ताज़ा खबर
 

जब राहुल द्रविड़ के लिए मुसीबत बनी थी फीमेल फैन, घर वापिस जाने से कर दिया था इंकार

भारत में क्रिकेटर्स को फैंस काफी चाहते हैं। उनकी पूजा तक करते हैं, लेकिन कुछ फैंस हद से इतना आगे बढ़ जाते हैं कि वे अपने आदर्श के लिए मुश्किलें खड़ी करने लगते हैं। द्रविड़ के साथ भी एक बार ऐसा ही हुआ था।

Edited By rohit नई दिल्ली | Updated: February 2, 2021 8:48 AM
पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ वर्तमान में नेशनल क्रिकेट एकेडमी के प्रमुख हैं। (सोर्स – youtube/Viu India)

राहुल द्रविड़ को भारतीय क्रिकेट के सबसे शांत और धैर्यवान खिलाड़ियों में शामिल किया जाता है। उन्हें कम ही मौकों पर गुस्से में देखा गया है। इसलिए फैंस भी उन्हें बेहद प्यार करते हैं। भारत में क्रिकेटर्स को फैंस काफी चाहते हैं। उनकी पूजा तक करते हैं, लेकिन कुछ फैंस हद से इतना आगे बढ़ जाते हैं कि वे अपने आदर्श के लिए मुश्किलें खड़ी करने लगते हैं। द्रविड़ के साथ भी एक बार ऐसा ही हुआ था। इस बारे में उन्होंने एक इंटरव्यू में खुलासा किया था।

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान द्रविड़ ने वीयू इंडिया यूट्यूब चैनल के शो ‘वाट द डक’ के लिए विक्रम साठये को दिए इंटरव्यू में इस बारे में विस्तार से बताया था। द्रविड़ ने कहा था, ‘‘मैं किसी लंबे दौरे से घर लौटा था। सुबह-सुबह आने के बाद दोपहर में सो गया था। शाम में मेरी नींद खुली तो मां ने कहा कि एक फैन तुम्हारा इंतजार कर रही है। वो हैदराबाद से आई थी। वो कई घंटों से मेरा इंतजार कर रही थी। वो बाहर थी तो मेरे पैरेंट्स ने उसे अंदर बुलाकर चाय और कॉफी भी दी थी। वो घर में अंदर बैठकर मेरा इंतजार कर रही थी।’’

द्रविड़ ने आगे सुनाया, ‘‘मुझे लगा कि नॉर्मल ऑटोग्राफ या फोटोग्राफ देना होगा। अमूमन ऐसा ही होता है। मैं वहां गया। उसे ऑटोग्राफ और फोटोग्राफ दिया। मैंने उससे पूछा- कैसी हो? आप हैदराबाद से आई हो। यह शानदार है। इसके बाद जाने से मना करने लगी। उसने कहा कि मैं हैदराबाद से घर-परिवार छोड़कर आई हूं। मैं यहां आपके साथ रहने आई हूं। मैं यहां से नहीं जाऊंगी। मैंने कहा कि तुम्हारे कहने का क्या मतलब है? यह कैसे संभव है?’’

द्रविड़ ने कहा था, ‘‘इसके बाद मेरे पैरेंट्स वहां आए। उन्हें इस बारे में जानकारी मिली। हमने पुलिस को बुलाया क्योंकि वो नहीं जाने की धमकी दे रही थी। फिर सबकुछ शांत हुआ। हमने उसके परिवारवालों को कॉल किया। अंत में वो चली गई। यह मेरे पैरेंट्स के लिए भी एक सीख थी कि किसी को भी घर में आने नहीं देना चाहिए। हालांकि, यह भी एक अच्छा अनुभव था। फैन फॉलोइंग सबको अच्छी लगती है।’’

Next Stories
1 India Vs England: BCCI ने फैंस को दी बड़ी खुशखबरी! चेन्नई में दूसरा टेस्ट देखने स्टेडियम जा सकते हैं दर्शक
2 BBL 10: ब्रिस्बेन हीट ने नॉकआउट में सिडनी थंडर को रौंदा, ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज का तूफानी अर्धशतक; क्रिस लिन की टीम लगातार चौथे मैच में जीती
3 India vs England: विराट कोहली तोड़ सकते हैं महेंद्र सिंह धोनी का बड़ा रिकॉर्ड, क्लाइव लॉयड को भी पीछे छोड़ने का मौका
यह पढ़ा क्या?
X