान डुमिनी हालांकि युवराज को लेकर अभी भी पुरी उम्मीद हैं और कहते हैं कि उनका बेहतरीन आना अभी बाकी है। लेकिन युवराज खुद नहीं जानते हैं कि उनका बेहतरीन कब आएगा। टीम सात मैच खेल चुकी है और युवराज के बल्ले से रन नहीं निकल रहे हैं। अगली गेंद पर श्रीलंकाई ऑलराउंडर भी डिविलयर्स को आसान कैच देकर लौट गए। इसके बाद दिल्ली की टीम ज्यादातर समय संघर्ष करती ही नजर आई।

केदार जाधव ने जरूर थोड़ा संघर्ष किया और टीम को सम्मानजनक स्कोर तक ले जाने की कोशिश की और इसी कोशिश में उन्होंने अपना विकेट गंवाया। वे पारी के अठारहवें ओवर में आउट हुए। केदार नौवें खिलाड़ी के तौर पर जब आउट हुए तब टीम का स्कोर था 92 रन और तीन रन बाद दिल्ली डेयरडेविल्स की पूरी टीम 18.5 ओवर में ही आउट हो गई।

इस सत्र के आइपीएल में दिल्ली का यह सबसे कम स्कोर रहा। सिर्फ तीन बल्लेबाज ही दोहरे अंक में पहुंचे। केदार जाधव ने सबसे ज्यादा 33 रन बनाए। गेंदबाजों के लिए 95 रनों का बचाव करना बेहद चुनौती भरा था। बीसम बीस क्रिकेट में इतने कम रनों का बचान लगभग नामुमकिन होता है। वह भी तब जब विपक्षी टीम में क्रिस गेल और एबी डिविलयर्स जैसा धुआंधार करने वाले बल्लेबाज हों और फिर विराट कोहली भी टीम में हों तो 95 रनों का स्कोर गेंदबाजों के लिए काफी नहीं होता है। हुआ भी ऐसा ही।

बंगलूर जब बल्लेबाजी करने उतरी तो गेल चले और ऐसे चले कि उनके आगे सब फेल हो गए। न तो इमरान ताहिर का फिल्पर काम आया और न ही अमित मिश्रा अपने लेग स्पिन से उन्हें गच्चा दे पाए। शहबाज नदीम की फ्लाइट ने भी गेल को किसी तरह की परेशानी में नहीं डाला।
कूल्टर नाइल और जोसेफ डोमनिक भी गेल और दूसरे ओपनर विराट कोहली को रन बनाने से नहीं रोक सके। दोनों ने मिल कर रन कूटे और ग्यराहवें ओवर की तीसरी गेंद पर ही लक्ष्य को पीछे छोड़ कर दिल्ली को दा विकेट से करारी मात दी।

गेल ने 40 गेंदों पर नाबाद 62 रन बनाए तो विराट ने 23 गेंदों पर 35 रन ठोंके। गेल ने किसी भी गेंदबाज को नहीं बख्शा। इस मैदान पर आइपीएल में शतक जमाने वाले गेल ने 29 गेंदों पर हाफ सेंचुरी जमाई। इसमें छह चौके और तीन छक्के शामिल थे। गेल इसके बाद भी नहीं रुके। उन्होंने अमित मिश्रा की गेंद पर दर्शनीय छक्का लगाया। कोहली ने कूल्टर नाइल पर चौका लगा कर टीम को जीत दिलाई।

डेयरडेविल्स की यह आरसीबी के हाथों लगातार आठवीं हार है। आरसीबी ने दूसरी बार किसी टीम को दस विकेट से हराया है। इससे पहले उसने 2010 में राजस्थान रॉयल्स को इसी अंतर से हराया थ। आइपीएल के मौजूदा सत्र में यह आरसीबी की छह मैचों में तीसरी जीत है जिससे उसके छह अंक हो गए हैं। डेयरडेविल्स को सातवें मैच में चौथी हार का सामना करना पड़ा है। इस जीत से बंगलूर की टीम अंक तालिका में चौथे स्थान पर पहुंच गई है, जबकि दिल्ली पांचवें स्थान पर खिसक गई है।

स्कोर बोर्ड

दिल्ली डेयरडेविल्स : मयंक अग्रवाल स्टं कार्तिक बो अब्दुल्ला 27, श्रेयास अय्यर एलबीडब्लू बो स्टार्क 0, जेपी डुमिनी का कार्तिक बो वीज 13, युवराज सिंह का कार्तिक बो आरोन 2, एंजेलो मैथ्यूज का डिविलियर्स बो आरोन 0, केदार जाधव का स्टार्क बो पटेल 33, नाथन कूल्टर नाइल एलबीडब्लू बो वीज 4, अमित मिश्रा बो स्टार्क 2, शाहबाज नदीम बो स्टार्क 2, इमरान ताहिर नॉटआउट 3, डोमिनिक जोसेफ रन आउट 1

अतिरिक्त 8, कुल (18.2 ओवर में) 95 रन।
विकेट पतन : 1-2, 2-36, 3-39, 4-39, 5-67, 6-72, 7-85, 8-90, 9-92
गेंदबाजी : स्टार्क 4-0-20-3, आरोन 4-0-24-2, पटेल 3-0-14-1, वीज 3.2-0-18-2, अब्दुल्ला 4-1-17-1

रॉयल चैलेंजर्स बंगलूर: क्रिस गेल नॉटआउट 62, विराट कोहली नॉटआउट 35, अतिरिक्त 2, कुल (10.3 ओवर में, बिना किसी नुकसान के) 99 रन।

गेंदबाजी: कूल्टर नाइल 3.3-0-30-0, डोमिनिक जोसेफ 1-0-14-0, ताहिर 2-0-20-0, डुमिनी 1-0-7-0, मिश्रा 2-0-25-0, मैथ्यूज 1-0-3-0

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App