ताज़ा खबर
 

पूर्व दिग्‍गज क्रिकेटर ने युजवेंद्र चहल को दी सलाह, इस बॉल से खेलो ज्‍यादा क्रिकेट

भारत ए के कोच और पूर्व क्रिकेटर राहुल द्रविड़ का मानना है कि चहल जितना अधिक लाल गेंद से क्रिकेट खेलेंगे वह उतना अधिक अनुभव हासिल करेंगे।

Author August 8, 2018 10:54 AM
राहुल द्रविड ने युजवेंद्र चहल को रेड बॉल से खेलने की दी सलाह (Photo source: PTI)

भारत ए के कोच और पूर्व क्रिकेटर राहुल द्रविड़ का मानना है कि सीमित ओवरों में बेहद सफल लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल को लंबे प्रारूप में अनुभव हासिल करने के लिये इस प्रारूप में अधिक क्रिकेट खेलनी चाहिए। पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा कि इस लेग स्पिनर के पास कौशल है और इसलिए उन्हें दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वर्तमान ‘ए’ श्रृंखला में खुद को साबित करने का मौका दिया गया है।

द्रविड़ ने कहा, ‘‘चहल में भारतीय चयनकर्ता काफी दिलचस्पी ले रहे हैं और वे देखना चाहते हैं कि लाल गेंद से क्रिकेट खेलने पर वह कैसा प्रदर्शन करते हैं क्योंकि उसने अब तक इस तरह की क्रिकेट कम खेली है। इसलिए अच्छा है कि हमने उसे कुछ मौके दिये और उनके परिणाम अच्छे आये। इसलिए चहल जितना अधिक लाल गेंद से क्रिकेट खेलेंगे वह उतना अधिक अनुभव हासिल करेंगे। इसमें कोई संदेह नहीं है कि उसके पास कौशल है लेकिन उसे अधिक से अधिक मैच खेलने की जरूरत है।’’ इस दिग्गज बल्लेबाज ने भारत ए की दक्षिण अफ्रीका ए पर पारी और 30 रन से जीत के बाद मयंक अग्रवाल और पृथ्वी साव की भी तारीफ की।

 

द्रविड़ ने मैच के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘‘पिछले एक साल से उन्होंने अपने प्रदर्शन से दिखाया है कि वे बहुत अच्छी क्रिकेट खेल रहे हैं। उन्हें एक खिलाड़ी के रूप में आगे बढ़ते हुए देखना अच्छा है। मौका है या नहीं यह फैसला करना मेरा काम नहीं है लेकिन वे वास्तव में अच्छा खेल रहे हैं। इस मैच में मयंक अग्रवाल का प्रदर्शन बेजोड़ था और पृथ्वी हर स्तर पर लगातार सुधार कर रहा है। ’’ वहीं, इससे पहले भारत ए के कप्तान श्रेयस अय्यर ने कहा कि लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल की लाल गेंद के क्रिकेट में वापसी से उनकी टीम को दक्षिण अफ्रीका ए के खिलाफ होने वाले पहले टेस्ट में काफी मदद मिलेगी। चहल लंबे समय बाद लाल गेंद से क्रिकेट खेलेंगे। टीम में लेग स्पिनर की मौजूदगी हमेशा लाभकारी होती है। साथ ही वे किसी भी समय विकेट हासिल कर सकते हैं। इस पिच पर काफी टर्न देखने को मिलेगा, इससे चहल बेहतर प्रदर्शन कर सकेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App