पीवी सिंधु ने टोक्यो ओलंपिक में जीता ब्रॉन्ज, ओलंपिक के इतिहास में ऐसा करने वाली बनीं पहली भारतीय महिला खिलाड़ी

भारत की स्टार महिला शटलर पीवी सिंधु ने ब्रॉन्ज मेडल मैच में चीन की ही बिंगजियाओ को हराकर भारत के लिए टोक्यो ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीत लिया है। मीराबाई चानू के सिल्वर के बाद भारत का ये दूसरा मेडल है । इसी के साथ टोक्यो ओलंपिक में भारत के तीन मेडल पक्के हो गए हैं।

tokyo olympics, tokyo olympics 2021, tokyo olympics 2020, tokyo olympics 2021 live, tokyo olympics india 2021, tokyo olympics 2020 india, tokyo olympics 2020 schedule, olympics, olympics 2021, olympics 2020, olympics 2021 schedule, olympics opening ceremony, india at olympics, india at olympics 2020, india at olympics 2021, india at olympics 2021 schedule, india at olympics 2020 schedule, india at olympics fixtures, india at olympics matches schedule, india at olympics teams
पीवी सिंधु ने टोक्यो ओलंपिक में जीता ब्रॉन्ज, ऐसा करने वाली बनीं पहली भारतीय महिला खिलाड़ी (Source: Twitter And PTI)

भारत की स्टार शटलर पीवी सिंधु ने टोक्यो ओलंपिक में इतिहास रचते हुए भारत के लिए ब्रॉन्ज मेडल जीत लिया है। शनिवार को सेमीफाइनल में विश्व नंबर एक ताइ जू यिंग से हारने के बाद रविवार को सिंधु ने ब्रॉन्ज मेडल के मुकाबले में चीन की ही बिंगजियाओ को 21-13,21-15 से सीधे सेटों में मात दी। इसी के साथ टोक्यो ओलंपिक में भारत का ये दूसरा विजयी मेडल है और तीसरा पदक है जो पक्का हुआ है।

ब्रॉन्ज मेडल के लिए हुए इस मुकाबले में चीनी खिलाड़ी का भारतीय शटलर के ऊपर पलड़ा भारी था। लेकिन सेमीफाइनल में मिली हार से उबरकर सिंधु ने शानदार खेल दिखाते हुए लगातार अपना दूसरा ओलंपिक मेडल जीता है। ऐसा करने वाली वे पहली भारतीय महिला बन गईं हैं। इससे पहले एकल स्पर्धा में भारत के लिए सिर्फ सुशील कुमार ने 2008 में कांस्य और 2012 में रजत पदक जीतकर लगातार दो मेडल अपने नाम किए थे।

इससे पहले मीराबाई चानू ने पहले दिन ही इतिहास रचते हुए वेटलिफ्टिंग में भारत को सिल्वर मेडल दिलाया था। इसके बाद महिला मुक्केबाज लवलीना बोरगोहेन ने सेमीफाइनल में पहुंचकर भारत का दूसरा मेडल पक्का कर दिया था। अब सिंधु ने ब्रॉन्ज मेडल जीतकर भारत को रियो ओलंपिक से ज्यादा तीन मेडल दिलवा दिए हैं।


आपको बता दें सिंधु ने रियो ओलंपिक में भी भारत के लिए सिल्वर मेडल जीता था और उनके अलावा रेसलर साक्षी मलिक ने कांस्य पदक अपने नाम किया है। इसी के साथ टोक्यो ओलंपिक में भारत रियो की पदक तालिका से आगे निकलते हुए तीन मेडल पक्के कर चुका है।
अब पूरे देश को उम्मीद है भारतीय रेसलर जिनके मुकाबले अभी शुरू होने हैं और भारतीय हॉकी टीम से। उम्मीदें लगाई जा रही हैं कि इस बार भारत कम से कम 5-6 पदक जीतेगा।

गौरतलब है सेमीफाइनल मुकाबले में सिंधु को विश्व नंबर एक चीनी ताइपे की ताइ जू यिंग से हार का सामना करना पड़ा था। इस हार के बार भारत की टोक्यो ओलंपिक में सिल्वर या गोल्ड की उम्मीदें टूट गई थीं। लेकिन सिंधु ने आज ब्रॉन्ज जीतकर देश के इस घाव को भर दिया है।

पढें खेल समाचार (Khel News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट