ताज़ा खबर
 

रवि शास्त्री सही समय पर टीम इंडिया से जुड़े: विजय

टेस्ट सलामी बल्लेबाज मुरली विजय ने टीम का मनोबल बढ़ाने के लिये टीम निदेशक रवि शास्त्री की तारीफ करते हुए कहा कि इस पूर्व ऑलराउंडर ने सही समय पर.

Author नई दिल्ली | September 19, 2015 1:14 PM

टेस्ट सलामी बल्लेबाज मुरली विजय ने टीम का मनोबल बढ़ाने के लिये टीम निदेशक रवि शास्त्री की तारीफ करते हुए कहा कि इस पूर्व ऑलराउंडर ने सही समय पर भारतीय क्रिकेट ड्रेसिंग रूम में प्रवेश किया।

श्रीलंका के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच की दूसरी पारी में 82 रन की महत्वपूर्ण पारी खेलने वाले विजय ने कहा कि शास्त्री, सहायक कोच संजय बांगड़, गेंदबाजी सलाहकार भरत अरूण और क्षेत्ररक्षण कोच आर श्रीधर ने टीम में स्वस्थ माहौल तैयार करने में अहम भूमिका निभायी। इन चारों का हाल में कार्यकाल बढ़ाया गया था।

विजय ने ईएसपीएनक्रिकइन्फो से कहा, ‘‘उन्होंने ड्रेसिंग रूम में अच्छा माहौल पैदा करने में वास्तव में हमारी मदद की क्योंकि मेरा मानना है कि मैदान पर अच्छा प्रदर्शन करने के लिये आपका ड्रेसिंग रूम के अंदर सहज रहना जरूरी है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘रवि भाई का खिलाड़ियों का मनोबल बनाये रखने का अपना अंदाज है। वह खिलाड़ी को आत्मविश्वास से लबरेज कर देते हैं और खिलाड़ी को ऊर्जावान बना देते हैं। मुझे लगता है कि वह सही समय पर टीम से जुड़े। सब कुछ अब सही ढर्रे पर चल रहा है। बी अरूण और आर श्रीधर भी अच्छी भूमिका निभा रहे है। सभी हमें सर्वश्रेष्ठ माहौल देने के लिये अपनी तरफ से सर्वश्रेष्ठ प्रयास कर रहे हैं।’’

श्रीलंका दौरे में विजय की भूमिका पी सारा ओवल में खेले गये दूसरे टेस्ट मैच तक सीमित रही, क्योंकि वह हैमस्ट्रिंग में खिंचाव के कारण पहले और तीसरे टेस्ट में नहीं खेल पाये। यह 31 वर्षीय खिलाड़ी हालांकि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ श्रृंखला से पहले अपनी फिटनेस पर काम कर रहा है।

विजय ने कहा, ‘‘असल में मैं (दक्षिण अफ्रीकी श्रृंखला को लेकर) काफी उत्साहित हूं और अभी मैं केवल अपनी फिटनेस पर ध्यान केंद्रित कर रहा हूं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं अपने रिहैबिलिटेशन पर काम कर रहा हूं। पिछले तीन सप्ताह काफी अच्छे रहे और अब मैं बहुत अच्छी स्थिति में हूं। मैं अभी सही दिशा में आगे बढ़ रहा हूं और मैं इसको लेकर खुश हूं। मैं बहुत आगे की नहीं सोच रहा हूं क्योंकि टेस्ट श्रृंखला शुरू होने में अभी डेढ़ महीने का समय बचा है।’’

भारत के शीर्ष क्रम में हाल में काफी प्रतिस्पर्धा देखी गयी। विजय, शिखर धवन, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, रोहित शर्मा और केएल राहुल सभी ने अंतिम एकादश में जगह के लिये मजबूत दावा पेश किया है। अब तक 33 टेस्ट मैच खेलने वाले विजय हालांकि इस प्रतिस्पर्धा को लेकर परेशान नहीं हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘यह अविश्वसनीय है क्योंकि हर कोई प्रतिभाशाली है। यह स्वस्थ प्रतिस्पर्धा है। मैंने कभी इस तरह से नहीं सोचा। यदि शिखर रन बनाता है तो मैं उसे श्रेय दूंगा और उससे कहूंगा कि तुमने बहुत अच्छी बल्लेबाजी की। वह भी ऐसा करता है। ऐसा कुछ भी नहीं कि तुमने 150 रन बनाये तो मैं 180 रन बनाऊंगा। यह एक साथ आगे बढ़ना और टीम के लिये काम करने से जुड़ा है।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App