रमीज राजा ने पीसीबी अध्यक्ष का पद संभालते ही लिए 2 बड़े फैसले, कहा- मैच गंवाने के लिए भी तैयार रहें खिलाड़ी

रमीज से भारत और पाकिस्तान के बीच टी20 विश्व कप में दुबई में 24 अक्टूबर को होने वाले मैच के बारे में भी पूछा गया। उन्होंने कहा, ‘जब मैं पाकिस्तानी टीम के खिलाड़ियों से मिला तो उनसे कहा कि इस बार समीकरण बदलने चाहिए।’

Ramiz Raja former Pakistan cricketer and chairman of Pakistan Cricket Board
पूर्व कप्तान रमीज राजा ने सोमवार यानी 13 सितंबर 2021 को आधिकारिक रूप से पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के चेयरमैन पद की कमान संभाली। (सोर्स- एपी)

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान रमीज राजा ने सोमवार यानी 13 सितंबर 2021 को आधिकारिक रूप से अपने देश के क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष की कमान संभाली। उनको सर्वसम्मति से पीसीबी (पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड) का अध्यक्ष चुना गया। उन्होंने एहसान मनी की जगह ली और अगले तीन साल तक यह पद संभालेंगे।

रमीज राजा ने पद संभालते ही पाकिस्तान क्रिकेट टीम के लिए दो अहम फैसले लिए। उन्होंने आगामी टी20 विश्व कप के लिए ऑस्ट्रेलिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज मैथ्यू हेडन और दक्षिण अफ्रीका के पूर्व तेज गेंदबाज वर्नोन फिलैंडर को पाकिस्तान टीम का कोच नियुक्त किया। साथ ही निकट भविष्य में भारत के साथ द्विपक्षीय सीरीज की संभावनाओं को भी खारिज कर दिया।

हेडन और फिलैंडर की नियुक्ति मुख्य कोच मिस्बाह-उल-हक और गेंदबाजी कोच वकार यूनिस के अपने-अपने पदों से इस्तीफा देने के एक सप्ताह बाद हुई है। आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2021 संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) और ओमान में 17 अक्टूबर से 14 नवंबर तक खेला जाना है।

रमीज राजा दूसरी बार पीसीबी से जुड़े हैं। वह इससे पहले शहरयार खान के अध्यक्ष रहने के दौरान 2003-04 में पीसीबी के सीईओ की भूमिका निभा चुके हैं। रमीज राजा का नामांकन पाकिस्तानी प्रधानमंत्री और पीसीबी के मुख्य संरक्षक इमरान खान ने किया था।

पीसीबी अध्यक्ष का पद संभालने के बाद रमीज राजा ने वादा किया कि वह राष्ट्रीय कप्तान को और ज्यादा अधिकार देंगे। उन्होंने भारत के साथ द्विपक्षीय सीरीज की बहाली को लेकर भी बात की। साथ ही माना कि पीसीबी का अध्यक्ष पद क्रिकेट की सबसे मुश्किल भूमिकाओं में से एक है।

उन्होंने कहा, ‘यह बहुत बड़ी चुनौती है। प्रधानमंत्री (इमरान खान) ने मुझे यह जिम्मेदारी सौंपने से पहले सभी पहलुओं पर गौर किया था।’ भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय सीरीज को लेकर उन्होंने कहा, ‘अभी यह असंभव है, क्योंकि राजनीति से खेलों पर बुरा प्रभाव पड़ा है। अभी यथास्थिति है। हम इस मामले में जल्दबाजी में भी नहीं हैं, क्योंकि हमें अपने घरेलू और स्थानीय क्रिकेट पर ध्यान केंद्रित करना है।’

रमीज से भारत और पाकिस्तान के बीच टी20 विश्व कप में दुबई में 24 अक्टूबर को होने वाले मैच के बारे में भी पूछा गया। उन्होंने कहा, ‘जब मैं पाकिस्तानी टीम के खिलाड़ियों से मिला तो उनसे कहा कि इस बार समीकरण बदलने चाहिए। इस मैच के लिए टीम को शत प्रतिशत तैयार रहना चाहिए। इसमें उन्हें अच्छा प्रदर्शन करना चाहिए।’

पीसीबी अध्यक्ष चाहते हैं कि राष्ट्रीय क्रिकेटर बेपरवाह क्रिकेट खेले। उन्होंने कहा, ‘हमें समस्याओं का सामना करने और मैच गंवाने के लिए भी तैयार रहना चाहिए। मैंने खिलाड़ियों से कहा कि उन्हें टीम में अपने स्थान को लेकर चिंता नहीं करनी चाहिए और निर्भीक होकर खेलना चाहिए।’

विश्व कप 1992 विजेता टीम के सदस्य रहे रमीज से पहले अब्दुल हफीज कारदार (1972 से 1977), जावेद बुर्की (1994 से 1995) और एजाज बट (2008 . 2011) पीसीबी के अध्यक्ष पद पर काबिज होने वाले पूर्व क्रिकेटर हैं। रमीज राजा ने 1984 से 1997 के बीच पाकिस्तान के लिए 205 से अधिक मैच खेले। इसमें उनके नाम 8674 रन हैं।

पढें खेल समाचार (Khel News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट