ताज़ा खबर
 

सिंधू मलेशिया मास्टर्स के फाइनल में, श्रीकांत हारे

पीवी सिंधू ने शनिवार को यहां शीर्ष वरीयता प्राप्त कोरियाई खिलाड़ी जी ह्यून सुंग को हराकर 120,000 डालर इनामी मलेशिया मास्टर्स ग्रां प्री गोल्ड बैडमिंटन टूर्नामेंट के महिला एकल के फाइनल में प्रवेश किया।

Author पेनांग (मलेशिया) | January 24, 2016 00:39 am
बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू (फाइल फोटो)

भारतीय शटलर पीवी सिंधू ने शनिवार को यहां शीर्ष वरीयता प्राप्त कोरियाई खिलाड़ी जी ह्यून सुंग को हराकर 120,000 डालर इनामी मलेशिया मास्टर्स ग्रां प्री गोल्ड बैडमिंटन टूर्नामेंट के महिला एकल के फाइनल में प्रवेश किया। हालांकि भारत के शीर्ष और दुनिया में नौवें नंबर के खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत को सेमीफाइनल में अपने से बहुत नीचे के रैंकिंग के मलेशियाई खिलाड़ी से हार का सामना करना पड़ा। सिंधू ने सेमीफाइनल में विश्व में आठवीं रैंकिंग की कोरियाई खिलाड़ी को एक घंटे नौ मिनट तक चले मैच में 21-19 12-21 21-10 से हराया। इससे विश्व में 12वें नंबर की भारतीय खिलाड़ी अपने पांचवें ग्रां प्री टूर्नामेंट खिताब के करीब पहुंच गई है।

इस मैच से पहले इन दोनों खिलाड़ियों के बीच आपस में रिकार्ड 2-2 से बराबरी पर था। पहले गेम में दोनों ने एक दूसरे को बराबरी की टक्कर दी और एक समय स्कोर 11-11 से बराबरी पर था। इसके बाद सिंधू ने लगातार सात अंक बनाए और फिर पहला गेम अपने नाम किया। सिंधू हालांकि दूसरे गेम में यह लय बरकरार नहीं रख पाईं और कोरियाई खिलाड़ी ने इसमें जीत दर्ज करके मैच को बराबरी पर ला दिया। सिंधु ने हालांकि तीसरे और निर्णायक गेम में बेहतरीन खेल दिखाया। शुरू में स्कोर 3-3 से बराबरी पर था। इसके बाद भारतीय खिलाड़ी ने लगातार सात अंक बनाए और फिर आखिर तक अपनी बढ़त कायम रखी।

भारत के शीर्ष पुरुष खिलाड़ी और दुनिया के नंबर नौ किदांबी श्रीकांत को हालांकि सेमीफाइनल में दुनिया के 51वें नंबर के खिलाफ इसकंदर जुल्करनैन के खिलाफ शिकस्त का सामना करना पड़ा। मलेशिया के गैरवरीय खिलाड़ी ने भारत के दूसरे वरीय खिलाड़ी को अंतिम चार के मुकाबले में 48 मिनट में 27-25, 21-9 से हराया। जुल्करनैन को फाइनल में शीर्ष वरीय ली चोंग वेई और तीसरे वरीय टोमी सुगियार्तो के बीच होने वाले सेमीफाइनल के विजेता से भिड़ना होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App