ताज़ा खबर
 

ड्रेसिंग रूम में खिलाड़‍ियों को क्‍या ‘ज्ञान’ देते हैं महेद्र सिंह धोनी, जडेजा ने खोले राज

चेन्नई सुपर किंग्स के लिए अभी तक यह सीजन शानदार रहा है। टीम ने 10 में से 7 मुकाबलों में जीत हासिल की है और प्वॉइंट्स टेबल पर नंबर दो पर स्थित है। यहां से एक जीत और चेन्नई को प्लेऑफ में जगह दिलाने के लिए काफी होगी। चेन्नई को आने वाले चार मुकाबलों में से एक में जीत दर्ज करना है। हालांकि, टीम की कोशिश टूर्नामेंट के खत्म होने तक ज्यादा से ज्यादा मैच जीतकर टॉप पर रहने की होगी।

चेन्नई सुपर किंग्स की टीम और रविंद्र जडेजा।

चेन्नई सुपर किंग्स के ऑलराउंडर खिलाड़ी रविंद्र जडेजा का फॉर्म इस सीजन कुछ खास नहीं रहा है। रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ शानदार प्रदर्शन करने के बाद जडेजा के अंदर आने वाले मैचों में भी बेहतर प्रदर्शन करने का कॉन्फिडेंश जरूर बढ़ा होगा। जडेजा ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया कि ड्रेसिंग रूम में खिलाड़‍ियों के साथ कप्तान महेंद्रे सिंह धोनी किस तरह अपना टाइम स्पेंड करते हैं। टीम के लिए माही का मंत्रा क्या है? इसके बारे में जडेजा ने बात करते हुए कहा. ”धोनी कभी भी हार या जीत का क्रेडिट किस एक खिलाड़ी को नहीं देते। अगर किसी खिलाड़ी का फॉर्म नहीं है और वह उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पा रहा है तो धोनी कभी उसे दोषी नहीं ठहराते बल्कि वह आने वाले मैचों में उसे बेहतर करने की प्रेरणा देते हैं। धोनी हमेशा से ही पूरी टीम की जिम्मेदारी और परफॉरमेंस में विश्वास रखते हैं। रिजल्ट चाहे जैसा भी हो वह उसके लिए पूरी टीम को जिम्मेदार ठहराते हैं”।

HOT DEALS
  • Apple iPhone 6 32 GB Gold
    ₹ 25900 MRP ₹ 29500 -12%
    ₹0 Cashback
  • Moto Z2 Play 64 GB Fine Gold
    ₹ 16230 MRP ₹ 29999 -46%
    ₹2300 Cashback
IPL 2018: चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (एपी फोटो)

जडेजा ने कहा, ”धोनी ड्रेसिंग रूम में भी कभी खिलाड़ी को किसी चीज के लिए प्रेशराइज नहीं करते। धोनी हमेशा खिलाड़ियों को मोटिवेट करते हैं, खासतौर पर युवा खिलाड़ियों को धोनी अधिक से अधिक समय देते हैं ताकी उनका कॉन्फिडेंश बढ़े और वो बेहतर प्रदर्शन कर सकें”। बता दें कि रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ जडेजा ने अपनी गेंदबाजी से चेन्नई को जीत दिलाने में अहम योगदान दिया था। साल 2015 के बाद इस मैच में जडेजा ”मैन ऑफ द मैच” भी चुने गए।

चेन्नई सुपर किंग्स के लिए अभी तक यह सीजन शानदार रहा है। टीम ने 10 में से 7 मुकाबलों में जीत हासिल की है और प्वॉइंट्स टेबल पर नंबर दो पर स्थित है। यहां से एक जीत और चेन्नई को प्लेऑफ में जगह दिलाने के लिए काफी होगी। चेन्नई को आने वाले चार मुकाबलों में से एक में जीत दर्ज करना है। हालांकि, टीम की कोशिश टूर्नामेंट के खत्म होने तक ज्यादा से ज्यादा मैच जीतकर टॉप पर रहने की होगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App