ताज़ा खबर
 

विराट कोहली के ओपनर देवदत्त पडिक्कल ने लगाई शतकों की हैट्रिक, IPL में नहीं बिके बल्लेबाज ने भी सेंचुरी लगा टीम को जिताया

Vijay Hazare Trophy 2020-21: रेलवे को हराने के साथ कर्नाटक ग्रुप सी की पॉइंट टेबल में टॉप पर पहुंच गई। साथ ही उसने अंतिम आठ के लिए क्वालिफाई भी कर लिया। उत्तर प्रदेश दूसरे स्थान पर रहा। उत्तर प्रदेश ने ओडिशा को छह विकेट से शिकस्त दी।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: March 1, 2021 12:42 PM
Devdutt Padikkal Amandeep Khare vijay hazare trophyदेवदत्त पडिक्कल का विजय हजारे ट्रॉफी में यह 5 मैच में तीसरा शतक है। छत्तीसगढ़ के अमनदीप खरे ने भी शतक लगाया। (सोर्स- ट्विटर/इंस्टाग्राम)

शानदार लय में चल रहे युवा सलामी बल्लेबाज देवदत्त पडिक्कल की लगातार तीसरी नाबाद शतकीय पारी के दम पर गत चैंपियन कर्नाटक ने विजय हजारे ट्रॉफी (Vijay Hazare Trophy) 2020-21 में ग्रुप सी के मैच में रविवार यानी 28 मार्च को रेलवे को 10 विकेट से करारी शिकस्त देकर क्वार्टर फाइनल में जगह पक्की की।

वहीं ग्रुप के ए एक मैच में त्रिपुरा को छत्तीसगढ़ के खिलाफ पांच विकेट से हार का सामना करना पड़ा। इस मैच में छत्तीसगढ़ की ओर से अमनदीप खरे (Amandeep Khare) ने शानदार शतक लगाया। अमनदीप खरे हाल ही में हुई आईपीएल नीलामी में नहीं बिके (UnSold) थे। उनका बेस प्राइस 20 लाख रुपए था। ग्रुप सी में बेंगलुरु (Bengaluru) के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम (M.Chinnaswamy Stadium) में खेले गए मैच में विराट कोहली की अगुआई वाली रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर (Royal Challengers Bangalore) के देवदत्त पडिक्कल ने रेलवे के खिलाफ 125 गेंद में 145 रन की आकर्षक पारी खेली।

बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने इस दौरान नौ छक्के और इतने ही चौके लगाए। पडिक्कल का यह लगातार तीसरा शतक है। उन्होंने पिछले दो मैचों में नाबाद 152 (ओडिशा के खिलाफ) और नाबाद 126 (केरल के खिलाफ) रन की पारियां खेली थीं। पडिक्कल ने इससे पहले दो मैचों में अर्धशतक लगाए थे। पांच मैचों में उनके नाम 190.66 के औसत से 572 रन हैं। वह बल्लेबाजों की तालिका में शीर्ष पर हैं।

20 साल के इस बल्लेबाज को कप्तान रविकुमार समर्थ का अच्छा साथ मिला। रविकुमार समर्थ ने 118 गेंद में 17 चौकों की मदद से नाबाद 130 रन बनाए। दोनों ने पहले विकेट के लिए 285 रन की अटूट साझेदारी कर 57 गेंद शेष रहते कर्नाटक को 10 विकेट की प्रभावशाली जीत दिलाई। इससे पहले सलामी बल्लेबाज प्रथम सिंह की 129 रन की पारी के दम पर रेलवे ने 50 ओवर में नौ विकेट पर 284 रन का स्कोर खड़ा किया था।

इस जीत के साथ टीम ने ग्रुप सी तालिका में शीर्ष पर रहते हुए अंतिम आठ के लिए क्वालिफाई किया। उत्तर प्रदेश दूसरे स्थान पर रहा। उत्तर प्रदेश ने ओडिशा को छह विकेट से शिकस्त दी। ग्रुप के तीसरे मैच में उत्तर प्रदेश ने ओडिशा को 148 रन आउट कर 21.4 ओवर में चार विकेट के नुकसान पर 150 रन बनाकर जीत दर्ज की।

ग्रुप के दूसरे मैच में केरल ने बिहार को नौ विकेट से हराया। केरल ने बिहार की पारी को 148 रन पर समेटने के बाद महज 8.5 ओवर में एक विकेट के नुकसान पर लक्ष्य हासिल कर लिया। केरल के लिए श्रीसंत ने चार विकेट लिये जबकि रोबिन उथप्पा ने 10 छक्के और चार चौकों की मदद 32 गेंद में 87 रन की नाबाद पारी खेली।

सूरत (Surat) में कामराज (Kamrej) स्थित खोलवाड जिमखाना ग्राउंड (Kholvad Gymkhana Ground) पर खेले गए ग्रुप ए (Group A) के मैच में छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) ने त्रिपुरा के खिलाफ टॉस जीता और गेंदबाजी का फैसला किया। उसका यह फैसला सही साबित हुआ और त्रिपुरा की पूरी टीम 48.4 ओवर में 230 रन पर पवेलियन लौट गई।

त्रिपुरा की ओर से समर्थ सिंघा (Samrat Singha) ने 17 चौके और 2 छक्के की मदद से 88 गेंद में 102 रन बनाए। मिलिंद कुमार ने भी 3 चौके और 4 छक्के की मदद से 69 गेंद में 55 रन बना टीम को बड़े स्कोर तक पहुंचाने की कोशिश की, लेकिन दूसरी ओर से पर्याप्त सहयोग नहीं मिलने से सफल नहीं हो पाए। मिलिंद और समर्थ के अलावा त्रिपुरा की ओर से उदयन बोस और प्रत्यूष सिंह ही दहाई का आंकड़ा छू पाए।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी छत्तीसगढ़ ने 47.1 ओवर में 5 विकेट पर 233 रन बना मैच अपने नाम कर लिया। छत्तीसगढ़ की ओर से अमनदीप खरे (नाबाद 101 रन) के अलावा ऋषभ तिवारी ने 30, कप्तान हरप्रीत सिंह ने 24, आशुतोष सिंह ने 13, अजय जादव मंडल ने 14 और शशांक सिंह ने नाबाद 25 रन बनाए।

Next Stories
1 विजय हजारे ट्रॉफी के एक मैच में जमकर कूटे गए गेंदबाज; 4 बल्लेबाजों ने लगाए शतक, चौके-छक्के से ही ठोके 350+ रन
2 बिहार क्रिकेट एसोसिएशन ने बिना मंजूरी खिलाड़ियों को बेचा, वर्ल्ड कप चैंपियन गेंदबाज भी थे नीलामी में मौजूद
3 Vijay Hazare Trophy: आंध्र नॉकआउट में पहुंचा, इशान किशन फिर फेल; पीयूष चावला की खतरनाक गेंदबाजी
ये पढ़ा क्या?
X