scorecardresearch

Rahul Dravid: रविचंद्रन अश्विन ने किया राहुल द्रविड़ का बचाव, विदेशी लीग के मुद्दे पर भी हेड कोच को मिला रवि शास्त्री और जहीर खान का साथ

T20 विश्व कप में भारत के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद अनिल कुंबले और वसीम अकरम जैसे अनुभवी क्रिकेटर्स ने कहा था कि BCCI को अपने क्रिकेटर्स को विदेशी लीगों में खेलने की मंजूरी देने की जरुरत है।

Rahul Dravid: रविचंद्रन अश्विन ने किया राहुल द्रविड़ का बचाव, विदेशी लीग के मुद्दे पर भी हेड कोच को मिला रवि शास्त्री और जहीर खान का साथ
जहीर खान, रविचंद्रन अश्विन, राहुल द्रविड़ और रवि शास्त्री।

Ravichandran Ashwin Comes To The Defence Of Rahul Dravid: रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने हेड कोच (Head Coach) राहुल द्रविड़ के न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज के लिए ब्रेक लेने के फैसले का बचाव किया है। दरअसल, भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कोच रवि शास्त्री ने राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) की अगुआई वाले सपोर्ट स्टाफ के ब्रेक लेने पर आलोचना की थी।

अब टीम इंडिया (Indian Cricket Team) के स्टार स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने न सिर्फ द्रविड़ का बचाव किया है, बल्कि वीवीएस लक्ष्मण को कोच बनाए जाने का कारण भी बताया है। हालांकि, रवि शास्त्री (Ravi Shastri) और टीम इंडिया (Team India) के पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान (Zaheer Khan) ने विदेशी लीग में भारतीय खिलाड़ियों के नहीं खेलने वाले बयान पर राहुल द्रविड़ का समर्थन किया है।

टी20 विश्व कप 2022 में भारत के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद वसीम अकरम, अनिल कुंबले, स्टीफन फ्लेमिंग और टॉम मूडी जैसे अनुभवी क्रिकेटर्स ने कहा था कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को भारतीय क्रिकेटर्स को विदेशी लीगों में खेलने की मंजूरी देने की जरुरत है। इस बारे में पूछने पर राहुल द्रविड़ ने कहा था, ‘विदेशी की टी20 लीगों में कोई भारतीय नहीं है, इसे लेकर कई बार सवाल उठाए जा चुके हैं। हमें इस मामले में बहुत सावधान रहने की जरुरत है।’

राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) ने कहा था, ‘बहुत से खिलाड़ियों को घरेलू सीजन के बीच में विदेशी लीग में खेलने के लिए कहा जा रहा है। यदि भारतीय क्रिकेटर्स को विदेशी लीगों में खेलने की मंजूरी मिली तो इससे हमारा घरेलू ढांचा चरमरा जाएगा। हर कोई जानता है कि वेस्टइंडीज क्रिकेट के साथ क्या हुआ। ऐसे में मैं बिल्कुल नहीं चाहूंगा कि भारतीय क्रिकेट भी उसी नक्शे कदम पर चले।’

ईएसपीएनक्रिकइंफो के अनुसार, रवि शास्त्री ने कहा, ‘भारतीय खिलाड़ियों (Indian Players) को विदेशी लीग में खेलने की जरुरत नहीं है। वे इंडियन प्रीमियर लीग (Indian Premier League) खेल रहे और घरेलू क्रिकेट पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। हम चाहते हैं कि वे भारत में ही घरेलू क्रिकेट खेलें। सभी खिलाड़ियों के लिए सिस्टम को समझने और मौका पाने के लिए घरेलू क्रिकेट पर्याप्त है। इसके अलावा और भी बहुत सारे अन्य दौरे मिलते हैं।’

जहीर खान ने प्राइम वीडियो (Prime Video) के साथ बातचीत में कहा, ‘हमारे पास जब इतना मजबूत ढांचा है तो फिर खिलाड़ियों को कहीं और जाने की क्या जरुरत है? इस वक्त भारत की ताकत काफी बढ़ चुकी है। हमारे पास अच्छे खिलाड़ी तैयार करने के लिए पर्याप्त साधन हैं। हम एक साथ 3 टीमें मैदान में उतार सकते हैं। वे किसी भी स्तर पर प्रतिस्पर्धा करने में सक्षम हैं।’

ब्रेक लेने के मुद्दे पर रविचंद्रन अश्विन ने यूट्यूब (YouTube) चैनल पर कहा, ‘वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman) पूरी तरह से अलग टीम के साथ वहां गए हैं। राहुल द्रविड़ और उनकी टीम ने टी20 विश्व कप से पहले योजना बनाने से लेकर कड़ी मेहनत की थी। मैंने इसे करीब से देखा था।’

अश्विन ने कहा, ‘उनके (राहुल द्रविड़) पास हर मैच और टीम के लिए योजनाएं थीं। यही वजह है कि वह न केवल मानसिक, बल्कि शारीरिक रूप से भी थके हुए थे। सभी को ब्रेक (Break) की जरुरत होती है। न्यूजीलैंड सीरीज होने के बाद हम बांग्लादेश दौरे पर जाएंगे। वहां लक्ष्मण नहीं होंगे।’

पढें खेल (Khel News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 19-11-2022 at 04:33:40 pm
अपडेट